नहीं है ड्राइव‍िंंग लाइसेंस तो कोई बात नहीं, अप्रैल तक म‍िलेगी पेट्रोल पर 25 रुपये छूट

Jharkhand petrol subsidy मंत्री हफीजुल हसन ने tweet कर कहा है क‍ि ज‍िन लोगों के पास ड्राइव‍िंंग लाइसेंस नहीं है उन्‍हें 1 अप्रैल 2022 तक झारखंड सरकार आधार कार्ड के जर‍िए ही पेट्रोल पर 25 रुपये की छूट देगी।

M EkhlaquePublish: Thu, 20 Jan 2022 12:41 PM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 12:41 PM (IST)
नहीं है ड्राइव‍िंंग लाइसेंस तो कोई बात नहीं, अप्रैल तक म‍िलेगी पेट्रोल पर 25 रुपये छूट

रांची, ड‍िज‍िटल डेस्‍क। झारखंड सरकार के कला संस्‍कृत‍ि और खेल मंत्री हफीजुल हसन ने tweet कर कहा है क‍ि ब‍िना ड्राइव‍िंंग लाइसेंस वालों को भी झारखंड सरकार 01 अप्रैल 2022 तक पेट्रोल पर 25 रुपये की छूट देगी। यह सुव‍िधा उन्‍हें आधार कार्ड के जर‍िए म‍िलेगी। मंत्री के इस tweet से भ्रम की स्‍थ‍ित‍ि पैदा हो गई है। झारखंड सरकार द्वारा अबतक यही बताया जाता रहा है क‍ि राशनकार्ड वालों को ही यह सुव‍िधा दी जाएगी। मंत्री के tweet के बाद झारखंड के लोग सरकार से स्‍थ‍ित‍ि स्‍पष्‍ट करने की मांग कर रहे हैं।

लाइक करने के साथ लोग दे रहे प्रत‍िक्र‍िया

मंत्री के tweet को 56 लोगों ने Retweets क‍िया है। वहीं 26 लोगों ने Quote Tweets क‍िया है। वहीं 652 लोगों ने मंत्री के बयान को Likes क‍िया है। यह आंकड़ा 11.45 बजे तक का है। यह आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। इस पर लोग लगातार अपनी प्रत‍िक्र‍ियाएं दे रहे हैं।

26 जनवरी को मुख्‍यमंत्री करने वाले हैं शुभारंभ

मालूम हो क‍ि मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन 26 जनवरी 2022 से पेट्रोल पर 25 रुपये छूट देने की योजना का शुभारंभ दुमका से करने वाले हैं। झारखंड के सभी ज‍िलों में न‍िबंधन का कार्य भी शुरू हो गया है। झारखंड सरकार ने इस योजना का लाभ उठाने के ल‍िए बकायदा एक वीड‍ियो भी शेयर क‍िया है, ज‍िसमें न‍िबंधन का तरीका बताया गया है।

मंत्री जी, सभी आधार कार्ड को अनुमत‍ि नहीं दें

मंत्री हफीजुल हसन के tweet पर जयंत नामक एक यूजर ने सलाह दी है- एक परिवार में एक बाइक के साथ 4 सदस्य हैं। यदि सभी आधार कार्ड को अनुमति दी जाएगी तो इसका दुरुपयोग किया जा सकता है। इसे केवल बाइक मालिक तक ही सीमित रखना होगा।

मंत्री जी, इतना टफ conditions लगा द‍िया

भइया फ्राम यूपी नामक एक यूजर ने ल‍िखा है क‍ि इतना टफ conditions लगा द‍िया है क‍ि कोई लाभ ही नहीं ले पाएगा। इसी तरह अभ‍िनव शर्मा ल‍िखते हैं क‍ि हेमंत सरकार कुछ नहीं कर रही है, स‍िर्फ अपने वोट बैंक को आरक्षण का लाभ देने के स‍िवाय। कम से कम यही तो फायदा होगा।

झारखंड में भी लोग ऐप का इस्तेमाल कर रहे 

मृगांग शेखर नामक यूजर ने ल‍िखा है क‍ि मैं ऐसे लोगों को जानता हूं जिन्हें अब कभी पेट्रोल के लिए भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होगी..। इसी तरह जेएन नामक एक यूजर ने ट‍िप्‍पणी की है- वाह झारखंड में भी लोग ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं।

... और पैसा कहां से आएगा मंत्री जी

यूजर सुनील वर्मा ने ल‍िखा है- तो एक 5 साल का बच्चा जो बाइक चलाना नहीं जानता, उसे 1 अप्रैल तक बाइक के लिए ईंधन मिल सकता है। केएस नामक यूजर ने मंत्री से पूछा है- और यह पैसा कहां से आएगा ? उच्च शिक्षित मंत्री जी ?

गैर-लाइसेंस धारकों के लिए यह प्रस्ताव क्यों

Voice Of C'mn Man 2020 नामक एक यूजर ने मंत्री हफीजुल हसन से पूछा है- ... लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा है कि गैर-लाइसेंस धारकों के लिए यह प्रस्ताव क्यों है ? द भक्‍त नामक एक यूजर ने कमेंट में ल‍िखा है क‍ि "कागज़ नहीं दिखायेंगे" कहने वालों का क्या ? क्या उन्होंने इनके बारे में सोचा ? बहरहाल, मंत्री के tweet ने तूफान खड़ा कर द‍िया है। आगे देख‍िए मंत्री जी क्‍या सफाई देते हैं।

मंत्री ने tweet कर कही यह बात

आधार कार्ड की आवश्यकता होगी (झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन द्वारा लॉन्च किए गए ऐप के माध्यम से दोपहिया वाहनों के लिए एक महीने में अधिकतम 10 लीटर पेट्रोल 25 रुपये प्रति लीटर की सब्सिडी देने के लिए)। 1 अप्रैल तक गैर-लाइसेंस धारकों को भी दिया जाएगा : झारखंड के मंत्री हाफिजुल हसन।

Edited By M Ekhlaque

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept