जान‍िए, बकरा का क्‍यों हुआ पोस्‍टमार्टम, क्‍यों हुई छापेमारी, क्‍यों जेल भेजा गया आरोप‍ित

jharkhand crime news चोरी और हत्‍या के मामले तो आपने बहुत सुने होंगे लेक‍िन यह मामला कुछ हट कर है। जीभ के स्‍वाद ने एक व्‍यक्‍त‍ि को बकरा चुराने पर मजबूर कर द‍िया। अनूठे अंदाज में वह पकड़ा भी गया और अब जेल की हवा खा रहा है।

M EkhlaquePublish: Mon, 24 Jan 2022 10:22 PM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 10:22 PM (IST)
जान‍िए, बकरा का क्‍यों हुआ पोस्‍टमार्टम, क्‍यों हुई छापेमारी, क्‍यों जेल भेजा गया आरोप‍ित

रांची, जागरण संवाददाता। झारखंड के रांची ज‍िले के अनगड़ा प्रखंड क्षेत्र में एक रोचक मामला सामने आया है। कहानी एक बकरे की है, ज‍िसे झारखंड में आद‍िवासी समुदाय के लोग देशज भाषा में खस्‍सी कहते हैं। कहानी बकरे की हत्‍या की है। जी हां, एक बकरे का खून कर द‍िया गया।

पुल‍िस ने ग‍िरफ्तार कर आरोप‍ित को जेल भेजा

दरअसल, बिना कीमत चुकाये स्वाद लेने की चाह इस हत्‍याकांड के आरोप‍ित को भारी पड़ गई। मंगनी (फ्री) के स्वाद के चक्कर में अनगड़ा थाना पुलिस ने हत्‍या के आरोप‍ित व्यक्ति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

करीब आठ क‍िलोग्राम का बकरा चुरा ले गया

अनगड़ा थाना पुलिस के अनुसार, यह मामला आठ किलोग्राम के एक खस्सी चोरी का है। रविवार की देर रात अनगड़ा के चिलदाग गांव निवासी सुनील महतो का काले रंग का बकरा चोरी हो गया। सोमवार की सुबह में उन्‍होंने खूब छानबीन की।

बकरा माल‍िक को पता चला तो पहुंचा थाना

छानबीन के दौरान उन्‍हें पता चला क‍ि उनके गांव के ही हीरालाल महतो बकरा चुरा कर ले गया है। यही नहीं उसे काट कर खाने की जुगत में है। बस फिर क्या था। सुनील महतो भागे-भागे अनगड़ा थाना पहुंच गए। बकरा चोरी की नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई।

प्राथम‍िकी दर्ज कर पुल‍िस ने तुरंत की छापेमारी

अनगड़ा थाना पुलिस में ऐसा पहला मामला सामने आया तो पुल‍िस वाले भी हैरान रह गए। चर्चा पर चर्चा होने लगी। अनोखी शिकायत थाना आते ही पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए तत्काल आरोपित के घर पर छापेमारी भी कर दी। हालांकि, जबतक पुलिस की टीम पहुंची बकरा को काटा जा चुका था।

कटे स‍िर और धड़ का डाक्‍टर ने क‍िया पोस्‍टमार्टम

अनगड़ा थाना पुलिस ने बकरे के कटे हुए सिर और धड़ को अपने कब्जे में ले ल‍िया। तत्‍काल कानूनी प्रक्र‍िया पूरी कर वेटेनरी चिकित्सक डॉ विनोद कुमार के पास पोस्टमार्टम के लिए भेज द‍िया। डाक्‍टर ने भी बकरे के शव का पोस्टमार्टम क‍िया। इसके बाद बकरे का शव उसके मालिक को सौंप दिया गया।

हीरालाल महतो ने भी अपराध स्‍वीकार क‍िया

उधर, अनगड़ा थाना पुलिस ने बकरा चोरी कर उसकी हत्‍या करने के आरोप में हीरालाल महतो को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जेल भेजने से पूर्व पुल‍िस ने उससे पूछताछ भी की। उसने हत्‍या की बात स्‍वीकार कर ली है। पूरी कहानी भी उसने सुनाई है।

कहा- खाने के ल‍िए मैंने बकरा चुराया था

उधर, अनगड़ा थाना के थानेदार ब्रजेश कुमार ने बताया कि बकरा चोरी की शिकायत सामने आते ही पुलिस की टीम ने तत्परता दिखाते हुए आरोपित हीरालाल महतो को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपित हीरालाल महतो ने बताया कि उसने खाने के लिए बकरे की चोरी की थी। इसी वास्‍ते उसने हत्‍या भी की।

जूता के निशान का पीछा करते हुए आरोपित के घर पहुंचा मालिक

चिलदाग गांव निवासी सुनील महतो के घर से रविवार रात बकरे की चोरी हुई थी। बकरे का वजन करीब आठ क‍िलोग्राम रहा होगा। सोमवार सुबह में जब सुनील महतो सो कर उठे तो देखा क‍ि घर का दरवाजा खुला है। उनका बकरा गायब है। उसी जगह पर सुनील महतो को जूता का निशान दिखाई दिया। वह जूता का निशान का पीछा करते हुए हीरालाल महतो के घर पहुंचा तो बकरा देख कर दंग रह गया। इसके बाद बिना देर किए वह थाना पहुंच गए।

Edited By M Ekhlaque

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept