नक्सल क्षेत्रों में जमकर बरसे वोट, चांदन में 70.5 व फुल्लीडुमर में 66.88 प्रतिशत हुआ मतदान

जाटी बांका नक्सल प्रभावित चांदन एवं फुल्लीडुमर प्रखंड में पंचायत चुनाव सोमवार को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो गया। सुबह सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक गांव की सरकार बनाने में महिलाओं ने जमकर मतदान किया। चुनाव में चांदन के 17 पंचायतों में 70.5 प्रतिशत मतदान हुआ है। यहां 112 लाख 469 वोटरों में 7

JagranMon, 29 Nov 2021 09:25 PM (IST)
नक्सल क्षेत्रों में जमकर बरसे वोट, चांदन में 70.5 व फुल्लीडुमर में 66.88 प्रतिशत हुआ मतदान

जोनर--चुनाव तंत्र

29 बीएएन 12, 13, 14, 15, 19

-गांव की सरकार बनाने में महिलाएं रहीं सबसे आगे

-बेलहर प्रखंड में अंतिम चुनाव आठ दिसंबर को

-डीएम और एसपी ने लिया बूथों का जायजा

-30 लोगों को लिया हिरासत में, 42 गाड़िया की जब्त

जाटी, बांका : नक्सल प्रभावित चांदन एवं फुल्लीडुमर प्रखंड में पंचायत चुनाव सोमवार को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो गया। सुबह सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक गांव की सरकार बनाने में महिलाओं ने जमकर मतदान किया। चुनाव में चांदन के 17 पंचायतों में 70.5 प्रतिशत मतदान हुआ है। यहां 1,12 लाख 469 वोटरों में 78 हजार 906 वोटरों ने मतदान में भाग लिया। जहां पुरुष 64.2 एवं महिलाओं का वोटिग प्रतिशत 77.4 रहा है। सांसद गिरिधारी यादव ने भी चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

वहीं, फुल्लीडुमर प्रखंड के 11 पंचायतों में 66.88 प्रतिशत मतदान हुआ है। डीएम सुहर्ष भगत एवं एसपी अरविद कुमार गुप्ता ने दोनों प्रखंडों का जायजा लिया। बूथों पर कई वोटरों से पूछताछ की। इस क्रम में बिना कारण घूमने पर 30 लोगों को हिरासत में लिया गया, जबकि 42 वाहनों को जब्त किया गया। डीएम ने कहा कि दोनों प्रखंडों में मतदान शांतिपूर्ण हुआ है। ज्ञात हो कि जिले के बेलहर प्रखंड में अंतिम चुनाव अब आठ दिसंबर को है।

-------------

चांदन के 1760 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम व मतपेटी में बंद

संसू, चांदन (बांका): सभी 195 मतदान केंद्रों पर चुनाव संपन्न हो गया। मतदान के बाद ही सभी 1760 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम औऱ मतपेटी में बंद हो गया। गिनती एक दिसंबर को बांका पीबीएस कालेज में होगा। चुनाव में डीडीसी रविप्रकाश ने हर बूथ का जायजा लिया।

---------

सुरक्षा के थे पुख्ता इंतजाम

पंचायतों की सभी बूथों पर कच्ची व पक्की सड़कों पर सुरक्षा व्यवस्था काफी सख्त थी। मतदान के लिए बूथों पर जाने वालों से पूछताछ की जा रही थी। जिस कारण किसी भी बूथ पर हंगामा करने वाला मौजूद नहीं रहा। मतदाताओं ने बताया कि इस प्रकार की सुरक्षा व्यवस्था से हर बूथ पर शांति बनी रही। सुरक्षा बल खुद कमजोर और बुजुर्ग मतदाताओं को बूथ तक ले जा रहे थे। निर्वाची पदाधिकारी राकेश कुमार और सीओ प्रशांत शांडिल्य सहित अन्य थे।

--------

सिलजोरी औऱ बिरनिया औऱ कोरिया के कुछ बूथों पर तनाव

सिलजोरी पंचायत के भनरा, कसई और पहरीडीह जबकि बिरनिया के बांक, शेखपुरा औऱ झिगाझाल, औऱ कोरिया पंचायत के कोरिया,दोनिया, बाघमारी बूथ तनाव देखा गया। लेकिन पुलिस की तत्परता से किसी प्रकार का हंगामा नहीं हो सका।

-------

महिलाओं ने लिया बढ़चढ़ कर भाग

चुनाव में महिलाओं ने पहले मतदान फिर जलपान का पालन किया। जबकि खेतों में धान काटने वाली महिलाओं की लंबी कतार मतदान शुरू होने के साथ ही दिखाई देने लगी और ऐसी सभी महिलाएं पहले मतदान कर ही अपने घर और खेतों की ओर ध्यान दिया। घरेलू महिलाएं दोपहर के बाद मतदान केंद्र की ओर आई। कुछ जगहों पर बायोमीट्रिक प्रणाली के काम नहीं करने के कारण भी देरी हुई।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.