खुले आसमान के नीचे रह रहे हैं पकठौल के बाढ़ प्रभावित

बेगूसराय तेघड़ा प्रखंड की पकठौल पंचायत के वार्ड संख्या चार के लगभग डेढ सौ परिवार बलान

JagranSun, 12 Sep 2021 09:44 PM (IST)
खुले आसमान के नीचे रह रहे हैं पकठौल के बाढ़ प्रभावित

बेगूसराय : तेघड़ा प्रखंड की पकठौल पंचायत के वार्ड संख्या चार के लगभग डेढ सौ परिवार बलान नदी की बाढ़ के पानी से तीन महीने से जिल्लत भरी जिदगी जी रहे हैं। अब तक न तो कोई जनप्रतिनिधि आए और न ही अधिकारी हालचाल देखने आए हैं। खुले आसमान के नीचे बांध पर दर्जनों परिवार जीवन बसर कर रहे हैं। कुछ परिवार का पक्का घर है, वे लोग छत पर पालीथीन टांग कर अपना जीवन बसर कर रहे हैं। फिलहाल आवागमन के लिए नाव ही एकमात्र सहारा है। रूम में एक से दो महीने से जल जमाव के चलते घर का सारा सामान क्षतिग्रस्त हो गया है। बाढ़ प्रभावितों ने तुरंत सहायता राशि एवं मेडिकल टीम की व्यवस्था के साथ ही राहत साम्री उपलब्ध करवाने की मांग की है।

ग्रामीण रामफल तांती ने बताया कि वे लोग प्रत्येक साल बलान नदी की बाढ़ से प्रभावित होते हैं। फिलवक्त चार माह से बांध पर खुले आसमान के नीचे अपना जीवन बसर कर रहे हैं। हमलोगों के दुखदर्द से जनप्रतिनिधियों को कोई लेना देना नहीं है।

ग्रामीण रामनंदन सहनी ने बताया कि सरकार की तरफ से हमलोगों को कोई सहायता अब तक नहीं मिली है और न ही कोई सरकारी पदाधिकारियों की नजर है। ग्रामीण नीरज चौरसिया ने बताया कि बलान नदी के जल स्तर में वृद्धि होने से उन लोगों की परेशानी बढ़ गई है। खुले आसमान के नीचे अंधकार में जीवन बिता रहे हैं। समाजसेवी उपेंद्र मेहता ने कहा कि बलान नदी में जलस्तर काफी वृद्धि हुई है। प्रत्येक साल यही हाल होता है। सरकार की तरफ से उन लोगों को अब तक कोई सुविधा उपलब्ध कराया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.