पुलिस की लापरवाही पर भारी पड़ा जनाक्रोश

पुलिस की लापरवाही पर भारी पड़ा जनाक्रोश

जागरण संवाददाता अररिया। जिस तरह बौंसी थाने के हाजत में इमरान की मौत हुई और उसके बाद

JagranMon, 01 Mar 2021 01:22 AM (IST)

जागरण संवाददाता, अररिया। जिस तरह बौंसी थाने के हाजत में इमरान की मौत हुई और उसके बाद पोस्टमार्टम कराने में पुलिस ने लापरवाही दिखाई उससे जनाक्रोश भड़क गया। लोगों का साफ तौर पर कहना था कि बौंसी थाने में लंबे अरसे से दलालों का राज चलता है। लोगों न साफ तौर पर आरोप लगाया दलाल के कहने पर ही पुलिस किसी को पकड़ती और छोड़ती है। इसी कारण कई बार बेकसूर लोगों को पकड़कर पुलिस टॉर्चर करती है। पूर्व में कोर्ट के आदेश पर बौंसी थाने में एससचओ पर प्राथमिकी दर्ज हो गई है। वहीं आज भी हंगामा के दौरान लोग दोषी पुलिसकर्मी पर कार्रवाई की मांग करते रहे। लेकिन वरीय अधिकारी ने इसपर ध्यान नहीं दिया। वहीं अगर सुबह ही पुलिस पदाधिकारी पर कार्रवाई करने की घोषणा कर देते तो आगे इतनी बड़ी घटना नहीं होती। वहीं इससे पूर्व भी सिमराहा थाने में महिला सिपाही की खुदकशी मामले में सीधे तौर पर दारोगा किग कुंदन का नाम आने पर उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने एक बार भी प्रयास नहीं किया। इसी तरह शराब पीने मामले में भी तीन पुलिसकर्मियों को साफ तौर पर बचा दिया गया। इस तरह लगातार पुलिस की कार्यशैली से लोगों को आक्रोश लगातार बढ़ रहा है। --------गिरफ्तार -------------

---संसू, फुलकाहा (अररिया): नरपतगंज थाना पुलिस ने थाना क्षेत्र के पलासी गांव से छापेमारी कर मारपीट मामले के नामजद अभियुक्त को गिरफ्तार कर थाना लाया जहां पूछताछ के बाद कोरोना जांच के लिए नरपतगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया जिसके बाद न्यायिक हिरासत में अररिया भेजा गया।गिरफ्तार में पलासी गांव निवासी राकेश कुमार पिता छेदी मंडल शामिल है। मालूम हो कि गिरफ्तार व्यक्ति पर 215/20 के तहत मारपीट मामले का नामजद प्राथमिकी दर्ज था मामले को लेकर नरपतगंज थानाअध्यक्ष एमए हैदरी ने बताया कि गिरफ्तार व्यक्ति को न्यायिक हिरासत में।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.