This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Ranchi Health : सर्वाइकल कैंसर की जांच को लेकर रातू सीएचसी में उमड़ी महिलाओं की भीड़

Ranchi Health सर्वाइकल कैंसर(Cervical Cancer) की स्क्रीनिंग को लेकर मंगलवार को रातू स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर(Mega Womens Health Camp) और सरकारी स्त्री रोग चिकित्सकों(Gynecologists) के लिए प्रशिक्षण शिविर का उद्घाटन किया।

Sanjay KumarTue, 30 Nov 2021 03:05 PM (IST)
Ranchi Health : सर्वाइकल कैंसर की जांच को लेकर रातू सीएचसी में उमड़ी महिलाओं की भीड़

रांची (जासं)। Ranchi Health : सर्वाइकल कैंसर(Cervical Cancer) की स्क्रीनिंग को लेकर मंगलवार को रातू स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर(Mega Women's Health Camp) और सरकारी स्त्री रोग चिकित्सकों(Gynecologists) के लिए प्रशिक्षण शिविर का उद्घाटन  किया। वीमेंस डाक्टर्स विंग(Women's Doctors Wing) आइएमए झारखंड की अध्यक्ष डा भर्ती कश्यप और स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह आयोजन किया जा रहा है।

इस बीमारी को समय रहते सिर्फ जांच कर किया जा सकता है दूर:

इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि यह अभियान एक सेवा का अभियान है। लोगों को इसे लेकर जगरूक होना होगा। इस बीमारी का इलाज है, इसके लिए सरकार की और से कई कैंप का भी आयोजन किया जाता है। राष्ट्रीय आइएमए के अध्यक्ष डा जेए जयालाल ने कहा कि इस बीमारी को समय रहते सिर्फ जांच कर दूर किया जा सकता है।

आज भी हर आठ मिनट में एक महिला की सिर्फ सर्वाइकल कैंसर से होती है मौत:

दिल्ली मैक्स हॉस्पिटल(Delhi Max Hospital) से आई डा कनिका गुप्ता ने बताया की आज भी हर आठ मिनट में एक महिला की मौत सिर्फ सर्वाइकल कैंसर से होती है। 

इसलिए महिलाओ को जांच कराते रहना चाहिए। इस मौके पर रातू केंद्र में काफी संख्या में महिलाएं जांच के लिए पहुंची। इस अभियान का लक्ष्य ही इस बीमारी से निजात दिलाना है। जगरूकता बढ़ानी है।

राज्य की 6 प्रतिशत महिलाएं इस रोग से है पीड़ित:

स्वास्थ्य सचिव अरुण सिंह ने कहा कि यह अभियान बीच में धीमा हो गया था। लेकिन अब से गति दिया जा रहा है। राज्य की 6 प्रतिशत महिलाएं इस रोग से पीड़ित है। मुख्य कारण सफाई से नहीं रहने का कारण। साहिया को अब प्रशिक्षित कर ऐसी महिलाओ को चिंहित करेंगे। राज्य में जो 960 जांच हुई वो भी सही से नहीं हुई।

लुकोरिया एवं इन्फेक्शन से ग्रसित सभी महिलाओं को कीट-2 एवं कीट-6 की गोलियां बांटी जायेगी मुफ्त:

मैक्स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल(Max Super Specialty Hospital) दिल्ली की स्त्री रोग विशेषज्ञ डा कनिका गुप्ता की टीम द्वारा इलाज किया जा रहा है। साथ ही झारखंड सरकारी स्त्री रोग विशेषज्ञों को सर्वाइकल प्री-कैंसर की जांच और उपचार का प्रशिक्षण भी प्रदान कराया जायेगा।

इस मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर के तहत महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की जायेगी। शिविर में आने वाली सभी महिलाओं को एक महीने की आयरन फोलिक एसिड एवं एवं कैल्शियम की गोलियां मुफ्त बांटी जा रही है। जननांग से सफेद स्त्राव यानी कि लुकोरिया एवं इन्फेक्शन से ग्रसित सभी महिलाओं को कीट-2 एवं कीट-6 की गोलियां मुफ्त में बांटी जायेगी।

महिलाओ को सफाई पर ध्यान देना होगा, समस्या होती होने पर ले सरकारी मदद:

डा. भारती कश्यप ने बताया कि सर्वाइकल कैंसर स्क्रीनिंग(Cervical Cancer Screening) में झारखंड की स्थिति पश्चिम बंगाल से बेहतर है। मातृत्व स्वास्थ्य कोषांग राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन नामकुम की नोडल पदाधिकारी के द्वारा 24 नवंबर को रातू सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में होने वाले मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रचार-प्रसार किया जा चुका है। आई एम झारखंड प्रदीप कुमार सिंह ने बताया की महिलाओ को सफाई पर ध्यान देना होगा और अगर कोई समस्या होती है तो सरकारी मदद से जांच करवा सकते है।

सर्वाइकल कैंसर के खतरे के कारण :

  • 18 वर्ष के कम आयु के पर्व संभोग करना।
  • एक से अधिक लोगों के साथ यौन संबंध।
  • यौन रोगों का व्यक्तिगत इतिहास।
  • कई गर्भधारण।
  • बिना डाक्टरों की सलाह के गर्भनिरोधक गोलियों को लंबे समय तक प्रयोग।
  • कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली।
  • धूमपान/ तंबाकू का सेवन।

Edited By Sanjay Kumar

रांची में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!