भागलपुर में कोरोना से हुई मौतों के बाद स्वजनों को दिए जा रहे मृत्यु प्रमाण पत्र में लापरवाही, पढ़ें जिले में टीकाकरण की क्या है स्थिति

भागलपुर में कोरोना से हुई मौतों के बाद जब मृतकों के स्वजनों ने मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाना शुरू किया तो मायागंज अस्पताल के कर्मचारियों की लापरवाही से उनमें गलतियां होने लगी। लिहाजा अब स्वजन भटकते दिखाई दे रहे हैं। वहीं जिले में वैक्सीन को लेकर हंगामे की खबर भी है।

Dilip Kumar ShuklaThu, 24 Jun 2021 12:04 PM (IST)
मृत्यु प्रमाण पत्र में हो रही गड़बड़ी के चलते स्वजनों को हो रही परेशानी

जागरण संवाददाता, भागलपुर। मायागंज अस्पताल में कोरोना से जिन मरीजों की मौत हुई है, उनके मृत्यु प्रमाण पत्र में कर्मचारियों की लापरवाही से कभी मृतक के पिता का नाम गलत अंकित किया जा रहा है तो कभी मृतक का। लिहाजा, परिजन परेशान हो रहे हैं।

अस्पताल में मृत्यु प्रमाण पत्र लेने वाले स्वजनों की अभी भी भीड़ लगी हुई है। इनमें दर्जनों ऐसे स्वजन है, जो प्रमाण पत्र में गलत नाम को सही करवाने के लिए कई बार आ चुके हैं। भीखनपुर की सोनी देवी के पति प्रह्ललाद कुमार साह की मौत 18 अप्रैल को कोरोना से अस्पताल में हुई। मृत्यु प्रमाण पत्र में मृतक के पिता का नाम शंकर प्रसाद साह के बदले शम्भू प्रसाद अंकित कर दिया गया। अभी तक प्रमाण पत्र में नाम सही नहीं किया गया है।

अस्पताल अधीक्षक डॉ. असीम कुमार दास ने कहा कि नाम सही करवाने आने वाले स्वजनों से दिए गए आवेदन पर ही सामने लिखवाया जाएगा। साथ ही उन्हें क्या-क्या कमी है मृत्यु प्रमाण पत्र में यह भी लिखित लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी तक करीब 350 मृतकों के स्वजनों को मृत्य प्रमाण पत्र दे दिया गया है। 

शिविर में वैक्सीन नहीं रहने पर हंगामा 

जिले के नाथनगर के ललमटिया इलाके के नसरतखानी प्राथमिक विद्यालय में लगे शिविर में वैक्सीन नहीं रहने पर बुधवार को लोगों ने जमकर हंगामा किया। सूचना पर केयर इंडिया के सीनियर अधिकारी पहुंचे और लोगों को गुरुवार को वैक्सीन देने का आश्वासन दिया, तब जाकर लोग शांत हुए। 

हंगामा कर रहीं कुछ महिलाएं व ड्यूटी पर तैनात सेविका ने शिविर में मौजूद केयर इंडिया के कर्मी सौरभ आनंद पर बदतमीजी व मनमानी करने का आरोप लगाया। उनका कहना था उक्त कर्मी की मनमानी की वजह से पिछले तीन दिनों में 50 से अधिक लोग बिना वैक्सीनेशन के लौट गए। इस शिविर से रोजाना वैक्सीन दूसरी जगह भेज दी जाती है।

बुधवार को भी 200 लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य था, लेकिन 180 का ही टीकाकरण हुआ। 250 से अधिक लोगों का आधार कार्ड जमाकर रजिस्ट्रेशन किया गया था। कर्मी सौरभ आनंद ने कहा कि सीनियर अधिकारी के आदेश पर ही वैक्सीन दूसरी जगह भेजी जाती है। बुधवार को भी अल्पसंख्यक क्षेत्र के शिविर में 20 लोगों की वैक्सीन भेजी गई थी। 

नाथनगर में 350 लोगों ने लिया टीका

नाथनगर के कौशिकी नाथ झा लेन स्थित एक स्कूल में आदर्श टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन  टीएमबीयू की कुलपति डॉ. नीलिमा गुप्ता, एसकेपी विद्या विहार के डायरेक्टर डॉ. प्रशांत विक्रम, डॉ. पंकज टंडन एवं स्कूल के फाउंडर चेयरमैन संजय अग्रवाल ने किया। 

इस मौके पर कुलपति ने सभी से टीका लेने की अपील करते हुए कहा कि कोरोना से बचाव का एकमात्र उपाय टीकाकरण ही है। शाम 6 बजे तक 350 लोगों को टीके लगाए जा चुके थे। शिविर में स्कूल के चेयरमैन के अलावा, महिला शांति दूत नीलम देवी एवं स्वास्थ्यर्मियों ने टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित किया। 

टीका लगाने के लिए जागरूक कर रहा यूको बैंक

यूको बैंक भागलपुर के जोनल प्रबंधक सुभाष चंद्र महापात्रा ने कोरोना का टीका लगाया साथ ही यूको बैंक के माध्यम से सभी को टीका लगाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इस महामारी से सुरक्षा के लिए टीका ही मात्र विकल्प है। इससे घबराएं नहीं इसे अपनाएं। 

प्रबंधक ने अपने सभी शाखाओं में भी अधिकारियों को लोगों को टीका के प्रति प्रेरित करने की बात कही। सबौर के वरीय शाखा प्रबंधक अभिनव अभिषेक ने भी टीका को जीवन की संजीवनी बताते हुए अपने परिसर में आए ग्रहकों को टीका लेने का अनुरोध किया। यूको बैंक के अन्य अधिकारियों ने भी लोगों से कोरोना का टीका लगाने और मास्क पहनने सामाजिक दूरी बनाए रखने की अक्सर बात करते रहते हैं जिसका प्रभाव लोगों पर पड़ रहा है और लोग टीका लगवाने के प्रति जागरुक दिख रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.