26 और 27 सितंबर को होगी मतगणना, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

औरंगाबाद। मतगणना का कार्य सुबह आठ बजे शुरू होगा। मतदाताओं ने नए प्रत्याशी को समर्थन दिया है या पुराने चेहरे पर ही मुहर लगाई है इसका फैसला होने वाला है। मतगणना को लेकर प्रशासन ने सभी तैयारियां पूर्ण कर ली है। प्रथम चरण में औरंगाबाद सदर प्रखंड की 15 पंचायतों के सभी प्रत्याशियों के वोटों की गिनती सीडीएलयू में बनाए गए मतगणना केंद्र किशोरी सिन्हा महिला महाविद्यालय स्थित मतगणना कक्ष में की जाएगी। सुरक्षा की ²ष्टि से भी सभी इंतजाम कर लिए गए हैं।

JagranSat, 25 Sep 2021 09:49 PM (IST)
26 और 27 सितंबर को होगी मतगणना, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

औरंगाबाद। पहले चरण के पंचायत चुनाव के बाद प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला रविवार व सोमवार को मतगणना के साथ हो जाएगा। मतगणना का कार्य सुबह आठ बजे शुरू होगा। मतदाताओं ने नए प्रत्याशी को समर्थन दिया है या पुराने चेहरे पर ही मुहर लगाई है, इसका फैसला होने वाला है। मतगणना को लेकर प्रशासन ने सभी तैयारियां पूर्ण कर ली है। प्रथम चरण में औरंगाबाद सदर प्रखंड की 15 पंचायतों के सभी प्रत्याशियों के वोटों की गिनती सीडीएलयू में बनाए गए मतगणना केंद्र किशोरी सिन्हा महिला महाविद्यालय स्थित मतगणना कक्ष में की जाएगी। सुरक्षा की ²ष्टि से भी सभी इंतजाम कर लिए गए हैं। उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने बताया कि मतगणना शुरू होते ही 30 से 50 मिनट के अंदर मुखिया का परिणाम सामने आ जाएगा। जिला परिषद का परिणाम आने में करीब चार घंटे लगेंगे। पंचायत समिति का परिणाम एक घंटे में जारी हो सकेगा। 325 कर्मी करेंगे मतगणना

किशोरी सिन्हा महिला महाविद्यालय में कुल 325 कर्मी मतगणना का कार्य करेंगे। इसके लिए 82 टेबल बनाए गए हैं। पंच व सरपंच के लिए 11-11 टेबल पर मतगणना होगी। मुखिया, जिला परिषद सदस्य, पंचायत समिति सदस्य व वार्ड सदस्य के लिए 15-15 टेबल बनाए गए हैं। प्रत्येक ईवीएम वाले टेबल पर तीन और मतपत्र वाले टेबल पर चार कर्मी लगाए गए हैं। विभागीय निर्देशानुसार 26 और 27 सितंबर दोनों दिन मतगणना होगी। मतगणना कक्ष के बाहर नहीं निकल सकेंगे

उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने बताया कि जिला परिषद सदस्य, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य व सरपंच पद के प्रत्याशी के साथ एक मतगणना अभिकर्ता व निर्वाची अभिकर्ता जा सकेंगे। वार्ड सदस्य व पंच पद के लिए तीनों में से कोई एक ही पहचान पत्र लेकर जाएंगे। एक बार मतगणना कक्ष में अंदर जाने के बाद बाहर नहीं निकल सकेंगे। बताया कि एक टेबल पर तीन व्यक्ति नहीं रहेंगे। प्रत्याशी व अभिकर्ता कोई भी मोबाइल व हथियार लेकर अंदर नहीं जाएंगे। मतगणना कक्ष के 200 मीटर के दायरे में धूम्रपान पूर्णत: निषेध रहेगा। सीसीटीवी कैमरे से होगी निगरानी

मतगणना कार्य की सभी प्रक्रिया शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की गई है। इस सीसीटीवी कैमरे से मतगणना कार्य पर निगरानी रखी जाएगी। साथ ही वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। त्रिस्तरीय सुरक्षा के बीच पहले चरण का मतगणना कार्य संपन्न कराया जाएगा। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। हर चप्पे-चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी। हर गतिविधियों पर प्रशासन की नजर है। चुनाव जीतने के बाद नहीं निकाल सकेंगे जुलूस

उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने बताया कि जुलूस निकालने पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया गया है। इसको लेकर धारा 144 लागू की गई है। चुनाव जीतने के बाद कोई भी विजेता प्रत्याशी विजयी जुलूस नहीं निकाल सकेंगे। मतगणना कक्ष के अंदर व बाहर दोनों जगह सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। अगर कोई भी प्रत्याशी जुलूस निकालने व अशांति फैलाने की कोशिश करेगा तो उसके ऊपर आचार संहिता उल्लंघन के तहत प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई की जाएगी। विजयी प्रत्याशी प्रमाणपत्र लेकर सीधे अपने घर के लिए जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.