दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Appointment of teachers in Bihar: सरकारी स्कूलों में नहीं होगा शिक्षकों का टोटा, नियुक्ति की कवायद शुरू, जानिए प्रक्रिया

बिहार में शिक्षकों की होगी शीघ्र नियुक्ति।

Appointment of teachers in Bihar विषयवार हर स्कूलों में नियुक्त किए जाएंगे गुरुजी। माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने प्रत्‍येक जिला जिला शिक्षा पदाधिकारी से मांगी सूची। कई स्कूलों में तो कई विषयों के एक भी शिक्षक ही नहीं हैं।

Dilip Kumar ShuklaThu, 13 May 2021 08:10 AM (IST)

जागरण संवाददाता, भागलपुर। Appointment of teachers in Bihar:  अब बिहार के माध्यमिक, उच्च और उच्‍चतर विद्यालयों में शिक्षकों की कमी नहीं होगी। हर स्कूलों में विषयवार शिक्षक होंगे। सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति और पदस्थापना की कवायद शिक्षा विभाग ने शुरू कर दी है। राज्‍य मुख्यालय से इसके लिए राज्‍य के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से सूची मांगी गई है।

भागलपुर के जिला शिक्षा पदाधिकारी से भी सूची भी मांगी गई है। जिला शिक्षा विभाग विषयवार शिक्षकों की सूची तैयार करने में जुट गई है। भागलपुर में करीब दो हजार शिक्षकों को नियुक्त किए जाएंगे। बुधवार को शिक्षा विभाग के माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखकर जिले के सभी माध्यमिक व उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में शिक्षकों के खाली पदों की सूची मांगी है। सूची को हार्ड व सॉफ्ट कॉपी के माध्यम से जमा करना है। डीईओ संजय कुमार ने बताया कि खाली पदों को भरने की कवायद शिक्षक नियोजन प्रक्रिया के माध्यम से की जाएगी। खाली पदों की जानकारी मिल जाने के बाद से उसी अनुसार स्कूलों में शिक्षकों का नियोजन विषयवार होंगे। अभी जिला के अधिकतर स्कूलों में शिक्षकों की काफी कमी है।

कई स्कूलों में तो कई विषयों के एक भी शिक्षक ही नहीं हैं। जिसमें जिला स्कूल और जिला गर्ल्स स्कूल भी शामिल हैं। जिसके कारण बच्चों की पढ़ाई काफी प्रभावित हो रही है। ग्रामीण इलाकों के स्‍कूलों का हाल तो और भी बुरा है। बताया जा रहा है कि किसी-किसी विद्यालय में तो दो ही शिक्षक है, जिन्‍हें कई वर्ग के कई कक्षाओं में पढ़ाना होता है। इन स्‍कूलों में पठन-पाठन काफी प्रभावित होता है।

दरअसल, लॉकडाउन और कोरोना की वजह से स्कूलों में पढ़ाई बंद है। रोस्टर के हिसाब से शिक्षक और विद्यालय के प्रधानाध्यापक स्कूल पहुंच रहे हैं। स्कूल खुलने के बाद शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में तेजी आएगी। इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी है। बताया जा रहा है शिक्षकों की नियुक्ति हो जाने से सभी को राहत मिलेगी।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.