एयरपोर्ट से झारखंड समेत पश्चिम बंगाल व ओडिशा को मिलेगा लाभ : विद्युत वरण महतो

सांसद विद्युत वरण महतो ने बुधवार को लोकसभा में धालभूमगढ़ एयरपोर्ट मामले को एक बार फिर से उठाया। कहा कि वर्ष 2019 में तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास एवं तत्कालीन राज्यमंत्री भारत सरकार के जयंत सिन्हा द्वारा धालभूमगढ़ एयरपोर्ट का शिलान्यास किया था।

JagranPublish: Thu, 02 Dec 2021 06:30 AM (IST)Updated: Thu, 02 Dec 2021 06:30 AM (IST)
एयरपोर्ट से झारखंड समेत पश्चिम बंगाल व ओडिशा को मिलेगा लाभ : विद्युत वरण महतो

संसू, धालभूमगढ़ : सांसद विद्युत वरण महतो ने बुधवार को लोकसभा में धालभूमगढ़ एयरपोर्ट मामले को एक बार फिर से उठाया। कहा कि वर्ष 2019 में तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास एवं तत्कालीन राज्यमंत्री भारत सरकार के जयंत सिन्हा द्वारा धालभूमगढ़ एयरपोर्ट का शिलान्यास किया था। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा लगभग सौ करोड़ रुपया का आवंटन भी किया था लेकिन आज तक काम शुरू नही हुआ। धालभूमगढ़ प्रखंड के समीप टाटा कंपनी जैसे उद्योग घराने जैसे है। यहां भारी उद्योग एवं कम से कम 2 हजार लघु उद्योग होने के बावजूद काम शुरू नही हो सका। एयरपोर्ट बन जाने से झारखंड के साथ-साथ पश्चिम बंगाल ओडिशा राज्यों को भी लाभ मिलेगा। झारखंड के जमशेदपुर और पश्चिम बंगाल के खड़गपुर तथा ओडिशा के बालेश्वर तीनों राज्य का औद्योगिक राज्य लाभान्वित होगा। क्योंकि यह एयरपोर्ट इस क्षेत्र के आस-पास पड़ता है। वहां पर केंद्रीय माइंस इलाका भी है। सांसद विद्युत वरण महतो ने उड्डयन मंत्री से आग्रह किया कि राज्य सरकार से संवाद स्थापित कर यथाशीघ्र एयरपोर्ट का काम शुरू किया जाए। पिता के सिर पर पत्थर से वार कर बेटे ने किया जख्मी : थाना क्षेत्र के मुड़ाकाठी निवासी रमेश यादव (88) को उनके बेटे रघुवीर यादव ने मंगलवार की रात पत्थर से मारकर जख्मी कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल पिता को इलाज के लिए सीएचसी लाया गया। घायल रमेश यादव ने बेटे के खिलाफ पुलिस के समक्ष बयान दर्ज कराया। उन्होंने बताया कि उनका बेटा प्रतिदिन रात को घर आकर अभद्र व्यवहार करता है। इसके अलावा उनके साथ मारपीट भी करता है। उन्होंने बताया कि 30 नवंबर को उनका बेटा नशे में धुत होकर घर आया और अपनी मां के साथ अभद्र व्यवहार करने लगा। विरोध करने पर उसने पत्थर से सिर पर वार कर दिया। इस घटना के बाद पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept