एनसीओइए ने दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने की अपील की

संवाद सूत्र गिद्दी (रामगढ़) एनसीओइए ने गिद्दी सी उत्खनन कार्यशाला के समीप शनिवार को पिट मीटि

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 09:14 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 09:14 PM (IST)
एनसीओइए ने दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने की अपील की

संवाद सूत्र, गिद्दी (रामगढ़) : एनसीओइए ने गिद्दी सी उत्खनन कार्यशाला के समीप शनिवार को पिट मीटिग की। मौके पर सीसीएल सेफ्टी बोर्ड सदस्य अरुण कुमार सिंह व एनसीओइए अरगडा एरिया अध्यक्ष देवनाथ महली ने कर्मियों से कोल इंडिया के असितत्व बचाने के लिए संयुक्त ट्रेड यूनियन के बैनर तले आगामी 23-24 फरवरी को 13 सूत्री मांग को लेकर कोल इंडिया में होने वाले देशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने की अपील की। केंद्र सरकार कोयला उद्योग को निजीकरण करने व मजदूरों के अधिकार की छिनने का कार्य कर रही है। केंद्र सरकार ने कोयला कर्मियों पर नया हमला करते हुए सीएमपीएफ का इंटरेस्ट 8.5 से घटाकर 8.3 प्रतिशत कर दिया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार चालू एनएमपी के तहत 160 कोयला खदानों को लिज पर देने जा रही है। सरकार कोड़ी के दाम पर कोयला उद्योग को निजी मालिकों को दे रही है। उन्होंने सरकार से जेबीसीसीआई 11 का फैसला जल्द करने, कोयला खदान निजी मालिकों को देना बंद करें, श्रम कानून के संसोधन को वापस लेने, सीबी एक्ट में संसोधन बंद करने, सीटीओ के चलते खदानों को बंद करने की नीति पर राके लगाने, कोयला उद्योग के ठेका रमिकों को नियमीत कोयला मजदूरी के बराबर वेतन की सूविधा देने, भूमि अधिग्रहण 2013 के आधार पर विस्थापितों को नौकरी मुआवजा व पुनर्वास आदि की सुविधा बहाल करने की मांग की। पिट मीटिग की अध्यक्षता अशोक करमाली ने की। मौके पर लच्छी राम, राजेश गुप्ता,साबीर अंसारी, तालेश्वर, मटुक लाल, प्रेमजीत, राजू बेदिया, उमेश बेदिया, विजय कुमार, संतोष, नेमुआ मुंडा, टेकलाल, घनश्याम महतो, नीरू, किशोर, सुखदूेव, लालदेव गंझू, दिनेश्वरी देवी, दुखनी देवी, पेरो देवी समेत दर्जनों कर्मी उपस्थित थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept