छठे दिन भी निकाय कर्मियों की हड़ताल से कामकाज ठप

बेगूसराय बिहार लोकल बाडीज कर्मचारी संयुक्त मोर्चा व बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महास

JagranSun, 12 Sep 2021 09:45 PM (IST)
छठे दिन भी निकाय कर्मियों की हड़ताल से कामकाज ठप

बेगूसराय: बिहार लोकल बाडीज कर्मचारी संयुक्त मोर्चा व बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ द्वारा आहूत अनिश्चितकालीन हड़ताल रविवार को छठे दिन भी जारी रहा। रोज की तरह सफाईकर्मियों व कर्मचारियों ने नगरनिगम परिसर में धरना देकर 12 सूत्री मांगों के समर्थन में नारेबाजी की। धरना सभा का नेतृत्व कर रहे नगर निगम कर्मचारी संघ के जिला मंत्री दिलीप मलिक ने बताया कि पटना में कर्मियों के प्रतिनिधि के साथ नगर विकास मंत्रालय के अधिकारियों की वार्ता जारी है, वार्ता बेनतीजा निकलने पर हड़ताल जारी रहेगी।

बीते छह दिन से शहर में कचरा उठाव समेत सफाई के अन्य काम ठप होने से शहर के मोहल्लों में जगह-जगह कचरे का ढेर जमा हो गया है। शुक्रवार की रात हुई बारिश के बाद गीले कचरे से निकल रहे र्दुगंध के बीच राहगीरों को पैदल चलना मुश्किल है। शहर के अधिकांश चौक-चौराहे कचरे से पटने लगे हैं। सफाईकर्मियों की हड़ताल के कारण जहां सर्वोदय नगर में गाय का शव बीच सड़क पर पड़ा रहा वहीं गली मोहल्ले कचरे से पट गए हैं। बताते चलें कि बेगूसराय नगरपालिका का गठन 1968 में होने के बाद 117 पद स्वीकृत किए गए थे। 1968 में बेगूसराय की आबादी 20 हजार थी लेकिन 2021 में नगर निगम क्षेत्र की आबादी करीब 30 लाख है लेकिन आबादी के अनुपाल में कर्मी नहीं हैं। वर्तमान समय में सिर्फ 32 स्थाई कर्मचारी के सहारे नगर निगम चल रहा है। लेखा व कर संग्रहण जैसे महत्वपूर्ण कार्यो का संपादन दैनिक वेतनभोगी कर्मियों के सहारे किया जा रहा है। 504 दैनिक वेतनभोगी सफाई कर्मी, 100 चालक व जमादार समेत 100 कार्यालय कर्मी व कर संग्रह कर्मी कार्यरत हैं। आश्चर्य की बात यह है कि नगर निगम के अति महत्वपूर्ण नजारत, लेखा, योजना के कार्यो का निष्पादन भी दैनिक वेतनभोगी कर्मियों के ही जिम्मे है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.