पुलिस लाइन की झाड़ियों से मानव अवशेष बरामद होने से सनसनी

बेगूसराय पुलिस लाइन के बैरक संख्या 30 के पीछे घनी झाड़ियों से मानव अवशेष बरामद होने से

JagranWed, 01 Sep 2021 10:17 PM (IST)
पुलिस लाइन की झाड़ियों से मानव अवशेष बरामद होने से सनसनी

बेगूसराय : पुलिस लाइन के बैरक संख्या 30 के पीछे घनी झाड़ियों से मानव अवशेष बरामद होने से जहां क्षेत्र में सनसनी फैली है, वहीं पुलिसकर्मी सहमे हैं। घनी झाड़ियों में घास काटने गई महिलाओं के बीच हुई काना फूंसी के बाद मामला पुलिस लाइन के वरीय अधिकारियों के समझा पहुंचा जिसके बाद लोहियानगर ओपी समेत पुलिस टीम ने मौके पर जांच पड़ताल कर मानव की खोपड़ी, हड्डियां समेत कुछ कपड़े बरामद कर सील किया है। एसपी अवकाश कुमार ने बताया कि मानव अवशेष की फारेंसिक जांच के बाद ही कुछ स्पष्ट हो पाएगा। इस संबंध में पुलिस लाइन के सार्जेंट मेजर संजय कुमार झा के बयान पर नगर थाना में भादवि की धारा 302 के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस लाइन के बैरक के पीछे घास काटने के दौरान आ रही दुर्गंध के बाद महिलाओं ने काम बंद कर दिया और आपस में कानाफूंसी में लग गई। काना फूंसी से यह बात पुलिस लाइन के सार्जेंट मेजर तक पहुंची। जिसके बाद लोहियानगर ओपी को उक्त आशय की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही सार्जेंट मेजर के साथ मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव कुमार लाल, लोहियानगर ओपीध्यक्ष अंबिका प्रसाद दलबल के साथ पहुंचे व मौके से मानव अवशेष समेत अन्य साक्ष्य जमा किया है। पुलिस लाइन जैसे सुरक्षित जगह पर हत्या कर शव को ठिकाना लगाए जाने के इस मामले में आस-पास तरह-तरह की चर्चा हो रही है। इधर लोहियानगर पुलिस ने हाल के दिनों में दर्ज लापता व गुमशुदगी मामलों के स्वजनों को जानकारी देकर मौके से बरामद टीशर्ट के कालर व हाफ पैंट से पहचान कराने की कोशिश की है, लेकिन समाचार प्रेषण तक पहचान नहीं हो सकी है। विश्वस्त सूत्रों की मानें तो बरामद मानव अवशेष करीब छह माह पुराने हो सकते हैं। आशंका व्यक्त की जा रही है कि जला कर हत्या किए जाने के बाद किसी ने शव को ठिकाने लगाने के लिए यहां दफन कर दिया हो। लगातार बारिश में मिट्टी गिली व ढीली होने पर कुत्ते समेत अन्य जानवरों ने मानव खोपड़ी व हड्डियों को बिखेर दिया। लोहियानगर ओपीध्यक्ष अंबिका प्रसाद ने बताया कि बरामद अवशेषों को सील कर फारेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। डेढ़ माह से नहीं मिला कुंदन का सुराग

- महिला सिपाही से प्रेम प्रसंग का मामला

जागरण संवाददाता, बेगूसराय : मुजफ्फपुर बीएमपी में कार्यरत महिला सिपाही के प्रेम प्रसंग के मामले में बीते डेढ माह से लापता लोहियानगर निवासी कुंदन कुमार का अबतक कोई सुराग नहीं मिल सका है। इस संबंध में लापता कुंदन की मां लाखो ओपी क्षेत्र के लोदीपुर शाहपुर निवासी मीना देवी ने लोहियानगर ओपी में आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई है। 15 जुलाई को नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज होते ही लोहियानगर पुलिस ने मामले के आरोपित महिला सिपाही के पति नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के अझौर निवासी सुशील कुमार सहनी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, लेकिन लापता कुंदन का सुराग नहीं तलाशा जा सका है। इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद अनुसंधान में सुस्ती को लेकर स्वजनों ने वरीय अधिकारियों के समक्ष बरामदगी की गुहार लगाई जिसके बाद केस के अनुसंधानकर्ता को बदला गया है। फिलहाल मुफस्सिल थाना में कार्यरत नीरज कुमार मामले के अनुसंधान में लगे हैं। मंगलवार को पुलिस लाइन से मानव अवशेष बरामद होने के बाद लोहियानगर पुलिस ने कुंदन के भाई आदर्श कुमार को जानकारी दी। जिसके बाद बरामद अवशेषों की पहचान कराई गई, लेकिन नतीजा सिफर निकला। लापता कुंदन के भाई आदर्श कुमार ने बताया कि लोहियानगर स्थित एक किराए के मकान में रहने व पुलिस बहाली की तैयारी के दौरान कुंदन महिला सिपाही छोटी कुमारी व उसके पति सुशील सहनी के संपर्क में आया था। सुशील सहनी ने पत्नी से प्रेम प्रसंग की बात पर कुंदन की पिटाई भी की थी और जान से मारने की धमकी दी थी। अचानक कुंदन के लापता होने से स्वजनों ने आशंका व्यक्त की है कि सुशील सहनी ने ही पति-पत्नी के बीच कुंदन की दखल के कारण उसका अपहरण कर लिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.