बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन ने उठाए सख्त कदम

जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए प्रशासन अलर्ट मोड पर है।

JagranPublish: Fri, 31 Dec 2021 08:21 PM (IST)Updated: Fri, 31 Dec 2021 08:21 PM (IST)
बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन ने उठाए सख्त कदम

जागरण संवाददाता, खूंटी : जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने सुरक्षा के ²ष्टिकोण से कई कड़े कदम उठाए हैं। पिकनिक मनाने पहुंचने वालों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इसके लिए पर्यटन स्थलों में विशेष चौकसी की जाएगी। बगैर मास्क के पाए जाने पर उन्हें जुर्माना देने के साथ पिकनिक स्थल से जाने के लिए भी कहा जा सकता है। इसके साथ ही अब खूंटी जिले में 20 से अधिक लोगों का जुटान होने वाले कार्यक्रमों के लिए अनुमंडल पदाधिकारी से अनुमति लेनी होगी। अब रांची समेत अन्य बड़े शहरों से आने वाले वाहनों की जांच की जाएगी। इसकी जानकारी जिले के उपायुक्त शशि रंजन ने दी। अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के मद्देनजर जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में कई आवश्यक निर्णय लिए गए हैं। उपायुक्त ने बताया कि जिले में पूरी तैयारी कर ली गई है और आने वाले समय में प्रशासन पूरी तत्परता के साथ लोगों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए बेहतर प्रयास करेगी। पत्रकारों से बात करते हुए उपायुक्त ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की डीडीएम की अध्यक्षता में फ्लाइंग स्क्वार्ड का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि जिले के सभी अंचल अधिकारी व थाना प्रभारी को विशेष मास्क जांच अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। जरूरत के मुताबिक इसके साथ कोविड जांच भी किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं।

बनाया जा रहा ऑक्सीजन बैंक, शुरू होगी कोविड ओपीडी

कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला स्तर पर ऑक्सीजन बैंक बनाया जा रहा है। अनुमंडल पदाधिकारी की अध्यक्षता में ऑक्सीजन बैंक का संचालन सुनिश्चित किया जाएगा। इस माध्यम से आवश्यकता के अनुसार लोगों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने आमजनों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना के लक्षण दिखते ही सावधानी बरतें व चिकित्सकों से संपर्क करें। किसी भी परिस्थिति में वैद्य या नीम-हकीमों से ईलाज ना कराते हुए स्वास्थ्य केंद्रों में जांच कराएं। उपायुक्त ने कहा कि लोगों को आवश्यक चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए स्थानीय स्तर पर भी व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए जिला मुख्यालय स्थित मातृ शिशु अस्पताल में कोविड ओपीडी भी शुरू किया जाएगा। जहां किसी भी प्रकार की शंका होने पर लोग अपना जांच करा सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिला नियंत्रण कक्ष को सक्रिय किया गया है। किसी भी प्रकार की सहायता व कोरोना संक्रमण से संबंधित समस्या की जानकारी 24 घंटे संचालित जिला नियंत्रण कक्ष के हेल्पलाइन नंबर 06528295236 और 7480014840 पर दे सकते हैं।

--

टीकाकरण में जिला दूसरे स्थान पर

उपायुक्त ने बताया कि भले ही टीकाकरण के मामले में खूंटी जिला दूसरे स्थान पर है, बावजूद इसके शंका व आशंका को देखते हुए जांच व टीकाकरण की रफ्तार तेज किया जाएगा। जल्द से जल्द शत प्रतिशत लोगों को कोविड का टीका लगाया जा सके यह सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि तीन जनवरी से 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों के कोविड टीकाकरण और वयस्कों के बूस्टर शॉट के लिए संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए है। जिला, प्रखंड और पंचायत स्तर पर एक बार फिर से मास्क जागरूकता सह जुर्माना अभियान का आयोजन करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया है, ताकि कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए लोग अभी से सतर्क और सुरक्षित रहें।

स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को किया जा रहा सु²ढ़

जिले में फिलहाल 20 आइसीयू व 10 पेडिएट्रिशन उपलब्ध है। साथ ही 280 ऑक्सीजन बेड उपलब्ध हैं। अधिक संख्या में टेस्टिग किट व मेडिसिन उपलब्ध है। 12 ट्रूनेट मशीन, आइसोलेशन किट, ऑक्सीजन युक्त बेड, ऑक्सीजन प्लांट के माध्यम से पर्याप्त ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था है। जरूरत के अनुसार ट्रूनेट मशीनों को 24 घंटे संचालित किया जाएगा। बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को रोकने के लिए मेडिकल टीमों को सर्वे हेतु तैयार किया गया है। उपायुक्त ने बताया कि अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि दो से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने पर संबंधित क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर आवश्यक दिशा निर्देश जारी करें। उन्होंने कहा कि एमसीएच अस्पताल को डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में परिवर्तित कर दिया गया है। साथ ही हर प्रखंडों में आइसोलेशन सेंटर की सुविधा उपलब्ध है। इसके लिए जिला नियोजन पदाधिकारी बम बैजू को इंसिडेंट कमांडर के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept