झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने 1,241 पदों पर नियुक्ति के ल‍िए शुरू की प्रक्र‍िया

JSSC started recruitment स्‍नातक स्तरीय नियुक्ति के लिए आवेदन शुरू हो गया है। डिप्लोमा स्तरीय नियुक्ति के लिए 23 जनवरी 2022 से आनलाइन फार्म भरने का काम शुरू होगा। झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने दोनों प्रतियोगिता परीक्षाओं की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

M EkhlaquePublish: Sun, 16 Jan 2022 07:45 PM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 07:45 PM (IST)
झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने 1,241 पदों पर नियुक्ति के ल‍िए शुरू की प्रक्र‍िया

रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की सामान्य स्‍नातक योग्यताधारी संयुक्त परीक्षा, 2021 में शामिल होने के लिए आनलाइन फार्म भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इस परीक्षा के लिए आनलाइन फार्म 14 फरवरी 2022 तक भरे जाएंगे। वहीं, डिप्लोमा स्तरीय संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा के लिए 23 जनवरी 2022 से आनलाइन फार्म भरे जाएंगे। दोनों प्रतियोगिता परीक्षाओं के माध्यम से कुल 1,241 पदों पर नियुक्ति होगी।

व‍िभ‍िन्‍न व‍िभागों के ल‍िए इन पदों पर होगी बहाली

सामान्य स्‍नातक योग्यताधारी संयुक्त परीक्षा के माध्यम से झारखंड सरकार के विभागों में 956 विभिन्‍न पदों पर नियुक्ति होगी। इनमें सहायक प्रशाखा पदाधिकारी के 384, कनीय सचिवालय सहायक के 322, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी के 245 पद और योजना सहायक के पांच पद शामिल हैं।

डिप्लोमा स्तरीय परीक्षा के ल‍िए आवेदन 23 जनवरी से

इसी तरह, डिप्लोमा स्तरीय संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा में शामिल होने के लिए 23 जनवरी 2022 से आनलाइन फार्म भरे जाएंगे। आनलाइन फार्म भरने की अंतिम तिथि 22 फरवरी 2022 निर्धारित है। इन पदों पर नियुक्ति के लिए 25 फरवरी 2022 से 27 फरवरी 2022 तक परीक्षा शुल्क का भुगतान होगा तथा फोटो एवं हस्ताक्षर अपलोड होंगे।

285 कनीय अभियंताओं की नियुक्ति करने की तैयारी

मालूम हो क‍ि झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने डिप्लोमा स्तरीय संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा के माध्यम से झारखंड सरकार के विभिन्‍न कार्य विभागों में 285 कनीय अभियंताओं की नियुक्ति करने की योजना बनाई है। इनमें ब‍िजली, असैनिक तथा यांत्रिकी कनीय अभियंता शामिल हैं।

झारखंड से मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना अनिवार्य

बता दें कि दोनों परीक्षाओं में शामिल होने के लिए अनारक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को झारखंड के स्कूलों से मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना अनिवार्य किया गया है। साथ ही अभ्यर्थियों को स्थानीय रीति-रिवाज, भाषा एवं परिवेश का ज्ञान होना अनिवार्य होगा। हालांकि आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों के मामले में झारखंड से मैट्रिक व इंटरमीडिएट करने का प्रविधान शिथिल किया गया है। दोनों परीक्षाएं कंप्यूटर बेस्ड होंगी।

दो साल बाद हो रही स्‍नातक स्तरीय परीक्षा

सामान्य स्नातक योग्यताधारी संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा की प्रक्रिया वर्ष 2019 में भी शुरू हुई थी, लेकिन बाद में इसे रद कर दिया गया था। अब यह इस परीक्षा की प्रक्रिया दोबारा शुरू की गई है। उस समय आवेदन देनेवाले अभ्यर्थियों को इस परीक्षा में शामिल होने के लिए फार्म भरना होगा, लेकिन उन्हें परीक्षा शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा।

Edited By M Ekhlaque

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept