Jharkhand Crime News डायन बिसाही में गई एक और महिला की जान, वृद्ध महिला पर डायन का आरोप लगाकर कुल्हाड़ी हत्या

Jharkhand Crime News वृद्ध महिला पर पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने डायन बिसाही का आरोप लगाकर कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दी। दरअसल उसे शक था कि महिला ने उसपर टोना-टोटका किया है जिसके बाद उसने महिला को मारने की योजना बनाई।

Madhukar KumarPublish: Fri, 28 Jan 2022 07:39 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 07:39 PM (IST)
Jharkhand Crime News   डायन बिसाही में गई एक और महिला की जान, वृद्ध महिला पर डायन का आरोप लगाकर कुल्हाड़ी हत्या

गुमला, जागरण संवाददाता। आज जब हम 21वीं सदी में जी रहे हैं, विज्ञान ने इतनी तरक्की कर ली है कि अब चांद पर बसने की बात की जाती है। इस दौर में भी अंधविश्वास की कथा अक्सर देखने और सुनने को मिल जाते हैं। खासकर भारत जैसे देश में जहां, गांवों में आज भी लोगों के बीच टोना-टोटका और तंत्र मंत्र का खुल्ला खेल चलता है। एक ऐसा ही मामला सामने आया है गुमला से, जहां टोना-टोटका के चक्कर में एक महिला की हत्या कर दी जाती है।

डायन बिसाही के शक में वृद्ध महिला की हत्या

दरअसल, मामला गुमला के सिसई थाना क्षेत्र के पंडरानी गांव का है। जहां गुरुवार की देर शाम एक वृद्ध महिला की सिर्फ इसलिए हत्या कर दी गई, क्योंकि उसपर एक व्यक्ति को टोना-टोटका करने का शक था। दरअसल, पंडरानी गांव का ही रहने वाला दशरथ उरांव अक्सर बीमार रहता था, डॉक्टरों से दिखाने के बाद भी उसकी सेहत में कुछ खास सुधार नहीं हो रहा था। तभी उसने ओझा से संपर्क किया।

जुबली देवी पर था जादू-टोना करने का शक

ओझा से दिखाने गए दशरथ उरांव को ओझा ने कहा कि उसके ऊपर जादू-टोना किया गया है। जिसके बाद दशरथ को पड़ोस में ही रहने वाली 65 वर्षीय जुबली देवी पर शक हुआ। उसे शक हुआ कि वही डायन है और उसी ने उसके ऊपर जादू-टोना किया है। जिसकी वजह से वह अक्सर बीमार रहता है।

कुल्हाड़ी से मारकर की हत्या

शक की चिंगारी कब आग की लपटें बन गई पता ही नहीं चला। कई बार उसने जुबली देवी को मारने की योजना बनाई, लेकिन सफल नहीं हो पाया। लेकिन गुरुवार को दशरथ मांझी को तब जुबली देवी की हत्या करने का मौका मिल गया, जब उनकी बहु मायने गई थी, जुबली देवी के दोनों बेटे पहले ही काम के लिए दूसरे राज्य में रहते हैं। ऐसे में जुबली देवी को घर में अकेला पाकर दशरथ उरांव ने रात के अंधेरे में कुल्हाड़ी से वार कर जुबली देवी की हत्या कर दी।

आरोपी ने स्वीकार किया जुर्म

मामले का खुलासा तब हुआ, जब शुक्रवार की सुबह जुबली देवी से मिलने गांव की मुखिया फ्लोरेन देवी उनके घर गई। घर में जुबली देवी की लाश देखकर उन्होंने सिसई थाना पुलिस को इसकी सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शु को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं जांच शुरु होने के बाद पुलिस को पड़ोस में रहने वाले दशरथ उरांव पर शक हुआ। शक के आधार पर पुलिस ने दशरथ को गिरफ्तार किया और कड़ाई से जब पूछताछ की, उसने सारी सच्चाई उगल दी।

Edited By Madhukar Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept