Bhagalpur Weather Update: समुद्री तट से आज टकराएगा जवाद चक्रवात, कटिहार-भागलपुर समेत पूर्वी बिहार में बारिश की संभावना

Bhagalpur Weather Update Today जवाद चक्रवात (Jawad Cyclone) आंध्र प्रदेश और ओडिशा के समुद्री तट से आज टकराएगा। इस चक्रवात का कई राज्यों में असर दिखेगा। भागलपुर समेत पूर्वी बिहार के कई जिलों में बारिश की संभावना है।

Shivam BajpaiSat, 04 Dec 2021 08:18 AM (IST)
बिहार में भी दिखाई देगा जवाद चक्रवात का असर।

आनलाइन डेस्क, भागलपुर। Jawad Cyclone In Bihar - शनिवार को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के समुद्र तट से जवाद चक्रवात टकराएगा। इसके चलते देश के कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना है। वहीं, बिहार में आंशिक रूप से इसका असर दिखाई देगा। मौसम के पूर्वानुमान के मुताबिक, बिहार के कई जिलों में हल्की बारिश होगी। लेकिन ठंड का मौसम है, तो इस बारिश के चलते तापमान में तेजी के साथ गिरावट दर्ज की जाएगी। 

तेजी से बदलेगा मौसम: जवाद के चलते ही तापमान में गिरावट आएगी, लिहाजा मौसम विज्ञानिक भी लोगो को सतर्क एवं सुरक्षित रहने को कहा है। वहीं किसानों को फसल बचाव को लेकर भी मोबाइल के माध्यम से जानकारी दी जा रही है। भागलपुर, कटिहार, बांका, जमुई, खगड़िया, अररिया, किशनगंज, सुपौल सीमवर्ती जिलों में तेजी के साथ मौसम बदलने की संभावना है। 

पिछली बार यास तूफान से फसल को काफी क्षति हुई थी। मौसम विज्ञानिक की मानें, तो तीन दिन मौसम में उतार चढ़ाव होगा। मौसम विज्ञानिक स्वीटी कुमारी ने बताया की चार दिसम्बर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। जिले में पांच व छह दिसम्बर को बारिश होने के साथ तापमान गिरने से ठंड बढ़ने की संभावना है।

क्या कहते हैं कृषि विज्ञानिक: कृषि विज्ञान केन्द्र के विज्ञानिक पंकज कुमार ने बताया कि चक्रवात तूफान की चेतावनी से किसानों को काफी सक्रिय रहने की जरूरत है। बताया कि बारिश के पहले बादल व ठंड बढ़ने से नमी युक्त मौसम में आलू की फसल में झुलसा रोग लगने की प्रबल संभावना रहती है। ऐसे में आलू की खेती करने वाले किसानों को काफी सजग रहते हुए फसल में ऐसे लक्षण दिखने पर तुरंत इसका उपचार करना जरूरी है।

उन्होंने बताया कि जो भी किसान गेहूं व मक्का की बुआई कर लिये हैं, वैसे किसान खेत में जलजमाव की संभावना को लेकर जलनिकासी की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने वैसे किसान जो रबी की खेती को लेकर बुआई करना चाहते हैं, उनसे अभी बुआई नहीं कर चक्रवात के बाद करने की बात कही।

'जवाद चक्रवात के शनिवार को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के समुद्र तट से टकराएगा। इससे बिहार के मौसम में बदलाव के साथ तापमान में भी गिरावट आएगी। बात करें कटिहार की तो यहां लगभग आधा दर्जन प्रखंडों मे हल्की बारिश होने की संभावना है। आम लोगों को इससे बचाव को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है।'- स्वीटी कुमारी, मौसम विज्ञानिक, कृषि विज्ञान केन्द्र, कटिहार

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.