प्रेम-प्रसंग में बेटी की हत्या कर पिता ने जला दिया शव, जमुई के लक्ष्मीपुर की घटना, जानिए...

जमुई में प्रेम प्रसंग में पिता द्वारा बेटी की हत्‍या का मामला सामने आया है। घटना लक्ष्‍मीपुर की है। पुलिस ने प्रारंभिक जांच के बाद आरोपित पिता को हिरासत में ले लिया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Abhishek KumarMon, 14 Jun 2021 05:46 PM (IST)
जमुई में प्रेम प्रसंग में पिता द्वारा बेटी की हत्‍या का मामला सामने आया है।

 संवाद सूत्र, लक्ष्मीपुर(जमुई)। हत्या कर लाश गायब कर देने का एक नया मामला प्रकाश में आया है। मामला थाना क्षेत्र के केनुहट सरही टोला निवासी दिनेश मंडल की पुत्री विनीता कुमारी से जुडा है। विनीता पिछले तीन दिनों से लापता है। स्वजनों के अनुसार अचानक हुई पेट दर्द के कारण उसकी मौत हो गईं। स्वजनों द्वारा बताया गया कि तीन दिन पूर्व परिवार के सभी सदस्य एक शादी समारोह में भाग लेने जमुई थाना क्षेत्र के लखनपुर गए थे। घर में विनीता और उसका भाई तथा उसके दादा रामोतार मंडल ही मौजूद थे। देर रात विनीता की तबीयत अचानक बिगड गई। विनीता के भाई ने इसकी सूचना शादी में गए परिवार के अन्य सदस्यों को दी।

परिवार के सदस्य जब तक घर पहुंचते तब तक उसकी मौत हो गईं। इधर, सूत्र बताते हैं कि विनीता अपने माता-पिता के साथ झारखंड के धनबाद स्थित धनसार में रहती थी। धनबाद के एक युवक के साथ उसका प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इसकी भनक उसके स्वनों को लग गई। स्वजनों ने विनीता को बहुत समझाने का प्रयास किया लेकिन वह नही मानी। सूत्र यह भी बताते हैं कि इस बीच युवती छह माह की गर्भवती भी हो गईं। स्वजनों को यह नागवार गुजरा और वह दो माह पूर्व युवती को लेकर अपने पैतृक गांव सरही आ गए और एक साजिश के तहत विनीता की हत्या कर शव को जला दिया और पुलिस को भनक तक नहीं लगने दिया। ग्रामीणों द्वारा घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को मिलते ही पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पूछताछ के लिए मृतका के पिता दिनेश मंडल को अपने हिरासत में ले लिया। हालांकि घटना के बाद मृतक के स्वजनों की स्थिति सामान्य है।

महेंद्र साह के पिकअप वैन से शव को लगाया ठिकाने

विनीता की हत्या के बाद उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए बरहट थाना क्षेत्र के विशनपुर मनुषघट्टा घाट के पास ले जाया गया। विनिता के स्वजनों ने पूछताछ के क्रम में बताया कि शव को घाट तक ले जाने के लिए केनुहट निवासी धान- चावल की खरीद-बिक्री करने वाले महेंद्र साह के पिकअप वैन का इस्तेमाल किया था और इस कार्य के बदले उसे पांच सौ रुपये भी दिए गए।

चार भाई -बहनों में सबसे छोटी थी विनीता

मृतका विनीता चार भाई-बहनों मे सबसे छोटी थी। उसके दो भाई व एक बड़ी बहन की शादी हो चुकी है। बचपन से ही विनीता अपने माता-पिता के साथ झारखंड के धनबाद स्थित धनसार में रहती थी। उसके पिता धनबाद के एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं।

वह ङ्क्षसदरी स्थित एक निजी स्कूल से इसी वर्ष इंटर की परीक्षा पास की थी और बीए में नामांकन के लिए योजना बना रही थी। सूत्र बताते हैं कि विनीता बचपन से ही काफी चुलबुली और सुंदर थी।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.