फ्यूल खत्म होने के बाद भी 40 किलोमीटर चलेगी नई Jeep Wrangler, अगले साल होगी लॉन्च

रीचार्जेबल Jeep Wrangler होगी 2021 में लॉन्च

रैंगलर की नई एसयूवी एक प्लग इन हाइब्रिड है ऐसे में इसे आसानी से चार्ज किया जा सकता है। इंजन के साथ ही इस एसयूवी को इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरी की मदद से 40 किलोमीटर तक अतिरिक्त चलाया जा सकता है।

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 06:26 PM (IST) Author: Vineet Singh

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। दुनियाभर में बेहद पॉपुलर ऑफ रोड एसयूवी जीप रैंगलर का प्लग-इन-हाइब्रिड वर्जन मार्केट में पेश कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार कंपनी इस वर्जन को अगले साल मार्केट में लॉन्च करने की तैयारी में है। हालांकि शुरुआत में कंपनी इस एसयूवी को अमेरिका समेत कई अन्य यूरोपीय देशों में लॉन्च करने की तैयारी में है। कुछ समय बीतने के बाद भारत में भी इसे लॉन्च कर दिया जाएगा। ये एसयूवी ज्यादा माइलेज देगी साथ ही कम प्रदूषण फैलाएगी।

रैंगलर की नई एसयूवी एक प्लग इन हाइब्रिड है ऐसे में इसे आसानी से चार्ज किया जा सकता है। इंजन के साथ ही इस एसयूवी को इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरी की मदद से 40 किलोमीटर तक अतिरिक्त चलाया जा सकता है। इसमें 2-लीटर का टर्बोचार्ज्ड इंजन दिया जाएगा। इंजन कर्तव्यों का पालन करेगा। इस इंजन की बदौलत एसयूवी जबरदस्त पावर जेनरेट करने में सक्षम है।

रैंगलर हाइब्रिड का डिजाइन इसके मौजूदा मॉडल के जैसा ही होगा। ऐसे में आपको लुक में ज्यादा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा हालांकि आप पहले के मुकाबले कहीं ज्यादा दूरी तक इस एसयूवी से सफर कर सकते हैं।

आमतौर पर भारत में मौजूद ज्यादातर कारें नॉर्मल हाइब्रिड हैं जिनकी बैटरी कार चलने के साथ ही चार्ज होती रहती है लेकिन फिएट क्रिसलर की प्लग इन हाइब्रिड को आप खुद ही चार्ज कर सकते हैं जिससे जरूरत के समय इसका इस्तेमाल किया जा सके। ग्राहकों को इस नई तकनीक से काफी फायदा मिलेगा और अब आपकी एसयूवी पहले से कहीं ज्यादा माइलेज भी देगी।

जीप के अधिकारियों ने पहले ही कहा है कि वे रिचार्जेबल रैंगलर के लिए एक बाजार देखते हैं। हालांकि अभी मार्केट में इस तकनीक से लैस कारें कम हैं लेकिन आने वाले समय में प्लग इन हाइब्रिड कारों की संख्या में तेजी से बढ़ोत्तरी होगी क्योंकि पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं ऐसे में प्लग-इन-हाइब्रिड एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती हैं जिनसे कम प्रदूषण होगा साथ ही आप हजारों रुपये की मंथली बचत भी कर सकते हैं।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.