अररिया के सिकटी में धान खरीदारी नहीं होने से किसान मायूस

अररिया के सिकटी में धान खरीदारी नहीं होने से किसान मायूस

नोट- इसे वेब पर अपलोड नहीं करें डिजीटल पर दिया गया है संसू सिकटी (अररिया) सिकटी प

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 07:23 PM (IST) Author: Jagran

नोट- इसे वेब पर अपलोड नहीं करें, डिजीटल पर दिया गया है

संसू, सिकटी (अररिया): सिकटी प्रखंड के मजरख पंचायत में धान पैक्स के माध्यम से खरीद नहीं होने के कारण किसान परेशान हैं। किसान कैलाश यादव, वंशीधर यादव, देवानंद मंडल, जितेंद्र महतो, बिनोद राय, सरोज राय, सुगनलाल मंडल, नागेश यादव आदि ने कहा कि मजरख पैक्स में किसी भी किसानों का धान नहीं खरीदा गया है। कई किसानों को तो धान खरीददारी की जानकारी भी नहीं है। किसानों की जगह व्यापारियों का धान खरीदकर भंडारण किया जा रहा है। किसानों का कहना है अधिकारियों के निर्देश पर पैक्स द्वारा धान की खरीदारी शुरू की गई है। लेकिन यहां के किसानों को उसका पता तक नहीं चल रहा है। इधर पैसे के अभाव के कारण किसान बाजार के व्यवसायियों के हाथों 1000-1200 रुपये प्रति क्विटल धान की बिक्री करने को मजबूर हैं।वहीं केंद्र व राज्य सरकार किसानों की हित की बात करती है और उनके लिए कई तरह की योजनाएं चला रखी है। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण उनके पैदावार का उचित कीमत मिलना है। परंतु मजरख में किसानों की कम और बिचौलियों की ज्यादा चल रही है। वहीं कई किसानों ने विभाग पर आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों को यह कहकर लौटाया जाता है कि धान में नमी की मात्रा ज्यादा है। सोचने वाली बात है कि प्रतिवर्ष पैक्स में खरीदारी तब शुरू होती है जब किसान अपने जरूरत के अनुसार धान को व्यापारियों के हाथों औने-पौने दामों में बिक्री कर चुके होते हैं।यहां के किसानों का कहना है कि जब समय से धान खरीदारी की प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाती तब अंतिम समय में पैक्स किन लोगों का धान खरीदकर लक्ष्य की प्राप्ति करते हैं। इस संबंध मजरख मुखिया रमेश कुमार यादव ने कहा कि सैकड़ों किसानों ने सामूहिक हस्ताक्षरयुक्त आवेदन हमें सौंपा है। मजरख में धान खरीदारी की प्रक्रिया किसानों के माध्यम से नहीं की गईं है। यहां के किसानों को पता तक नहीं है कि पैक्स के माध्यम से खरीदारी की जा रही है। विभाग को इसपर ध्यान देने की जरूरत है।

क्या कहते है बीसीओ- बीसीओ पंकज कुमार ने बताया कि किसान सलाहकार के माध्यम से किसानों को जागरूक किया जा रहा है। पैक्स के माध्यम से इच्छुक किसानों के द्वारा खरीदारी की जा रही है। वेबसाइट पर जिन किसानों का नाम अपलोड है और जो किसान गोदाम तक धान लेकर आ रहे हैं खरीदारी हो रही है।

क्या है लक्ष्य: धान अधिप्राप्ति के लिए पैक्स को 352 एमटी व व्यापार मंडल को 750 एमटी का लक्ष्य निर्धारित है। वहीं सिकटी प्रखंड को 56 सौ एमटी का लक्ष्य विभाग द्वारा निर्धारित किया गया है। जिसमें अब तक 1209 एमटी की खरीदारी की जा सकी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.