प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना पर ग्रहण, तीन दिन के चक्कर के बाद भी नहीं मिल रहा अनाज

अररिया। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना फारबिसगंज प्रख

JagranTue, 21 Sep 2021 07:58 PM (IST)
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना पर ग्रहण, तीन दिन के चक्कर के बाद भी नहीं मिल रहा अनाज

अररिया। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना फारबिसगंज प्रखंड में टांय टांय फिस साबित हो रही है। सरकारी सिस्टम की खामियों के चलते गरीबों के घर चूल्हे जलने वाले योजना पर ग्रहण लग चुका है। सरकार के हर गरीबों को नि:शुल्क अनाज देने के घोषणा के बावजूद लाभुक को जनवितरण प्रणाली के दुकान में अनाज नही मिल रहा है। मजदूर व गरीब वर्ग के लोग रोजाना जन वितरण प्रणाली के दुकान में जाकर हाजिरी बनाते हैं लेकिन तीन-चार दिन चक्कर लगाने के बावजूद पास मशीन में गड़बड़ी के कारण उन्हें अनाज प्राप्त नहीं हो रहा है। ऐसे में गरीब वर्ग के लोगों में काफी नाराजगी भी देखी जा रही है। आंकड़ों पर अगर नजर डालें तो फारबिसगंज प्रखंड में 236 जन वितरण प्रणाली की दुकानें हैं। जिसमें 223 दुकानें वर्तमान समय में कार्यरत हैं। जिसमें फारबिसगंज नगर परिषद क्षेत्र के 25 वार्ड में 17 दुकानों में अनाज का वितरण हो रहा है। कुल कार्ड की संख्या पूरे फारबिसगंज प्रखंड में एक लाख 64 है। प्रत्येक व्यक्ति के हिसाब से पांच किलो अनाज फ्री एवं पांच किलो शुल्क लेकर देने की सरकारी घोषणा है। लेकिन गरीबों को अनाज वितरण के मामले में इनका प्रतिशत फिस्सडी साबित है। पूरे फारबिसगंज प्रखंड में इस माह 22 दिन बीत जाने के बावजूद महज सात प्रतिशत लाभुकों अनाज का वितरण हुआ है। ऐसे में सहज अंदाजा लगा जा सकता है कि कोरोना महामारी के बाद सरकारी घोषणा से उम्मीद लगाए बैठे गरीबो पर क्या गुजर रही होगी।

इनसेट

--------------

अनाज मिलने के बाद चावल की गंदगी ने पेट पर मारी लात बेचने को हो रहे मजबूर एक तो सरकारी सिस्टम की खामियों के चलते गरीब वर्ग के लोगो को ससमय अनाज नहीं मिल रहा है। वही दूसरे ओर जब अनाज मिल जाते हैं तो चावल की गंदगी उनके पेट पर लात मार रही है। गंदे चावल को गरीब बेचने को मजबूर हो रहे हैं। जनवितरण प्रणाली के कई लाभुकों ने बताया कि चावल तो सभी लोग ले लेते है लेकिन गंदगी के कारण कम दामो पर चावल बेचने के अलावे उनके पास कोई विकल्प नही रहता है। मंगलवार को शहर के वार्ड संख्या 11 स्थिति जन वितरण प्रणाली के दुकान में भी दर्जनों की संख्या में लाभुक अनाज लेने के लिए प्रतीक्षारत नजर आए। लाभुकों ने बताया कि चार-पांच दिन से अनाज लेने के लिए सभी लोग रोजाना आते हैं लेकिन पास मशीन की गड़बड़ी की बात कहकर उन्हें अनाज नहीं दिया जा रहा है। जन वितरण प्रणाली के दुकानदार सुधीर जायसवाल ने बताया कि जो पॉस मशीन उन लोगों को उपलब्ध कराया गया है उसमें 2 जी सेवा उपलब्ध है। जिसके कारण लाभुकों का फिगरप्रिट ससमय काम नहीं करता है। मशीन का लिक भी फेल रहता है। अनाज हमेशा एक जैसा नही मिलता है और पॉस मशीन का कोई हेल्प नंबर भी नही है।

गरीबों ने कहा विधायक व मंत्री ने दिए मोदी जी के झोले, नहीं मिल रहा है अनाज

फारबिसगंज जनवितरण प्रणाली के दुकान में मौजूद गरीब अनिता देवी, राजू कुमार,भूलन साह, शुशीला देवी, नरुल अंसारी, खातून निशा, बच्चा देवी, बद्री राय, सितारा खातून, जोहरा आदि ने शिकायत करते हुए कहा कि विधायक एवं मंत्री जी ने मोदी जी के पोस्टर लगे झोले तो जरूर दिए है लेकिन झोले लेकर वह रोजाना चक्कर लगा रहे हैं और उन्हें अनाज नहीं मिल रहा है। कोट पास मशीन की समस्या विभाग से हैदराबाद से हो रही है। डीएम व सभी पदाधिकारी को इसकी जानकारी है। पास मशीन की शिकायत उनके द्वारा नही होती है। चावल की गड़बड़ी गोदाम से हो रही है जिसमे वह कुछ नही कर सकते है। गरीबों को समस्या हो रही है लेकिन वह असमर्थ है। प्रवीण चंद्र, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.