डुमरामा के एक घर में लगी आग, लाखों का सामान राख

डुमरामा के एक घर में लगी आग, लाखों का सामान राख

बांका। थाना क्षेत्र के डुमरामा गांव में शार्ट सर्किट से आग लगने से एक घर जलकर राख हो गया। घर में रखा खाद्यान्न एवं लगभग दो लाख रुपये का सामान जलकर नष्ट हो गया है।

JagranMon, 19 Apr 2021 10:40 PM (IST)

बांका। थाना क्षेत्र के डुमरामा गांव में शार्ट सर्किट से आग लगने से एक घर जलकर राख हो गया। घर में रखा खाद्यान्न एवं लगभग दो लाख रुपये का सामान जलकर नष्ट हो गया है।

गृहस्वामी पानू चटिया ने बताया कि सोमवार की दोपहर में घर के सभी सदस्य आराम कर रहे थे। इसी दौरान फूस का छप्पर में आग की लपट उठते देखा। शोर मचाने पर गांव के काफी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे और पड़ोसी के सबमर्सिबल एवं पंप सेट चला कर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। पर तेज पछुआ हवा के कारण लोगों को आग बुझाने में काफी मशक्कत करना पड़ा। ग्रामीणों के प्रयास से आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट से निकली चिगारी बताया गया है। हालांकि ग्रामीणों ने अगलगी को लेकर सीओ स्वाति कृष्णा को भी जानकारी दी है। जिसपर थाना से अग्निशामक दस्ता मौके पर पहुंचा। पर तबतक सारा सामान जलकर राख हो गया था ।

-------

कुसुमजोरी में आगजनी से लाखों की क्षति

संसू, चांदन (बांका): प्रखंड क्षेत्र के कुसुमजोरी पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर सात के सोंतारी गांव में सुखदेव यादव के घर में शार्ट सर्किट से गाय बांधने वाले झोपड़ी में अचानक आग लग गई। पछुआ हवा के कारण आग की लपटों से उसका पूरा घर भी जल कर बर्बाद हो गया। जिसमें घर में रखें अनाज, कपड़ा, नकदी के साथ बछड़ा जल गया। काफी देर के बाद ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया गया। पीड़ित सुखदेव यादव की पत्नी पिकी देवी ने बताया की उसकी छोटी बच्ची भी उसी झोपड़ी में सोई हुई थी। जिसे किसी तरह आग की लपटे से बाहर निकाला गया। जिससे बच्ची की जान बच गई। बिजली विभाग की लापरवाही के कारण पोल कई महीनों पहले टूट कर गिर पड़े थे। विभागीय पदाधिकारियो को कहने के बावजूद दुरुस्त नहीं किया। इस कारण उक्त घटना घटी है। अंचलाधिकारी प्रशांत शांडिल्य ने बताया की आगजनी में हुए क्षति के आकलन के लिए जांच रिपोर्ट आने पर पीड़ित को हर संभव आपदा प्रबंधन से मदद दी जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.