This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Happy Mothers Day 2019: मां की सिक्योरिटी और सेहत का रखें ख्याल इन गिफ्ट आइटम्स के साथ

Mothers Day Gift Ideas मां की ममता और प्यार को किसी चीज से तौल नहीं सकते लेकिन छोटी-छोटी बातें और चीजों से उन्हें बड़ी खुशी का एहसास जरूर करा सकते हैं। 12 मई को मदर्स डे है।

Priyanka SinghSun, 12 May 2019 01:32 PM (IST)
Happy Mothers Day 2019: मां की सिक्योरिटी और सेहत का रखें ख्याल इन गिफ्ट आइटम्स के साथ

नई दिल्ली, जेएनएन। Mother's Day 2019 Gift Ideas: आज दौर में ऐसी हाईटेक तकनीक और डिवाइस आ गई हैं, जिनकी मदद से न सिर्फ घर के कामों को आसानी के किया जा सकता है, बल्कि घर की सिक्योरिटी पर नजर रखने के साथ ही सेहत का भी खयाल रखा जा सकता है। ऐसे में मां के लिए कुछ तकनीकी उपहार से बेहतर क्या हो सकता है।

होम क्लीनिंग डिवाइस: हाईटेक गैजेट्स ने हर मुश्किल काम को आसान बना दिया है। घर की साफ-सफाई के लिए झाड़ू-पोछा को रिप्लेस करने के लिए अब कई एडवांस और स्मार्ट हाई टैक गैजेट्स मौजूद हैं। घर के कामों में मां का हाथ बंटा सकता है। वैक्यूम क्लीनर अब छोटा और सुविधाजनक होता जा रहा है। जितने समय में आप झाड़ू से एक कमरे की सफाई करेंगे, उतने समय में वैक्यूम क्लीनर 3-4 कमरों को साफ कर देगा। इसके लिए आइरोबोट, सेल्फ क्लीनिंग लिटिल बॉक्स, रोबोट मोप, सोनिकस्क्रबर होम डिवाइस उपयोगी हो सकते हैं। फरबॉल वैक्यूम क्लीनर काफी डिमांड में है। कलरफुल होने की वजह से यह काफी आकर्षक नजर आता है। फुटबॉलनुमा यह वैक्यूम क्लीनर ऑटोमैटिकली पूरे घर में बॉल की तरह घूमते हुए फर्श की सफाई करता है। छोटे कमरों की सफाई के लिए उययोगी है। इतना ही नहीं, किचन टेबल, डाइनिंग टेबल के साथ-साथ घर में रखी बाकी टेबल्स की सफाई के लिए अब एक हाथ में स्प्रे और दूसरे में स्पंज लेकर घूमने की जरूरत नहीं है। हाउसकीपिंग डिवाइस की सहायता से मुश्किल लगने वाले इन कायरें को आसानी से किया जा सकता है। टाइम सेट करते ही ये गैजेट खुद-ब-खुद सफाई में जुट जाते हैं। ऐसे में होम क्लिनिंग डिवाइस एक अच्छा गिफ्ट ऑप्शन हो सकता है।

स्मार्ट होम अप्लायंसेज: आजकल बहुत सारे स्मार्ट होम अप्लायंसेज आ गए हैं, जो आटा गूंथने के साथ स्मार्ट कुकिंग में भी मददगार होते हैं। इन स्मार्ट डिवाइस की खासियत होती है कि इन्हें एप के साथ पेयर कर स्मार्टफोन के जरिए मॉनीटर किया जा सकता है। इसकी मदद से टेम्परेचर को एडजेस्ट करने, कुकिंग टाइम को सेट करने के साथ रिमोटली पावर को स्विच भी कर सकते हैं। न्यूट्रिसेफ स्मार्ट ब्लूटूथ थर्मोमीटर ऐसी ही डिवाइस है, जिसकी रेंज 200 फीट से अधिक है। अगर आपका मील तय टेम्परेचर तक पहुंच जाता है, तो यह स्मार्टफोन पर नोटिफिकेशन भेजने के साथ अलार्म के जरिए एलर्ट करता है। साथ ही, रियल टाइम में टेम्परेचर भी देख सकते हैं। विटामिक्स स्मार्ट ब्लैंडर बिल्ड इन वायरलैस कनेक्टिविटी के साथ आता है। इसकी खासियत है कि इसमें 17 तरह के ब्लैंडिग प्रोग्राम हैं और इसका इस्तेमाल 500 रेसिपीज के लिए किया जा सकता है। यह एप को सपोर्ट करता है। वीमो वाई-फाई एनेबल्ड स्लो कुकर है। इसकी मदद से कुकिंग टाइम और टेम्परेचर को एडजेस्ट किया जा सकता है। इसे भी एप के जरिए मॉनीटर किया जा सकता है। ड्रॉप स्केल डिवाइस की खासियत है कि किस रेसिपीज में कितनी मात्रा में इंग्रेडिएट का इस्तेमाल करना है, उसके बारे में बताता है।

हेल्थ डिवाइस: एक उम्र के बाद हेल्थ से संबंधित समस्याएं आम हैं। ऐसे में उनकी बेहतर स्वास्थ्य के लिए हेल्थ से संबंधित डिवाइस को गिफ्ट करना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। आजकल इस तरह के हेल्थ मॉनीटरिंग डिवाइस आ गए हैं, जिनकी मदद से घर बैठे भी सेहत पर नजर रखी जा सकती है। पोर्टेबल ईकेजी मॉनीटर ऐसा ही डिवाइस है, जिसकी मदद से हॉर्ट की हेल्थ को घर बैठे भी चेक कर सकते हैं। केवल 30 सेकंड में ईसीजी रिपोर्ट को डेडिकेटेड एप के जरिए स्मार्टफोन पर देखा जा सकता है। इसके अलावा, वायरलेस ब्लड प्रेशर मॉनीटर की नोकिया बीपीएम प्लस, ओमरॉन बीपी785एन10 , केयर टच, क्वार्डियोआर्म वायरलेस प्रेशर मॉनीटर आदि अच्छा ऑप्शन हो सकता है। अगर आप चाहें, तो वायरलेस स्मार्ट ग्लुकोमीटर या फिर ब्रेन सेंसिंग हेडबैंड भी गिफ्ट कर सकते हैं, जो ईईसी सेंसर से लैस है। इसके अलावा, आजकल बहुत सारे फिटनेस बैंड भी आ गए हैं, जो एक अच्छा गिफ्ट आइडिया हो सकता है।

ख्याल रखेंगे होम सेफ्टी डिवाइस: अगर मां घर पर अकेली हों, तो फिर उनकी सेफ्टी के लिए परेशान होना जरूरी है। होम सिक्योरिटी डिवाइस घर की सेफ्टी के जरूरी है। इसके लिए रिंग वीडियो डोरबेल प्रो एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है। यह डिवाइस एलैक्सा को भी सपोर्ट करता है। इसकी खासियत है कि जैसे ही कोई दरवाजे के बाहर खड़ा होगा, स्मार्टफोन पर तुरंत नोटिफिकेशन और लाइव वीडियो फीड आ जाएंगे। अच्छी बात है कि इस डिवाइस में बिल्ट-इन माइक्रोफोन भी है, जिससे रियल टाइम में उस व्यक्ति से बातचीत भी की जा सकती है। इसमें मोशन सेंसर फीचर है, जिससे दरवाजे के आसपास मंडराने वाले लोगों की जानकारी भी मिल जाएगी। यह आइओएस, एंड़्रॉयड, मैक, विंडोज 10 डिवाइस को सपोर्ट करने में सक्षम है। इसके अलावा, वायरलैस सिक्योरिटी कैमरा की मदद भी ली जा सकती है, जैसे- अर्लो प्रो 2, रिओलिंक आर्गस प्रो, ब्लिंग होम सिक्योरिटी, रिंग स्पोटलाइट कैमरा बैटरी, कैनरी फ्लैस आदि। ये घर की सेफ्टी पर नजर रखेंगे।

 

अगर है भूलने की परेशानी: एक उम्र के बाद लोगों की याददाश्त कमजोर होने लगती है। घर पर बुजुर्ग मां हो और वह घर से बाहर निकलने के बाद रास्ता भूलने लगती हैं, तो महानगरों में जीपीएस ट्रैकर जैसे डिवाइस उपयोगी साबित हो सकते हैं। इसके लिए पॉकेट फाइंडर, एंजलसेंस एल्डर्ली जीपीएस ट्रैकर ऐंड एप, आइट्रैक, ट्रैक्स, स्पाई टेक मिनी जीपीएस ट्रैकर, स्पोट 3 सेटेलाइट जीपीएस मैसेंजर, जीपीएस स्मार्टसोल आदि जैसे डिवाइस की मदद ली जा सकती है। इन डिवाइस की खासियत है कि इनकी मदद से लोकेशन को ट्रैक किया जा सकता है। यदि वे एक खास एरिया से बाहर जाती हैं, तब भी यह डिवाइस एलर्ट करता है।

रहेंगे कनेक्ट: इंटरनेट की पहुंच गांव-गांव और छोटे कस्बों तक होने की वजह से फैमिली मेंबर्स के साथ कनेक्ट रहना काफी आसान हो गया है। दूर रखकर भी हर वक्त कनेक्ट रहा जा सकता है और इसे आसान बनाया है- वाट्सएप, फेसबुक मैसेंजर, गूगल डुओ, स्काइप जैसे प्लेटफॉर्म ने। यही नहीं, इस तरह के और भी बहुत सारे प्लेटफॉर्म हैं, जिसमें भी वीडियो कॉलिंग की सुविधा भी है, जैसे- स्काइप, हैंगआउट, ओवू, आईएमओ, लाइन, स्लैक आदि। इन प्लेटफॉर्म की खासियत है कि अगर मां घर से दूर हों, तब भी वीडियो कॉलिंग के जरिए आसानी से न सिर्फ फेस-टु-फेस बातचीत कर सकते हैं, बल्कि कभी भी और कभी से भी कनेक्ट रहा जा सकता है। अच्छी बात यह है कि ये प्लेटफॉर्म फ्री हैं। लेकिन मां टेक सेवी न हों, तो उन्हें इसके बारे में जागरूक और बताना होगा कि इसे कैसे इन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जा सकता है। ताकि दूर रह कर भी आप उनसे कनेक्ट रह सकें।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Priyanka Singh