टाटा मोटर्स अस्पताल के ओपीडी में आज कौन-कौन चिकित्सक रहेंगे तैनात, देखें सूची

Tata Motors Hospital OPD ओपीडी ड्यूटी में रहने वाले चिकित्सकों के नाम चार्ट में डाक्टर कक्ष के सामने लिखा रहता है। वहां क्रमबद्ध तरीके से मरीज डाक्टर को दिखाने जाते हैं। ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले चिकित्सकों के नाम की सूची भी प्रकाशित की जाती है।

Rakesh RanjanPublish: Sat, 22 Jan 2022 09:20 AM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 09:20 AM (IST)
टाटा मोटर्स अस्पताल के ओपीडी में आज कौन-कौन चिकित्सक रहेंगे तैनात, देखें सूची

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : टाटा मोटर्स अस्पताल के ओपीडी में हरेक दिन अलग-अलग डाक्टर अपनी सेवा देते हैं।

यहां टाटा मोटर्स के अलावे अनुषंगी इकाइयों के कर्मचारी व उनके परिजन भी प्राइवेट से डाक्टर कानंबर लेकर मरीज को दिखाते हैं। इसके आनलाइन व आफलाइन दोनो तरह की व्यवस्था है। सुबह पाली में चिकित्सक सुबह आठ बजे से ही दोपहर एक बजे व दो से सायं पांज बजे ओपीडी में बैठते हैं।

शनिवार को ओपीडी में बैठेंगे ये चिकित्सक

शनिवार को एक पाली में ही ओपीडी खुला रहता है। सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक ही डाक्टर मरीजों को देखते हैं। इस दिन दूसरी पाली में ओपीडी नहीं खुला रहता है।

  • स्त्री रोग डा प्रियंका कुमार
  • मेडिकल डा एसएल श्रीवास्तव, आरके ठाकुर, आरके मेहता, एसी सेनगुप्ता, कुंदन कुमार व डा आदिश रशीद
  • शिशु रोग डा राजीव शरण, प्रिया अमिताभ व डा कुमार
  • आर्थोपेडिक्स डा सुदर्शन पवन
  • त्वचा रोग कोई नहीं
  • इएनटी डा एस रस्तोगी व डा संतोष कुमार
  • सर्जिकल डा प्रसन्ना डोरा व डा एके उपाध्याय
  • आंख राजन वर्मा
  • मनोविज्ञानिक डा सुदेशना दास
  • डायट क्लिनिक डा प्रतिभा सोनी
  • मनोरोगी डा अर्निबन बासु व डा भट्टाचार्य

    ड्यूटी चार्ट में दिखता है नाम

    ओपीडी ड्यूटी में रहने वाले चिकित्सकों के नाम चार्ट में डाक्टर कक्ष के सामने लिखा रहता है। वहां क्रमबद्ध तरीके से

    मरीज डाक्टर को दिखाने जाते हैं। ड्यूटी से अनुपस्थित रहने वाले चिकित्सकों के नाम की सूची भी प्रकाशित की जाती है। शनिवार को जहां एक पाली में ओपीडी रहता है वहीं रविवार को ओपीडी बंद रहता है लेकिन आकस्मिक सेवा 24 घंटे बहाल रहती है। इमरजेंसी काल में विशेषज्ञ डाक्टर को काल करके बुलाया जाता है ताकि मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। रविवार को चारों पाली में डॉक्टर व नर्स मौजूद रहते हैं।

Edited By Rakesh Ranjan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept