श‍िबू सोरेन के घर के पास गैंगवार के बाद, दुकान हटाने पहुंची निगम, धारा 144 के बावजूद कांग्रेस का जमावड़ा, तस्वीरों में देखें

Jharkhand News रांची नगर निगम की टीम आज मोरहाबादी मैदान पहुंचकर दुकान हटाने लगी है लेकिन मोराहबादी मैदान के दुकानदार प्रदर्शन करने लगे है। मोरहाबादी में गुरूवार को हुई फायरिंग के बाद रांची प्रशासन सख्त हो गया है।

Sanjay KumarPublish: Sat, 29 Jan 2022 10:56 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 01:58 PM (IST)
श‍िबू सोरेन के घर के पास गैंगवार के बाद, दुकान हटाने पहुंची निगम, धारा 144 के बावजूद कांग्रेस का जमावड़ा, तस्वीरों में देखें

रांची, जागरण संवाददाता। Jharkhand News : रांची के मोरहाबादी मैदान के करीब श‍िबू सोरेन के घर के पास गुरूवार को गैंगवार होने के बाद धारा 144 लागू कर दी गई थी। अब रांची नगर निगम की टीम वहां पहुंच चूकी है। रांची नगर निगम द्वारा दुकानदार के लिए ऐलान किया जा रहा है कि अपने दुकान हटा लिया जाए। नगर निगम का कहना है कि सामान नहीं हटाया गया तो सामान को जब्त कर ली जाएगी। सब्जी बाजार व ठेला लगाने पर भी रोक लगा दी गई है।

दरअसल, मोरहाबादी में गुरूवार को हुई फायरिंग के बाद रांची प्रशासन सख्त हो गया है। फायरिंग मामले में हेमंत सोरेन ने भी अधिकारियों को कड़ी फटकार लगायी थी। जिसके बाद रांची नगर निगम की टीम ने ऐलान किया कि मोरहाबादी मैदान में दुकान है, वह अपने से दुकान और सामान हटा लें, अन्यथा सामान जब्त कर ली जाएगी।

इसी को लेकर रांची नगर निगम की टीम आज मोरहाबादी मैदान पहुंचकर दुकान हटाने लगी है, लेकिन मोराहबादी मैदान के दुकानदार प्रदर्शन करने लगे है।

मोरहाबादी मैदान में धारा 144 लागू है। लेकिन, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी के स्वागत में मोराबादी मैदान में रैली निकाली और काफी संख्या में जमावड़ा भी लगा रहा है।

रांची नगर निगम के सीओ दुकानों का लिस्टिंग करते हुए।

मोरहाबादी की में क्या हुआ था घटना

राजधानी के सबसे सुरक्षित माने जाने वाला मोरहाबादी गुरुवार को गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा गया। दोपहर 1.55 मिनट पर हुए गैंगवार में कार से जा रहे कालू लामा पर विरोधी गुट के अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। अपराधियों ने कालू लामा के गर्दन में सटा कर गोली मारी जिससे मौके पर ही दम तोड़ दिया। जबकि गोलीबारी में घायल राजू लामा और शुभम विश्वकर्मा को गंभीर हालात में रिम्स भर्ती कराया गया। कालू लामा के भाई राजू को पेट में गोली लगी है, वहीं कार चला रहे शुभम विश्वकर्मा के हाथ और कमर में गोली लगी। कालू लामा और शुभम विश्वकर्मा बरियातू थाना क्षेत्र के एदलातू का रहने वाला है। कालू लामा के खिलाफ एक दर्जन से हत्या, रंगदारी आदि के एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

करीब 15 मिनट तक तांडव मचाते रहे अपराधी

अपराधी करीब 15 मिनट तक भीड़ भाड़ वाले इलाके में तांडव मचाते रहा। गोली चलने की आवाज सुनते ही भगदड़ मच गई। लोग इधर-उधर भागने लगे। कुछ लोगों का यह भी कहना था कि वहां कुछ पुलिसकर्मी भी चाय पी रहे थे, लेकिन अपराधियों के हौसले के आगे चुप चाप रहना ही उचित समझा। इधर, घटना की जानकारी मिलते ही सिटी एसपी सौरभ, सिटी डीएसपी दीपक कुमार, लालपुर थानेदार राजीव कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन की। क्रेन मंगवाकर कार को वहां से हटाया। घटना स्थल से एक पिस्टल भी पुलिस ने बरामद किया।

जानकारी के अनुसार एदलातू के एक बेसकीमती जमीन को लेकर कालू लामा और बरियातू इलाके का ही अपराधी लवकुश शर्मा से अदावत थी। जमीन विवाद में ही लवकुश शर्मा का भाई सोनू शर्मा ने घटना को अंजाम दिया। हत्याकांड को अंजाम देने के लिए तीन बिहार के जहानाबाद से तीन शूटर मंगवाया था।

Edited By Sanjay Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept