पांच दिवसीय रामचरित मानस क्षेत्रीय यज्ञाधिवेशन में शामिल हुए श्रद्धालु

संवाद सूत्र फुलकाहा (अररिया) नरपतगंज प्रखंड के बढेपारा व पोसदाहा पंचायत अंतर्गत सीमा पर

JagranSat, 27 Nov 2021 11:48 PM (IST)
पांच दिवसीय रामचरित मानस क्षेत्रीय यज्ञाधिवेशन में शामिल हुए श्रद्धालु

संवाद सूत्र, फुलकाहा (अररिया): नरपतगंज प्रखंड के बढेपारा व पोसदाहा पंचायत अंतर्गत सीमा पर आयोजित पांच दिवसीय रामचरित्र मानस क्षेत्रीय यज्ञाधिवेशन शनिवार को संपन्न हो गया। मालूम हो कि पांच दिन पूर्व मंगलवार को यज्ञ स्थल से विधिवत पूजा-अर्चना के बाद 501 महिलाओं के द्वारा भव्य बैंड बाजा के साथ कलश यात्रा निकाली गई थी जो कलश यात्रा यज्ञ स्थल से पंजरकट्टा महात्मा चौक, बिदुल चौक होते हुए गेरवा नदी पहुंचा जहां पर नदी में जल भरने के बाद पोसदाहा होते हुए यज्ञ स्थल तक पहुंचा। जिसके बाद ही पांच दिवसीय रामचरित्र मानस क्षेत्रीय अधिवेशन प्रारंभ किया गया था। जहां लगातार पांच दिनों तक माहौल भक्ति में बना रहा। जबकि यज्ञ में आसपास के सैकड़ों की संख्या में लोगों का भीड़ जमा रहा। अखिल भारतीय भ्रमण सील मानस प्रचार मंडल केंद्र बाबा सिघेश्वर संयुक्त नेपाल के तत्वाधान में बढेपारा पोसदाहा सीमा पर श्रीराम चरित्र मानस क्षेत्रीय यज्ञाधिवेशन का आयोजन किया गया था। जिस यज्ञ को सफल बनाने को लेकर स्थानीय दर्जनों बाबा सहित ग्रामीण सक्रिय रहे। यज्ञ को सफल बनाने को लेकर अयोध्या से पहुंचे रामअवतार दास जी महाराज ,ऋषिकेश से रामटहल दास, सहरसा से वीरेंद्र ब्रह्मचारी, मधेपुरा से निभा भारती के अलावा आधा दर्जन बाबा के द्वारा लगातार राम कथा का प्रवचन दिए। जानकारी देते हुए कमेटी के अध्यक्ष राम नरेश दास ने बताया मंगलवार को विधिवत ढंग से पूजा-अर्चना के बाद पांच दिवसीय श्रीराम चरित्र मानस क्षेत्रीय यज्ञाधिवेशन का शुभारंभ किया गया था जो शनिवार की शाम शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ। जहां प्रतिदिन हवन रामायण पाठ जाप प्रवचन किए गए। सफल बनाने को लेकर स्थानीय बाबा में अध्यक्ष रामनरेश दास, मिथिलेश दास, मोहनदास, तुलसीदास, देवनारायण दास, महादेव दास, तीलआनंद दास के अलावा दर्जनों की संख्या में स्थानीय बाबा व पोसदाहा, बढेपारा के दर्जनों लोग शामिल थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.