This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कोरोना वायरस से बचाव को घर-घर सर्वेक्षण, सर्दी-खांसी वालों की पहचान कर हो रही जांच

Coronavirus Update. संदिग्ध व्यक्तियों की एसओपी के अनुसार तुरंत क्वॉरंटाइन/आइसोलेट जांच तथा तदनुसार चिकित्सा अनिवार्य होगी।

Sujeet Kumar SumanTue, 19 May 2020 01:45 PM (IST)
कोरोना वायरस से बचाव को घर-घर सर्वेक्षण, सर्दी-खांसी वालों की पहचान कर हो रही जांच

खूंटी, जासं। वैश्विक महामारी घोषित कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सर्वेक्षण दल में प्रतिनियुक्त आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिका, आशाकर्मी एवं पारा टीचर द्वारा घर-घर जाकर सर्वे का कार्य किया जा रहा है। इस दौरान सभी लोग मास्क पहनकर शारीरिक दूरी के नियमों का पूर्ण पालन करते हुए सर्वे कार्य कर रहे हैं। सर्वे के सफल क्रियान्वयन के लिए सर्वेक्षण दल को प्रशिक्षण दिया गया है। साथ ही उपायुक्त ने संबंधित सर्वेक्षण दल के आंगनबाड़ी सेविका/सहायिका आशाकर्मी एवं शिक्षक व पारा शिक्षक को निर्देश दिया है कि वह अपने संबंधित क्षेत्र अंतर्गत कोरोना वायरस के संक्रमण की पहचान के लिए घरों एवं परिवारों के बीच जाकर सर्वेक्षण करें।

उन्होंने प्रवासी मजदूरों के संदर्भ में विशेष सतर्कता बरतने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। सर्वे कार्य के दौरान सभी प्रकार के प्रपत्र भरे जा रहे हैं। इस माध्यम से नोवेल कोरोना वायरस के संपूर्ण संभावित संक्रमण काल तक निगरानी रखनी आवश्यक है। संदिग्ध व्यक्तियों की एसओपी के अनुसार तुरंत क्वॉरंटाइन/आइसोलेट जांच तथा तदनुसार चिकित्सा अनिवार्य होगी।

साथ ही उपायुक्त ने निर्देश दिया है कि पर्यवेक्षक अपने दल कर्मियों के पोषक क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली प्रत्येक दवा दुकान एवं सामुदायिक व ग्रामीण चिकित्सक से संपर्क कर बुखार के साथ खांसी अथवा सांस लेने वाले चिन्हित मरीजों की विवरणी प्रपत्र में एकत्रित करें। साथ ही प्राप्त की गई सूची का सत्यापन कर संदिग्धों की सूची तैयार कर सूची को संबंधित पंचायत सचिवों के माध्यम से प्रखंड कार्यालय को उपलब्ध कराएं।

रांची में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!