Bhagalpur: स्मैक, ब्राउन सुगर का भंडारन करने वालों के खिलाफ चला रहा था अभियान, बदमाशों ने चला दी गोलियां

भागलपुर में बाइक से आए दो बदमाशों ने सुरखीकल में दिया वारदात को अंजाम बाल-बाल बचे प्रापर्टी डीलर। एक गोली दीवार पर जा लगी दूसरी भी नहीं छू सकी। पीडि़त विनीत ने दोनों बदमाशों को पहचान लेने का किया दावा।

Dilip Kumar ShuklaWed, 08 Dec 2021 09:31 PM (IST)
कुख्यात सूरज तांती और पियूष तांती को किया गया नामजद। बरारी पुलिस ने मौका-ए-वारदात से खोखा और पिलेट किए जब्त।

जागरण संवाददाता, भागलपुर। स्मैक, ब्राउन शुगर और नशीली दवाओं का भंडारण करने वाले जरायम पेशेवरों के खिलाफ मुहिम छेडऩे वाले सुरखीकल निवासी विनीत कुमार डब्बू पर बुधवार को बाइक से आए दो बदमाशों ने दो गोलियां दाग दीं। दागी गई पहली गोली दीवार और दूसरी गोली कहीं और जा लगी। इस बीच लोगों को जुटते देख बदमाश वहां से काली स्थान की तरफ भाग निकले। पीडि़त प्रापर्टी डीलिंग का काम भी काम करते हैं।

घटना की सूचना मिलते ही दारोगा राम सुमेर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। घटनास्थल से दगे कारतूस के खोखे और पिलेट बरामद किया गया है। विनीत ने दोनों बदमाशों को पहचान लेने का दावा करते हुए सूरज तांती और पियूष तांती को नामजद आरोपित बनाया है।

क्यों चिढ़े हैं जरायम पेशेवर

- विनीत ने 28 अगस्त 2021 को भारी मात्रा में नशीली टिकिया की बरामदगी जनसहयोग के माध्यम से कराई थी। - विनीत के सहयोग के कारण सरकारी बस डीपो में होने वाले अवैध शराब की बिक्री भी बंद हो चुकी है।

स्थानीय लोगों में आक्रोश

विनीत कुमार को बाइक से आए बदमाशों ने तब गोलियों से निशाना बनाने की कोशिश की जब वह अपने घर के सामने वाली सड़क पर पंकज चौधरी से बातचीत कर रहा था। तब साढ़े आठ बजे रहे थे। बातचीत के दौरान एक बाइक पर सूरज और पियूष वहां पहुंचे। पीडि़त ने बताया कि सूरज अपने हाथ में पिस्टल लिए हुए था। उसने पिस्टल से दो बार गोलियां चलाई। उसकी मंशा जान लेने की थी। विनीत किसी तरह हमले में बचते हुए तेजी से घर में घुस गया और अंदर से दरवाजा लगा लिया। इधर बरारी पुलिस कुख्यात सूरज और उसके सहयोगी हमलावर बदमाश की तलाश में छापेमारी कर रही है।

धूरी यादव समेत तीन हत्याकांडों में सूरज की भूमिका

विनीत पर गोलियां चलाने में जिस कुख्यात सूरज तांती का नाम सामने आया है, उसके विरुद्ध चार नवंबर 2019 की शाम हुए चर्चित चिरंजीवी यादव उर्फ धूरी यादव हत्याकांड समेत तीन हत्या, लूट आदि मामले दर्ज हैं। यहां के एसएसपी रहे आशीष भारती के कार्यकाल में सूरज तांती को धूरी यादव हत्याकांड में पांच जनवरी 2020 को गिरफ्तार किया गया था। जेल से निकलने के बाद वह फिर से आपराधिक वारदात में संलिप्त हो गया है। उसके विरुद्ध् मायागंज अस्पताल के समीप एक महिला की धारदार हथियार से गला काट कर हत्या करने, सरकारी बस डीपो में भी एक युवक की हत्या में संलिप्तता के साक्ष्य पुलिस ने जुटा रखा है।

बताया जा रहा है कि विनीत सुरखीकल मोहल्ले में स्मैक, ब्राउन शुगर और नशीली दवाओं का भंडारण करने वाले जरायम पेशेवरों के खिलाफ मोहल्ले के लोगों के सहयोग से मुहिम छेड़ रखी थी। उस दौरा 28 अगस्त 2021 को भारी मात्रा में नशीली टिकिया की बरामदगी जनसहयोग से बरारी पुलिस को कराया था। जिसको लेकर स्थानीय बदमाश काफी चिढ़े हुए हैं। विनीत की मौजूदगी और लोगों के सहयोग के कारण सरकारी बस डीपो में होने वाले अवैध शराब की बिक्री भी बंद हो चुकी है। बताया जा रहा है कि इसी बात को लेकर जरायम पेशेवरों में बेचैनी बनी हुई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.