आरपीएन के जाने के बाद कांग्रेस और अधिक मजबूत होगी

संवाद सहयोगी जामताड़ा कांग्रेस सरकार में पूर्व केंद्रीय मंत्री सह झारखंड कांग्रेस प्रभारी

JagranPublish: Tue, 25 Jan 2022 07:24 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 07:24 PM (IST)
आरपीएन के जाने के बाद कांग्रेस और अधिक मजबूत होगी

संवाद सहयोगी, जामताड़ा : कांग्रेस सरकार में पूर्व केंद्रीय मंत्री सह झारखंड कांग्रेस प्रभारी रहे आरपीएन सिंह के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में चले जाने से कांग्रेसियों ने खुशी जताया है। गोड्डा लोकसभा के पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने कहा कि शुरू से कहता आया कि यह व्यक्ति भाजपा का घुसपैठिया है जो पूरे टीम को बर्बाद कर देगी, मगर आलाकमान ने मेरी बातों पर समय रहते ध्यान नहीं दिया। आज इसने अपना चेहरा दिखा ही दिया। आरपीएन सिंह जैसे लोग ही पार्टी को अंदर से खोखला कर रहे थे। टिकट से लेकर पद पाने के लिए बोली लगती थी। खुलेआम वसूली का खेल चलता था। ऐसी संस्कृति को बढ़ावा देनेवाले लोग के चले जाने से आज कांग्रेसी राहत महसूस कर रहे हैं। सिर्फ एक व्यक्ति ने पूरे झारखंड में कांग्रेस के संगठन को अस्त-व्यस्त कर दिया था। जिसने पैसा पहुंचाया उसकी योग्यता को जांचे परखे बिना पद दे दिया। वैसे लोग जिन्होंने अपनी सारी जिदगी कांग्रेस की सेवा में लगा दिया उसे एक साजिश के तहत किनारा कर दिया। ऐसा मकड़जाल बुनकर रखा था कि आलाकमान तक सहीं बात भी नहीें पहुंच पाती थी। इसका नतीजा यह हुआ कि कांग्रेस पार्टी दिन प्रतिदिन कमजोर होती चली गई। अंसारी ने कहा कि समय बहुत नहीं निकला है। अभी भी सुधरने का समय है। सभी कार्यकर्ता एकजुट होकर फील्ड में मेहनत करें एक बार फिर से कांग्रेस अधिक मजबूती से उतरेगी। कांग्रेस के पुराने दिन वापस लौटेंगे और झारखंड में एक बड़ी पार्टी बन कर उभरेगी। फुरकान ने आलाकमान से यह अनुरोध किया है कि वो आरपीएन सिंह के कार्यो की समीक्षा करें और आवश्यक बदलाव करें। इधर कांग्रेस जिला महामंत्री ज्योतिद्र झा, ऋषिकेश भारद्वाज, पंकज मरांडी, शमसुल अंसारी ने कहा कि संगठन में काम करने वाले योग्य लोगों को लाया जाना चाहिए। सिर्फ कमरे में बैठकर रणनीति बनानेवाले लोग कांग्रेस का भला नहीं कर सकते हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept