17 दिन में मिले 610 मरीज, एक भी नहीं हुआ अस्पताल में भर्ती

कोरोना से परेशान जिले के लोगों के लिए राहत की खबर है। एक जनवरी से अब तक जिले में कोरोना के 610 केस मिल चुके हैं। इसमें 399 ठीक भी हो चुके हैं। किसी को अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ी है। ि

JagranPublish: Mon, 17 Jan 2022 09:38 PM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 09:38 PM (IST)
17 दिन में मिले 610 मरीज, एक भी नहीं हुआ अस्पताल में भर्ती

जागरण संवाददाता, साहिबगंज : कोरोना से परेशान जिले के लोगों के लिए राहत की खबर है। एक जनवरी से अब तक जिले में कोरोना के 610 केस मिल चुके हैं। इसमें 399 ठीक भी हो चुके हैं। किसी को अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ी है। जिला प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराई गई कोविड किट की दवा खाकर ही मरीज पांच से सात दिन में स्वस्थ हो गए। शरीर में थोड़ी-बहुत कमजोरी दिखती है, लेकिन मरीज सामान्य तौर पर सभी कार्य करते हैं। इससे जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है।स्वास्थ्य विभाग लगातार लोगों से एहतियात बरतने की अपील कर रहा है। किसी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल जांच की सलाह दी जा रही है। प्रत्येक दिन जांच के लिए करीब दो हजार सैंपल एकत्र किया जा रहा है। चिकित्सकों का मानना है कि जिले के अधिकतर लोग टीके का पहला डोज ले चुके हैं। शहरों में रहनेवाले तो अधिकतर लोग दूसरी डोज भी ले चुके हैं। उनमें रोग प्रतिरोधी क्षमता का विकास हो चुका है। इस वजह से कोरोना का असर कम हो रहा है। वैसे स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना के लिए चिह्नित सभी अस्पतालों में व्यवस्था चाक-चौबंद कर रही है। मरीजों के आने पर उन्हें भर्ती भी किया जाएगा।

जिले में सक्रिय केस की स्थिति

प्रखंड एक्टिव केस डिस्चार्ज कुल केस

बरहड़वा 13 24 37

बरहेट 11 25 26

बोरियो व मंडरो 13 33 46

पतना 08 36 44

राजमहल व उधवा 41 40 81

तालझारी 15 16 31

सदर प्रखंड 110 227 335

----

वर्जन :::

जिले में 17 दिन में कोरोना के 610 मरीज मिले हैं। इनमें से 399 ठीक भी हो चुके हैं। अब तक किसी को कोई खास समस्या नहीं हुई। लोगों में सर्दी-खांसी के सामान्य लक्षण ही पाए गए हैं। किसी को कोई खास समस्या अब तक नहीं हुई है। किसी को अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत भी नहीं पड़ी है। वैसे लोगों को एहतियात बरतने की जरूरत है। लोगों को अपनी जांच करानी चाहिए तथा घरों से बिना वजह निकलने से परहेज करना चाहिए। निकलने पर मास्क जरूर लगाएं।

डा. अरविद कुमार, सिविल सर्जन, साहिबगंज

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept