Jharkhand Politics: सांसद संजय सेठ ने कहा, पेट्रोल - डीजल की कीमत में पांच रुपये प्रति लीटर की कटौती करे राज्य सरकार

Jharkhand Politics पेट्रोल और डीजल की कीमतों में प्रति लीटर पांच रुपये और 10 रुपये की कटौती के बाद रांची के सांसद संजय सेठ ने कहा है कि केंद्र सरकार आम लोगों का दर्द समझती है इसलिए प्रधानमंत्री ने दीपावली पर देश को बड़ा तोहफा दिया है।

Kanchan SinghPublish: Sat, 06 Nov 2021 01:09 PM (IST)Updated: Sat, 06 Nov 2021 01:09 PM (IST)
Jharkhand Politics: सांसद संजय सेठ ने कहा, पेट्रोल - डीजल की कीमत में पांच रुपये प्रति लीटर की कटौती करे राज्य सरकार

रांची, जासं।  पेट्रोल और डीजल की कीमतों में प्रति लीटर पांच रुपये और 10 रुपये की कटौती के बाद रांची के सांसद संजय सेठ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार आम लोगों का दर्द समझती है, इसलिए प्रधानमंत्री ने दीपावली पर देश को बड़ा तोहफा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने राज्य सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन से भी मांग की है कि राज्य सरकार भी अपने हिस्से में से पेट्रोल और डीजल में पांच रुपये प्रति लीटर की कटौती करे। संजय सेठ ने कहा देश के कई राज्यों ने पेट्रोल डीजल पर वैट कम कर दिया है।

उन्होंने कहा कि पेट्रोल डीजल पर कई प्रकार के टैक्स लिए जाते हैं, जिनमें केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकारों की भी भूमिका होती है। केंद्र सरकार ने इस दिशा में एक बड़ा कदम उठाकर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती  कर दी है। इससे आम जनता को बहुत राहत मिली है। झारखंड की जनता को पेट्रोल-डीजल और सस्ती दर पर उपलब्ध हो सके, इस दिशा में राज्य सरकार को पहल करनी चाहिए।

इधर पेट्रोल की कीमत को लेकर कुछ संगठन इसका विरोध कर रहे हैं। जबकि कई संगठनों ने पेट्रोल की कीमत कम करने में केंद्र सरकार की पहल की सराहना भी की है। व्यवसाय जगत ने भी पेट्रोल व डीजल की कीमत घटाने के फैसले की सराहना की है। कहा है कि इससे कारोबार में भी सकारात्मक असर पड़ेगा।

भारतीय जनता युवा मोर्चा ने निर्णय का किया स्वागत

दीवाली की पूर्व संध्या पर केंद्र सरकार द्वारा उत्पाद शुल्क में पेट्रोल पर 5 रुपये और डीजल पर 10 रुपये कम किए हैं। भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश प्रवक्ता रीतेश सिंह ने केंद्र सरकार के इस निर्णय का स्वागत करते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद किया है। राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए सिंह ने कहा कि केंद्र की सरकार ने देश की जनता का ध्यान रखते हुए, उत्पाद शुल्क पर कटौती की है। अब राज्य सरकार की बारी है कि वह अपने वादे को पूर्ण करें।

हेमंत सोरेन ने वादा किया था कि यदि केंद्र पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी करेगा तो वह भी करेंगे। परंतु अभी तक राज्य सरकार सोई हुई है। देश में अनेक राज्यों ने केंद्र सरकार के निर्णय का समर्थन करते हुए राज्य द्वारा लिए जाने वाले टैक्स में कमी की है। जिससे आम जनता राहत महसूस कर रही है। देश की केंद्र सरकार आम जनता की भावनाओं को अच्छी तरह समझती है इसलिए प्रधानमंत्री ने दिवाली पर संपूर्ण देशवासियों को उपहार दिया है। राज्य सरकार भी इस पर जल्द से जल्द फैसला ले और कम से कम 10रुपए वैट कम करे, ताकि राज्य की जनता को राहत मिल सके।

Edited By Kanchan Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept