साकची थाना से वसूली करने वालों को छोड़ दिया गया तो भाजमो नेताओं ने एसएसपी से की शिकायत

साकची सब्जी बाजार में दुकानदारों से वसूली का मुद्दा गरम हो गया है। विधायक सरयू राय की अगुवायी में भाजमो कार्यकर्ताआें ने एक व्यक्ति को पकडकर साकची थाना के हवाले किया था। थाना से उसे छोड दिया गया। इसकी शिकायत लेकर सरयू समर्थक एसएसपी से मिले।

Rakesh RanjanPublish: Tue, 18 Jan 2022 03:34 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 03:34 PM (IST)
साकची थाना से वसूली करने वालों को छोड़ दिया गया तो भाजमो नेताओं ने एसएसपी से की शिकायत

जमशेदपुर, जासं। साकची में बसंत टाकीज के सामने पार्किंग स्थल से विधायक सरयू राय की अगुवाई में भारतीय जनतंत्र मोर्चा के नेताओं ने तीन आरोपितों को रंगेहाथ वसूली करते पकड़ा था। भाजमो ने इन्हें साकची थाना के सुपुर्द कर दिया था, लेकिन सोमवार शाम को ही छोड़ दिया गया। इसके खिलाफ मंगलवार को भाजमो नेता एसएसपी आफिस पहुंचे और साकची थाना के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

पूर्वी सिंहभूम जिले के वरीय पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) डा. एम तमिल वणन को सौंपे ज्ञापन में भारतीय जनतंत्र मोर्चा के जिलाध्यक्ष सुबोध श्रीवास्तव ने कहा कि विधायक सरयू राय के नेतृत्व में सोमवार की सुबह करीब सात बजे भाजमो नेताओं ने ग्रामीण सब्जी विक्रेताओं से अवैध वसूली करने वालों को पकड़ा था। पार्किंग ठेकेदार की मिलीभगत से बाजार में सब्जी दुकानदारों से वसूली करने वाले कुणाल, कल्लू व सलीम नामक तीन युवकों को दबोचा गया था। दुकानदरों ने भी इनकी पहचान की थी, तो खुद इन तीनों ने भी वसूली करने की बात स्वीकार की थी। सबकुछ होने के बाद साकची थाना की पुलिस इन्हें पकड़कर ले गई, लेकिन बाहरी दबाव में आकर इन्हें छोड़ दिया। एेसे में इस बात की आशंका बनी हुई है कि ये दोबारा सब्जी विक्रेताओं को डरा-धमकाकर वसूली करेंगे। लिहाजा एसएसपी से आग्रह है कि मामले पर उचित कार्रवाई कर अवैध वसूली को बंद कराया जाए।

ठेकेदार ने कहा, पार्किंग को बना दिया सब्जी बाजार तो क्या करें

इस संबंध में पार्किंग ठेकेदार सुधांशु ओझा ने कहा कि वहां मुझे पार्किंग का ठेका मिला था, लेकिन कोरोना काल में जिला प्रशासन ने वहां सब्जी बाजार लगाना शुरू कर दिया। ऐसे में सवाल उठता है कि जब वहां सब्जी की दुकानें लगेंगी, तो कार-बाइक कहां खड़ी होगी। मैंने पार्किंग के एवज में सरकार को जो अग्रिम भुगतान किया है, वह कहां से आएगा। ऐसे में उनके कर्मचारियों ने जो किया, उसे गलत नहीं ठहराया जा सकता है। जहां तक पार्किंग का ठेका तीन माह पहले समाप्त करने की बात है, तो वह कुछ हद तक सही है। इसके बाद मेरा ठेका जमशेदपुर अधिसूचित क्षेत्र समिति ने विस्तारित कर दिया था। इस हिसाब से मेरा ठेका वहां जारी है। सब्जी दुकानदारों से वसूली करने वाले मेरे ही कर्मचारी हैं।

Edited By Rakesh Ranjan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept