Bhagalpur Coronavirus News Update : टीएमबीयू वीसी आवास, कार्यालय और परीक्षा विभाग में फैला संक्रमण, सभी कर्मचारियों की होगी जांच

भागलपुर में कोरोना संक्रमण विवि तक पहुंच चुका है।

भागलपुर में कोरोना संक्रमण विवि तक पहुंच चुका है। तीन कर्मी संक्रमित पाए गए हैं। इसमें दो तृतीय वर्गीय और एक चतुर्थवर्गीय कर्मी शामिल हैं। अब यहां के सभी कर्मियों की जांच की जाएगी। इसके लिए सीएस को पत्र लिखा गया है।

Abhishek KumarFri, 09 Apr 2021 03:40 PM (IST)

जागरण संवाददाता, भागलपुर। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय (टीएमबीयू) में कोरोना संक्रमण की चेन बढ़ती जा रही है। अब संक्रमण लालबाग स्थित कुलपति के आवास, प्रशासनिक भवन स्थित कुलपति कार्यालय और परीक्षा विभाग पहुंच गया। गुरुवार को तीनों जगहों के एक-एक कुल तीन कर्मी संक्रमित पाए गए हैं। इसमें दो तृतीय वर्गीय और एक चतुर्थवर्गीय कर्मी शामिल हैं। दो कर्मियों के संक्रमण का पता सीनेट हॉल में चल रहे कोरोना जांच के दौरान हुआ। दूसरे दिन 15 कर्मियों की जांच हुई।

टीएमबीयू में संक्रमितों की संख्या को बढ़ता देख अब कुलसचिव डॉ. निरंजन प्रसाद यादव ने सिविल सर्जन को पत्र लिख सभी कर्मियों के जांच का अनुरोध किया है। टीएमबीयू के पीआरओ डॉ. दीपक कुमार दिनकर ने बताया कि कुलसचिव ने पत्र में कहा है कि विश्वविद्यालय में करीब 250 कर्मी कार्यरत हैं। संक्रमण ना फैले इसके लिए उनकी जांच अनिवार्य है। इस संबंध में सिविल सर्जन के निर्देश के बाद विश्वविद्यालय में जांच शुरू होगी। फिलहाल कर्मियों की जांच डीएसडब्ल्यू डॉ. राम प्रवेश सिंह की निगरानी में हो रही है।

दो दिन पहले एक अधिकारी के संक्रमित होने के बाद विश्वविद्यालय में कोरोना जांच की व्यवस्था की गई। अधिकारी के संक्रमित होने के दूसरे दिन उनका सहायक समेत अन्य भी जांच में संक्रमित मिले। इसके बाद से विश्वविद्यालय में हड़कंप मचा हुआ है। विश्वविद्यालय में 50 प्रतिशत कर्मियों की उपस्थिति के निर्देश का पालन शुरू करा दिया गया है, ताकि भीड़ कम लगे। वहीं 10 अप्रैल को विश्वविद्यालय में छुट्टी दी गई है। जिससे संक्रमण का चेन रूक सके।

सन्हौला में एक वकील सहित दो कोरोना पॉजिटिव

सन्हौला में एक वकील सहित दो लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना से इलाके के लोगों में पुन: एक बार दहशत व्याप्त हो गया है।

जानकारी के मुताबिक महेशपुर पंचायत के एक वकील जो भागलपुर के हुसैनाबाद में रहकर वकालत करते थे। भागलपुर में ही उन्होंने कोरोना टेस्ट कराया था, जब उन्हें कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना मिली तो वह अपने घर महेशपुर आ गए। लेकिन परेशानी महसूस होने पर उन्होंने इसकी सूचना दुरभाष पर सन्हौला अस्पताल को दी। सन्हौला अस्पताल के स्वास्थ्यकर्मियों ने सूचना पाकर तत्काल आवश्यक दवा व किट उपलब्ध कराकर उसे भागलपुर जेएलएमसीएच भागलपुर जाने के लिए एंवुलेंस उपलब्ध कराया, लेकिन वे बुधवपार के रात्रि घर में ही रह गए, पुन: गुरुवार की सुबह वकील के शरीर में ज्यादा पीड़ा होने लगी तो उन्होंने इसकी जानकारी सन्हौला अस्पताल को दी।

सन्हौला अस्पताल कर्मियों ने वकील को एंबुलेंस से जेएलएमसीएच भागलपुर में भर्ती कराया है। जानकारी के मुताबिक वकील का एक पुत्र अमेरिका में रहकर डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहा था, जो अंतिम वर्ष में था, जिसकी मौत कोरोना से ही कुछ दिन पूर्व अमेरिका में हो गई थी। इसी पंचायत के एक और छात्र के कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना दो दिन पूर्व मिली थी, लेकिन हालत स्थिर होने के कारण उस छात्र को होम क्वारंटाइन में रखा गया है। प्रशासन व अस्पताल कर्मियों ने इस घटना से चौकसी बढ़ा दी है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.