अग्रसेन मातृ सेवा सदन व महावीर मंदिर न्यास के बीच टूट सकता है करार : किशोर कुणाल

बेगूसराय। बेगूसराय में एनएच 31 के समीप स्थित अग्रसेन मातृ सेवा सदन एवं पटना के महावीर मंदिर न्यास के बीच हुआ करार अस्पताल का संचालन शुरू होने से पहले ही खत्म हो सकता है। सोमवार को निजी कार्य से बेगूसराय पहुंचे महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने आइओसीएल स्थित गेस्ट हाउस में मीडिया को संबोधित करते हुए उक्त बातें कहीं।

JagranMon, 18 Oct 2021 07:12 PM (IST)
अग्रसेन मातृ सेवा सदन व महावीर मंदिर न्यास के बीच टूट सकता है करार : किशोर कुणाल

बेगूसराय। बेगूसराय में एनएच 31 के समीप स्थित अग्रसेन मातृ सेवा सदन एवं पटना के महावीर मंदिर न्यास के बीच हुआ करार अस्पताल का संचालन शुरू होने से पहले ही खत्म हो सकता है। सोमवार को निजी कार्य से बेगूसराय पहुंचे महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने आइओसीएल स्थित गेस्ट हाउस में मीडिया को संबोधित करते हुए उक्त बातें कहीं। बेगूसराय से जुड़ी कई महत्वपूर्ण बातों पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि कोविड की दूसरी लहर आने से कुछ समय पहले बेगूसराय स्थित अग्रसेन मातृ सेवा सदन को महावीर मंदिर के साथ टैग कर संचालन के लिए एक कमेटी बनाई गई थी। इसके बाद कुछ ही महीनों में उक्त अस्पताल के कायाकल्प के लिए सकारात्मक पहल शुरू की गई। किसी का बगैर नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि कुछ महीनों के बाद से स्थानीय ट्रस्टी के द्वारा महावीर मंदिर न्यास की तरफ से लगे कंस्ट्रक्शन कमेटी को काम करने नहीं दिया जा रहा है, जबकि लिखित तौर पर करार हुआ था और संचालन कमेटी बनाई गई थी। इसी परिस्थिति में करीब 70 लाख रुपये की लागत से अब तक कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि पिछले छह महीने से कोई भी काम नहीं करने दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अग्रसेन मातृ सेवा सदन के वर्तमान अध्यक्ष की ओर से इस संबंध में कोई अवरोध नहीं डाला जा रहा है। बावजूद इसके स्थानीय स्तर से कुछ लोग जो महावीर मंदिर सेवा संस्थान की ओर से डाक्टर, इंजीनियर्स एवं ट्रस्टी जो कोई भी आते हैं, उन्हें भगा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि बेगूसराय से मेरा आत्मीय लगाव रहा है। पहले के कई मुद्दों पर यहां पर कतिपय लोगों के द्वारा झूठी अफवाह फैलाकर मेरी किरकिरी करने का प्रयास किया गया। आखिरकार मीडिया के समक्ष अग्रसेन मातृ सेवा सदन के संचालन में महावीर मंदिर सेवा संस्थान की वर्तमान भूमिका को स्पष्ट करना पड़ा। वहीं इस पूरे मामले पर अग्रसेन मातृ सेवा सदन के ट्रस्टी सदस्य दिनेश टिबड़ेबाल ने कहा कि सेवा सदन में मापदंड के अनुरूप काम नहीं होने व कार्य बहुत धीमा होने के कारण करार तोड़ा गया है। इधर, बेगूसराय शहर के नौलखा मंदिर के अध्यक्ष अमरेंद्र कुमार अमर ने आइओसीएल गेस्ट हाउस में मिलकर आचार्य किशोर कुणाल से नौलखा मंदिर के सामने स्थित महावीर मंदिर के कैंपस में महावीर कैंसर डिटेक्शन सेंटर खोलने का प्रस्ताव रखा। इस पर उन्होंने धार्मिक न्यास बोर्ड से एनओसी मिलने के बाद की प्रक्रिया के लिए सकारात्मक पहल करने का आश्वासन दिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.