Conversion: मतांतरण के विरुद्ध घर वापसी के लिए पूरे देश में अभियान चलाएगी विहिप

Conversion in Jharkhand VHP News विहिप के केंद्रीय अध्यक्ष डॉ. आरएन सिंह ने कहा कि संगठन लोगों को जागरूक करने का काम करेगी। इसके साथ ही घर वापसी के लिए अभियान चलाएगी। विहिप सरकार पर भी दबाव डालेगी।

Sujeet Kumar SumanPublish: Wed, 11 Aug 2021 04:21 PM (IST)Updated: Wed, 11 Aug 2021 07:49 PM (IST)
Conversion: मतांतरण के विरुद्ध घर वापसी के लिए पूरे देश में अभियान चलाएगी विहिप

रांची, जासं। विश्व हिंदू परिषद यानि विहिप के केंद्रीय अध्यक्ष डॉ. आरएन सिंह ने कहा है कि झारखंड सहित पूरे देश में बड़ी संख्या में ईसाई मिशनरियों की ओर से मतांतरण कराया जा रहा है। इसके खिलाफ विहिप लोगों को जागरूक करने का काम करेगी। इसके साथ ही घर वापसी के लिए अभियान चलाएगी। उन्होंने झारखंड सरकार से भी मांग की कि इसको रोकने के लिए अपने स्तर से प्रयास करें। वे बुधवार को झारखंड प्रांत की दो दिवसीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद रांची के लक्ष्मी नारायण मंदिर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि देश के 11 राज्यों में मतांतरण के विरुद्ध कानून बना हुआ है, परंतु इसे सख्ती से लागू नहीं किया गया है। इस कारण राष्ट्रीय स्तर पर कानून बनाने के लिए विहिप केंद्र सरकार पर दबाव बनाएगी। जरूरत पड़ने पर प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से भी विहिप का प्रतिनिधिमंडल मिलेगा। आदिवासी हिंदू नहीं हैं, कुछ लोगों द्वारा यह कहे जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पूजा करने वाले सभी हिंदू हैं। कौन क्या कहता है, इस पर मुझे कुछ नहीं कहना है।

डाॅ. सिंह ने कहा कि झारखंड सहित पूरे देश में भोले-भाले आदिवासियों को मतांतरित कराने का काम जारी है। इसका मूल कारण अशिक्षा और गरीबी है। इसे केंद्र में रखकर विहिप अपने स्तर से प्रयास कर रही है। जहां स्थिति सुधरी है, वहां पादरियों का लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। पत्रकार वार्ता में कड़‍िया मुंडा ने कहा कि गांवों में लोग अब ईसाई मिशनरियों के खिलाफ खड़े होने लगे हैं। उन्होंने कहा कि सुनने में आता है कि एक हिंदू का मतांतरण कराने वाले व्यक्ति को पांच हजार रुपये मिलता है, लेकिन लोग सजग हो रहे हैं।

मंदिरों को सरकारी नियंत्रण से मुक्त करने की मांग

डाॅ. सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार कानून बनाकर देश के सभी मठ मंदिरों को सरकारी नियंत्रण से मुक्त करे। मंदिरों से जो भी आमदनी हो रही है, उसका उपयोग हिंदू समाज के उत्थान के लिए किया जाए।

स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए की जाएगी टेली मेडिसिन की व्यवस्था

डाॅ. सिंह ने कहा कि विहिप ने पूरे देश में टेली मेडिसिन चालू करने का निर्णय लिया है। इसके माध्यम से लोगों को चिकित्सीय सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। जब जरूरतमंद इस नंबर पर फोन करेंगे तो उन्हें संबंधित चिकित्सक से सलाह दिलवाई जाएगी। इससे पूरे देश में सैकड़ों चिकित्सक जुड़े रहेंगे।

ट्रस्टी बोर्ड के सदस्य बने कड़‍िया मुंडा

विहिप ने पूर्व लोकसभा उपाध्यक्ष पद्मभूषण कड़‍िया मुंडा को केंद्रीय ट्रस्टी बोर्ड का सदस्य बनाया है। वहीं पद्मश्री मुकुंद नायक को प्रदेश उपाध्यक्ष घोषित किया है। साथ ही हंस राज बेताला को पटना क्षेत्र का सेवा प्रमुख बनाया गया है। मौके पर प्रदेश कार्याध्यक्ष तिलक राज मंगलम, क्षेत्र संगठन मंत्री केशव राजू, क्षेत्र मंत्री वीरेंद्र विमल, प्रदेश मंत्री वीरेंद्र साहू, प्रदेश संगठन मंत्री देवी सिंह, प्रचार प्रमुख अमर प्रसाद आदि उपस्थित थे।

Edited By Sujeet Kumar Suman

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept