दुनिया की पहली Flying Race Car ने भरी उड़ान, इंटरनेट पर जमकर देखी जा रही तस्वीर

Alauda Mk3 1950 और 1960 के दशक की रेसिंग कारों के डिजाइन से प्रेरित है। यह इलेक्ट्रिक वर्टिकल टेक-ऑफ और लैंडिंग में भी सक्षम है। Alauda Mk3 को फरवरी 2021 में दुनिया के सामने पेश किया गया था और इसे पहली बार उड़ान भरते हुए देखा गया है।

BhavanaSun, 20 Jun 2021 06:46 PM (IST)
Alauda Mk3 1950 और 1960 के दशक की रेसिंग कारों के डिजाइन से प्रेरित है।

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। World's First Flying Car: इलेक्ट्रिक और सेल्फ ड्राइविंग वाहन दुनिया भर में सुर्खियां बटोर रहे हैं। लेकिन इन वाहनों के अलावा फ्लाइंग कार (Flying Car) भी अपनी एक अलग जगह बना रही हैं। इसी तर्ज पर ऑस्ट्रेलिया की कंपनी अलाउडा एयरोनॉटिक्स ने काम करना शुरू कर दिया है। दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई कंपनी दुनिया को एक उड़ने वाली रेस कार का वादा कर रही है जो रेसिंग ट्रैक और हवा में समान रूप से उड़ान भरने में सक्षम होगी।

टेस्टिंग पर नजर आकर बनी सुर्खियां: Alauda Aeronautics ने हाल ही में दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में Alauda Mk3 फ्लाइंग कार की टेस्टिंग की है। जो 2021 में विश्व स्तर पर होने वाली तीन फ्लाइंग कार रेसों की Airspeeder EXA रेंज को फॉलो करेगी। Alauda Mk3 को इस साल फरवरी में दुनिया के सामने पेश किया गया था और इसे पहली बार उड़ान भरते हुए देखा गया है। Alauda MK3 एयरस्पीडर का एक हिस्सा है, जो आगामी क्रू रेसिंग रेंज है। इसके अलावा, कंपनी ने EXA की भी घोषणा की है।

मनुष्य और मशीन की ऐतिहासिक उड़ान: Mk3 के अंदर मानव फ्रेम का प्रतिनिधित्व करने के लिए एक डमी होगी। बाहर बैठे पायलेट कार को उसी तरह नियंत्रित कर सकते हैं जैसे एक पायलट असली कॉकपिट के अंदर कंट्रोल करता है। दूसरी ओर, दर्शक डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन स्ट्रीम कर सकेंगे। यह वैश्विक दर्शकों से जुड़ने का एक बेहतर तरीका होगा।अलाउडा एयरोनॉटिक्स और एयरस्पीडर के संस्थापक मैथ्यू पियर्सन ने कहा, “EXA एक ऐसे भविष्य के वादे को पूरा करता है जिसे पहली बार साइंस फिक्शन में दिखाया गया है। हमें एक ऐसे खेल की शुरुआत करने पर गर्व है जो यह परिभाषित करता है कि मनुष्य और मशीनें एक साथ क्या हासिल कर सकती हैं। ये ऐतिहासिक पहली उड़ानें सिर्फ शुरुआत हैं, और हम सभी मोटरस्पोर्ट की विरासत में एक नया अध्याय शुरू करने के लिए उत्साहित हैं।"

2.8 सेकंड में 0 से 62 मील प्रति घंटे की रफ्तार: जानकारी के लिए बता दें, Alauda Mk3 को एक सिम्युलेटर के माध्यम से काफी दूर से कंट्रोल किया जाता है। Alauda Mk3 1950 और 1960 के दशक की रेसिंग कारों के डिजाइन से प्रेरित है। यह इलेक्ट्रिक वर्टिकल टेक-ऑफ और लैंडिंग में भी सक्षम है। इस वाहन का कुल वजन केवल 130 किलोग्राम है और यह 80 किलोग्राम तक की वहन क्षमता से लैस है। इसके अलावा यह कम से कम 2.8 सेकंड में 0 से 62 मील प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है। सबसे दिलचस्प बात यह है कि MK3 फ्लाइंग कार का थ्रस्ट-टू-वेट रेशो 3.5 है। यह F-15E स्ट्राइक ईगल (thrust-to-weight ratio of 1.2) से भी अधिक है, जो दुनिया का सबसे एडवांस लड़ाकू विमान है।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.