मधेपुरा पुलिस की बड़ी कार्रवाई, ग्रामीण बैंक और पेट्रोल पंप लूटकांड में शामिल चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

मधेपुरा पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। श्रीपुर रौता स्थित उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में 29 नवंबर को हुई छह लाख की लूट मामले व बेलारी ओपी क्षेत्र स्थित पेट्रोल पंप पर हुई लूटकांड में सभी शामिल थे।

Abhishek KumarSat, 04 Dec 2021 05:18 PM (IST)
मधेपुरा पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है।

जागरण संवाददाता,मधेपुरा। जिले के कुमारखंड थाना अंतर्गत श्रीपुर रौता स्थित उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में 29 नवंबर को हुई छह लाख की लूट मामले व बेलारी ओपी क्षेत्र स्थित पेट्रोल पंप पर हुई लूटकांड में संलिप्त चार बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लूट के दोनों मामले का खुलासा कर लिया है। गिरफ्तार बदमाशों के पास से पुलिस ने लूट का 76 हजार रुपया और एक कट्टा भी बरामद किया है।

बदमाशों ने स्वीकार की लूटकांड में अपनी संलिप्ता

पुलिस के पूछताछ में गिरफ्तार बदमाशों ने उक्त दोनों लूट की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि 29 नवंबर को कुमारखंड में हुई बैंक लूट और बेलारी ओपी क्षेत्र में हुई पेट्रोल पंप लूट मामले में केस दर्ज होने के बाद बदमाश गिरोह की गिरफ्तारी को लेकर सदर एसडीपीओ अजय नारायण यादव के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। टीम में सर्किल इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार, कुमारखंड थानाध्यक्ष रूदल कुमार, शंकरपुर थानाध्यक्ष राज किशोर मंडल, बेलारी ओपीध्यक्ष त्रिलोकी नाथ शर्मा, भर्राही ओपीध्यक्ष श्रीकांत शर्मा व तकनीकी सेल के सिपाही को शामिल किया गया था।

पांच दिनों में हुआ खुलासा

गठित पुलिस टीम ने तकनीक के सहयोग से पांच दिनों के अंदर दोनों लूट कांड में शामिल चार बदमाशों को गिरफ्तार कर बैंक लूट और पेट्रोल पंप लूटकांड का खुलासा कर लिया। एसपी ने बताया कि पूछताछ में गिरफ्तार बदमाशों ने दोनों लूट कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर लिया। गिरफ्तार बदमाशों के पास से बैंक लूट का 76 हजार रुपया बरामद कर लिया गया है। उन्होंने बताया पुलिस टीम को सूचना मिली कि जमुआहा निवासी सुमित कुमार उर्फ अमित कुमार व श्रीनगर पररिया गांव निवासी रविकांत कुमार उर्फ राजा अपने दोस्तों के साथ बगबियानी चौक पर घूम रहा है। शंकरपुर थानाध्यक्ष दलबल के साथ मौके पर पहुंचे कि पुलिस को देख दोनों भागने लगा।

खदेड़कर दोनों को पुलिस टीम ने पकड़ लिया। गिरफ्तार दोनों लुटेरों के निशानदेही पर देवनारायण यादव के घर से एक कट्टा बरामद हुआ। उसके बाद पूछताछ में अमित कुमार ने लूट की घटना में शामिल अपने अन्य साथियों का नाम बताया। इसमें कोहवारा निवासी आकाश कुमार, लड्डू कुमार, बौआ उर्फ शशि कुमार, गौतम कुमार व रणधीर कुमार शामिल था। इसमें से गौतम कुमार व रणधीर कुमार को भी गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार चारों बदमाशों के पास से बैंक लूट का 76 हजार रुपया भी बरामद हुआ। गिरफ्तार रणधीर कुमार रौता उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में वर्ष 2013 से दैनिक वेतनभोगी के रूप में काम करता आ रहा है। लूट की घटना में उसी ने लाइनर का काम किया था। घटना में शेष बचे लुटेरों को भी बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एसपी ने बताया कि पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा। साथ ही गिरफ्तार लुटेरों को स्पीडी ट्रायल चलाकर बहुत जल्द सजा दिलाया जाएगा।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.