शरद पूर्णिमा पर भारत माता की प्रार्थना

शरद पूर्णिमा पर भारत माता की प्रार्थना
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 10:00 PM (IST) Author: Jagran

औरंगाबाद। प्रखंड मुख्यालय ओबरा देवी मंदिर पार्क परिसर में शरद पूर्णिमा उत्सव बीती रात आरएसएस के कार्यकर्ताओं के द्वारा आयोजित किया गया। कार्यक्रम में काफी संख्या में आरएसएस के परिवार बढ़ चढ़कर भाग लिया। इस मौके पर कार्यक्रम आयोजित की गई। कार्यक्रम का नेतृत्व तृतीय वर्ष प्रशिक्षित अनिल मलाकार के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के उपरांत भारत माता की प्रार्थना की गई, इसके बाद खेलकूद सहित अन्य गतिविधियां आयोजित हुई। सभी लोगों ने सामाजिक समरसता का संदेश देते हुए एक साथ गोल घेरा बनाकर इस उत्सव का आनंद उठाया। खेल गतिविधियां समाप्त होने के बाद सामूहिक प्रसाद का वितरण किया गया। बताया जाता है कि शरद पूर्णिमा को आसमान से उसके रूप में अमृत की वर्षा होती है उस अमृत पान से सभी रोग तथा क्लेश दूर होते हैं, इसी को लेकर शरद पूर्णिमा की रात को खीर बनाकर खुले आसमान के तले रखा जाता है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रत्येक वर्ष शरद पूर्णिमा उत्सव का आयोजन धूमधाम के साथ करता आ रहा है जिसमें सेवकों के साथ-साथ आमलोग भी भाग लेते हैं। इधर जानकारी देते हुए अनिल मालाकार ने बताया कि वर्ष 1925 में संघ की स्थापना हुई थी, उसके बाद से ही संघ का विस्तार होता चला गया एवं पूरे देश में संघ की शाखाएं चलाई जा रही है। संघ के कार्यकर्ता समाज के हर गतिविधियों में अपनी भूमिका निभाते आ रहे हैं। चाहे आपदा का समय हो या फिर किसी दुर्घटना के लोगों को मदद करना हो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ देश में सामाजिक समरसता का संदेश देने वाला संगठन है। इस मौके पर खंड करवा राजेश गुप्ता, शाखा करवा मोतीलाल सोनी, मुख्य शिक्षक दिनेश शर्मा, शिक्षक अशोक प्रसाद कृष्णा प्रसाद सिंह, अमित नाग, आशीष कुमार, गुड्डू कुमार यादव, पुष्कर अग्रवाल, श्याम बिहारी, धर्मेंद्र ठाकुर, संतोष सोनी के अलावा काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.