बुलेट ट्रेन से भी तेज है इन 5 कारों की स्पीड, बना चुकी हैं कई सारे रिकॉर्ड

नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। जल्द ही भारत 18 शिंकनसेन बुलेट ट्रेन खरीदने जा रहा है। वहीं, जापान भी बुलेट ट्रेन देने से पहले सेफ्टी टेक्नोलॉजी सिखाने पर जोर दे रहा है। ऐसे में माना जा रहा है भारत में जो बुलेट ट्रेन आएंगी उनकी औसतन स्पीड 250 किमी प्रति घंटा और टॉप स्पीड 320 से 350 प्रति घंटा हो सकती है, जो कि भारत में मौजूद सबसे तेज ट्रेन की दोगुनी रफ्तार से ज्यादा है। लेकिन अगर हम इन ट्रेनों की रफ्तार ऑटो इंडस्ट्री से जोड़े तो बाजार में कई ऐसी कारें मौजूद हैं जिनकी रफ्तार बुलेट ट्रेन से कहीं ज्यादा है। आज हम आपको अपनी इस खबर में ऐसी ही कुछ कारों के बारे में बताने जा रहे हैं।

Hennessey Venom GT

इस कार को वर्ष 2010 में पहली बार लॉन्च किया गया था। Hennessey ने बीते साल केनेडी स्पेस सेंटर में 270.4 mph यानी 43 kmph की स्पीड का रिकॉर्ड बनाया था लेकिन यह सिर्फ एक डायरेक्शन के लिए ही था। इसके अलावा इस कार को दुनिया की सबसे फास्ट कार के तौर पर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की ओर से मान्यता नहीं मिली। इस कार को 0 से 300 kmph की रफ्तार पकड़ने में 13.6 सेकंड़ का वक्त लगता है। इसके अलावा इस कार ने 435.2 kmph प्रोडक्‍शन कार स्‍पीड रि‍कॉर्ड और 427.4 kmph कन्‍वर्टि‍बल स्‍पीड रि‍कॉर्ड को हासि‍ल कर लि‍या है।

Bugatti Chiron

इस कार का मात्र 41.96 सेकंड में 400 kmph की स्पड का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का रिकॉर्ड है। कार की टॉप स्पीड 420 kmph दर्ज की गई है। कंपनी ने इसमें 8 लीटर का इंजन दिया है जो 1500 bhp की पावर देता है। जर्मनी के टॉप सीक्रेट इहरा-लेसि‍न टेस्‍ट ट्रैक में पूर्व फॉर्मूला वन स्‍टार जुआन पाब्‍लो मोन्‍टोया ने इसकी परफॉर्मेंस की टेस्टिंग की थी। कंपनी इस वक्त 500 चिरोन्स बना रही है, जि‍नमें से 300 पहले ही बुक हो चुकी हैं। प्रत्येक की कीमत 17 करोड रुपये से ज्याद है।

SSC Ultimate Aero

शेल्बी सुपरकार्स (SSC) की अल्टिमेट ऐरो ने दुनिया में फास्टेस्ट प्रोडक्शन कार का खिताब हासिल किया है। इस कार की टॉप स्पीड 411.99 kmph है और इसने वेरॉन के नॉन सुपर स्पोर्ट वर्जन को पछड़ा था। इस कार में 6.3 लीटर का ट्विन टर्बोचार्ज्ड V इंजन लगा है जो 1,287 bhp की पावर देता है।

Koenigsegg CCR

वुगाटी वेरॉन से पहले सुपरकार निर्माता कंपनी Koenigsegg के पास दुनिया की सबसे फास्टेस्ट कार का खिताब था। साल 2005 में Koenigsegg CCR की टॉप स्पीड 389 kmph थी। इस कार में 4.7 लीटर का V8 इंजन लगा है। यह कार कंपनी के खुद के डिजाइन और कार्बन फाइबर बॉडी के साथ आई थी।

Lamborghini Aventador

यह कार भारत में अब तक की सबसे तेज स्पीड से चलने वाली कार है। लैम्बोर्गिनी अवेंटाडोर की टॉप स्पीड 350 kmph है जोकि भारत में चलने वाली बुलेट ट्रेन जितनी ही है। इस कार में 6.5 लीटर V1 इंजन लगा है, जो 700 PS की पावर और 690 Nm का टॉर्क जनरेट करता है। इस कार को 0 से 100 किमी की रफ्तार पकड़ने में मात्र 2.9 सेकंड़ का वक् लगता है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.