Jharkhand Weather Update: झारखंड में दीवाली तक शुष्‍क रहेगा मौसम, अगले सप्ताह से बढ़ सकती है ठंड

Jharkhand Weather Alert Hindi News शाम को हल्का कोहरा और ठंड का सामना करना पड़ेगा। रात में ओस गिरेगी। लगभग सभी जिलों में लोगों को हल्की ठंड का सामना करना पड़ेगा। राज्य में पिछले कुछ दिनों से बारिश नहीं हुई है।

Sujeet Kumar SumanPublish: Wed, 27 Oct 2021 07:29 AM (IST)Updated: Wed, 27 Oct 2021 07:32 AM (IST)
Jharkhand Weather Update: झारखंड में दीवाली तक शुष्‍क रहेगा मौसम, अगले सप्ताह से बढ़ सकती है ठंड

रांची, जासं। बुधवार को राजधानी रांची में सुबह हल्की सिहरन भरी ठंड है। आसमान में हल्के दर्जे के बादल दिख रहे हैं। इसके साथ ही शहर में आर्द्रता का स्तर 92 प्रतिशत तक है। मंगलवार की रात से ही शहर के बाहरी इलाकों में हल्का कोहरा देखने को मिल रहा है। दिन में हवा की अधिकतम गति दस किमी प्रतिघंटा तक जा सकती है। मौसम विभाग के अनुसार आज रांची में मौसम मुख्य रूप से साफ रहेगा। हालांकि हल्के दर्जे के बादल दिख सकते हैं।

शाम में लोगों को एक बार फिर से हल्का कोहरा और ठंड का सामना करना पड़ेगा। इसके साथ ही रात में ओस गिरेगी। मौसम विभाग के द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार अगले सप्ताह तक राज्य में मौसम मुख्य रूप से शुष्क बना रहेगा। लगभग सभी जिलों में लोगों को हल्की ठंड का सामना करना पड़ेगा। इसके साथ ही दीवाली के बाद ठंड के बढ़ने की पूरी संभावना है। इस बीच राज्य में पिछले कुछ दिनों से बारिश नहीं होने के बाद भी मानसून के लौटने के बाद की स्थिति बेहतर है।

राज्य में एक अक्टूबर से 27 अक्टूबर के बीच अपेक्षित बारिश से 56 प्रतिशत ज्यादा बारिश दर्ज की गई है। इस दौरान राज्य में 71.7 मिमी बारिश अपेक्षित है। जबकि अभी तक 112 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। कृषि मौसम विभाग के द्वारा जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि किसानों में साफ मौसम का फायदा उठाते हुए खेतों में पके फसल की कटनी का काम पूर कर लेना चाहिए।

धूप का फायदा लेते हुए अनाज को स्टोर करने से पहले अच्छे से सूखा लें। साथ ही, रबी फसल की तरफ ध्यान देना शुरू करें। राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में मौसम मुख्य रूप से शुष्क रहा। राज्य में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान जमशेदपुर में 32.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान चाईबासा में 16.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

Edited By Sujeet Kumar Suman

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept