झारखंड के इन क्षेत्रों में ट्रेनों का विस्तार करने की उठी मांग, ये रही पूरी जानकारी

राउरकेला जगदलपुर एक्सप्रेस को सप्ताह में 2 दिन हटिया तक विस्तार रांची हावड़ा इंटरसिटी को पूर्ववर्ती मार्ग वाया धनबाद आसनसोल परिचालन एवं रांची कामाख्या एक्सप्रेस को पूर्व की भांति सप्ताह में दो दिन चलाने का भी आग्रह किया गया है।

Rakesh RanjanPublish: Sun, 23 Jan 2022 04:36 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 04:36 PM (IST)
झारखंड के इन क्षेत्रों में ट्रेनों का विस्तार करने की उठी मांग, ये रही पूरी जानकारी

जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। झारखंड से राज्यसभा सदस्य सह जोनल रेलवे यूजर्स कंसल्टेटिव कमेटी (जेडआरयूसीसी) के सदस्य महेश पोद्दार ने झारखंड में रेल सुविधा का विस्तार करने मांग की है। पिछले दिनों दक्षिण पूर्व रेलवे की वार्षिक बैठक में कई ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की मांग की है। इसमें चाकुलिया से बांगिरिपोसी नई लाइन, लोहरदगा से गुमला होते हुए कोरबा तक नई लाइन, सिल्ली ईलू बाईपास लाइन, मुरी से चांडिल व रांची-लोहरदगा-टोरी लाइन के दोहरीकरण की भी बात रखी गई है। सांसद प्रतिनिधि अरुण जोशी का कहना है कि झारखंड में रेल सेवाओं में सुधार होने से क्षेत्र का स्वर्णिम विकास होगा।

लोहरदगा के विकास के लिए इन ट्रेनों के परिचालन की हुई मांग

इसमें लोहरदगा खंड के विकास के लिए रांची से कई प्रमुख ट्रेनों को वाया लोहरदगा परिचालन की मांग की है। इनमें प्रमुख रूप से रांची से लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस, रांची से सूरत अहमदाबाद एक्सप्रेस, रांची से योग नगरी ऋषिकेश एक्सप्रेस, रांची-वाराणसी जनशताब्दी एक्सप्रेस, रांची से जयपुर एक्सप्रेस और रांची से वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस को शुरू करने की मांग की गई है। इसके अलावा हटिया से रामेश्वरम, बेंगलुरु एवं हडपसर (पुणे), रांची से गुवाहाटी गरीब रथ एक्सप्रेस आदि ट्रेनों की भी मांग की है। रांची से गढ़वा रोड के लिए मेमू सेवाओं की भी मांग की है।अन्य मांगों में रांची चोपन एक्सप्रेस का विस्तार सिंगरौली तक, रांची वाराणसी एक्सप्रेस का विस्तार लखनऊ एवं गोरखपुर तक, झारखण्ड स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस का विस्तार जयपुर तक, रांची लोहरदगा मेमू का विस्तार बालूमाथ तक एवं हावड़ा पुणे दूरंतो एक्सप्रेस का विस्तार मडगांव तक शामिल हैं। इसके अलावा राउरकेला जगदलपुर एक्सप्रेस को सप्ताह में 2 दिन हटिया तक विस्तार, रांची हावड़ा इंटरसिटी को पूर्ववर्ती मार्ग वाया धनबाद, आसनसोल परिचालन एवं रांची कामाख्या एक्सप्रेस को पूर्व की भांति सप्ताह में दो दिन चलाने का भी आग्रह किया गया है। इसके साथ ही संतरागाछी हापा एक्सप्रेस का परिचालन एवं हटिया दुर्ग एक्सप्रेस का नियमितीकरण एवं पुनः संयोजन एवं हावड़ा टाटा स्टील एक्सप्रेस में इकानोमी थ्री टायर कोच लगाने की मांग की है। साथ ही टाटा-राउरकेला, टाटा-बालेश्वर वाया हिजली और टाटा पुरुलिया मेमू ट्रेन शुरू करने की मांग की गई है।

इन सुविधाओं को भी शुरू करने की हुई है मांग

1. टाटीसिल्वे स्टेशन पर कोचिंग यार्ड की स्थापना।

2. लोहरदगा स्टेशन पर वाशिंग पिट की सुविधा।

3. ट्रेनों में पार्सल डिब्बों का संयोजन।

4. करंट रिजर्वेशन में सुधार हो।

5. मेसरा बरकाकाना रेलखंड को दक्षिण पूर्व रेलवे की परिसीमा में लाना।

6. सांतरागाछी अजमेर एक्सप्रेस व हावड़ा भोपाल एक्सप्रेस का लोहरदगा-टोरी मार्ग से परिचालन।

7. टाटा एर्नाकुलम एक्सप्रेस और टाटा थावे एक्सप्रेस के समय सारणी में परिवर्तन।

8. टाटानगर आनंद विहार एक्सप्रेस एवं टाटानगर बेंगलुरु एक्सप्रेस नई ट्रेन शुरू करने की मांग

9.बिना पैंट्रीकार वाली कुछ ट्रेनों में मिनी पैंट्री की व्यवस्था करने हेतु।

Edited By Rakesh Ranjan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept