गांधी जयंती 2021 को खुले अररिया के ब्लड बैंक ने बचाई 161 लोगों की जान, अपील- जरूर करें रक्तदान

अररिया के ब्लड बैंक से 161 लोगों की जान बचाई गई। जरूरत पड़ने पर हर किसी को रक्त दिया जा रहा है। विकट परिस्थितयों में ब्लड बैंक से उपलब्ध कराया जा रहा है ब्लड। इसी साल गांधी जयंती के दिन खुला था ब्लड बैंक।

Shivam BajpaiTue, 07 Dec 2021 09:28 AM (IST)
Blood Bank in Araria: इमरजेंसी सेवा- बचा रही लोगों की जान।

जागरण संवाददाता, अररिया : अररिया के ब्लड बैंक सेंटर से दर्जनों लोगों की जान बचाई गई है। जिले वासियों के लिए बड़ी उपलब्धि है। यह सेंटर लोगों की जान बचाने में मददगार साबित हो रहा है। इसी वर्ष गांधी जयंती को जिले में ब्लड बैंक की स्थापना हुई थी। तब से अबतक 161 लोगों की जान बचाने में वरदान साबित हुआ है।

193 यूनिट ब्लड संग्रहित: लैब टेक्नीशियन मो. अबरार ने बताया कि ब्लड बैंक ब्लड डोनेशन कैंप व समाजसेवियों की मदद से अभीतक 193 यूनिट ब्लड का संग्रहित हुआ। 161 यूनिट ब्लड जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया गया। इसमें 64 यूनिट ब्लड तो सिर्फ थैलेसीमिया के मरीजों को उपलब्ध कराया गया है। करीब 12 यूनिट ब्लड विभिन्न निजी क्लिनिक में इलाजरत मरीजों को दिया गया। शेष यूनिट ब्लड ऑपरेशन, एनीमिया के जटिल रोगियों का उपलब्ध कराया गया है।

निजी अस्पतालों को भी उपलब्ध कराया गया ब्लड : ब्लड बैंक के नोडल अधिकारी सह सदर अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डा. राजेंद्र कुमार ने बताया कि ब्लड बैंक के माध्यम से सरकारी अस्पतालों के साथ साथ निजी अस्पताल में इलाजरत मरीजों को भी ब्लड मुहैया करायी जा रही है। 300 यूनिट क्षमता वाले ब्लड बैंक से अब तक 12 यूनिट ब्लड निजी अस्तपालों को दिया गया है। निजी अस्पताल को निर्धारित शर्त पर ब्लड दिया जाता है। निजी अस्पताल में इलाजरत मरीज के लिए ब्लड का डिमांड करने पर पहले उसे आवश्यक ब्लड की तुलना में उतना ही यूनिट ब्लड बैंक को डोनेट करना होता है। साथ ही पांच रुपये निर्धारित शुल्क भी अदा करना होता है।

मुफ्त में उपलब्ध कराया जाता ब्लड : अधीक्षक ने कहा कि सरकारी अस्पताल में भर्ती मरीजों को सिर्फ ब्लड डोनेट करना होता है। उनसे किसी तरह का कोई शुल्क नहीं लिया जाता। उन्होंने बताया कि गंभीर रोग से पीडि़त मरीज, बुजुर्ग, असहाय, प्रसव के जटिल मामले व दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल मरीजों को बिना शर्त ब्लड उपलब्ध कराया जाता है।

लोगों से की अपील : अधीक्षक ने आम जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि बढ़ चढ़ ब्लड डोनेशन में भाग लें। ताकि आपके ब्लड से किसी की जान बचाई जा सके। बैंक में हमेशा सभी समूह के रक्त की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए रक्तदान विशेष महत्व रखता है ।

उपलब्ध 34 यूनिट ब्लड

ए पजिटिव - 07 यूनिट ए प्लस - 02 यूनिट बी प्लस - 13 यूनिट ओ पाजिटिव - 12 यूनिट

रक्त दान के फायदे

चिकित्सक ने कहा कि बल्ड दान करने से 90 फीसदी दिल का दौरा पड़ने की संभावना कम होती है। ब्लड प्रेशर नार्मल रहता है। लिवर अच्छा व मजबूत बनता है। ब्लड कैंसर का भी खतरा कम होता है।

कौन कर सकता है रक्तदान

18 से 55 साल उम्र के तमाम, लोग जिनका वजन कम से कम 50 किलो है उसे रक्त दान करना चाहिए। साथ ही हर व्यक्ति तीन महीने में एक बार रक्तदान करना चाहिए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.