This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

किसानों का छूटा रहा पसीना, सब्जी बना पशुओं का चारा

कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर प्रशासन की ओर से ग्रामीण क्षेत्र के सप्ताहिक बाजार बंद होने से किसान बेहाल हो गए। खेतों में उपजे सब्जी पशुओं का निवाला बन कर रह गया। ज्यादातर सब्जी खेत मे ही बर्वाद हो रहा। बाजार में सब्जी नही बेच पाने के कारण किसानों में बेचैनी देखा जा रहा..

JagranWed, 28 Apr 2021 07:10 AM (IST)
किसानों का छूटा रहा पसीना, सब्जी बना पशुओं का चारा

संवाद सूत्र, गालूडीह : कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर प्रशासन की ओर से ग्रामीण क्षेत्र के साप्ताहिक बाजार बंद होने से किसान बेहाल हो गए। खेतों में उपजे सब्जी पशुओं का निवाला बन कर रह गया। ज्यादातर सब्जी खेत मे ही बर्बाद हो रहा। बाजार में सब्जी नही बेच पाने के कारण किसानों में बेचैनी देखा जा रहा। ग्रामीण क्षेत्र के साप्ताहिक हाट किसान सब्जी बेच कर आर्थिक उपार्जन करते है। इस संबंध में बड़ाखुर्शी पंचायत के गिधीबिल गांव के किसान जोगेन्द्र महतो, गिनेस हांसदा, कल्पना महतो, मनसा राम महतो ने बताया कि किसान खेत में सब्जी उगा कर परिवार का भरण पोषण करते है। साप्ताहिक बाजार हम किसानों के लिए काफी मायने रखता है। हाट में सब्जी बेच कर ही आर्थिक उपार्जन करते है, पर साप्ताहिक हाट पूरी तरह बंद होने से किसान अपना उपज कहां बेचेंगे। कर्ज लेकर दिनरात मेहनत कर मे सब्जी की खेती किए हाट बंद होने से हम छोटे किसान कहां जाए। खेत की सब्जी खेतों में ही बर्बाद हो रहा। अब तो हमारी मेहनत पशुओं का आहार बन कर रह गया। कोरोना संक्रमण से हमें भी बचना है पर बाजार बंद होने से संक्रमण कम नही होगा। किसानों ने कहा हम सभी ग्रामीण क्षेत्र के किसान सरकार से आग्रह करते है कि साप्ताहिक हाट में शारीरिक दूरी कर बैठने का अनुमति दे। नियमों का सभी पालन करेंगे। अन्यथा हमारे पास आत्म हत्या करने के सिवाय कोई उपाय नही है। केशरपुर में गुरुवार को नहीं लगेगा साप्ताहिक हाट : ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना संक्रमण नही फैले इसको लेकर प्रशासनिक अधिकारी जोर शोर से लगे है। गालूडीह के ग्रामीण क्षेत्र में साप्ताहिक हाट में भीड़ को देखते हुए वर्तमान समय मे प्रशासन की ओर से रोक लगाया जा रहा। बाघुड़िया पंचायत के केशरपुर गांव में प्रति गुरुवार को लगने वाला हाट को इंसीडेंट कमांडर राजीव कुमार के आदेश पर स्थगित कर दिया गया। हाट अगले आदेश तक नही लगाया जाएगा। इस संबंध में मुखिया हुडिग सोरेन ने बताया कि वर्तमान समय मे महामारी से सब को बचना होगा। बंगाल सीमा से सटा होने के कारण केशरपुर साप्ताहिक हाट में बंगाल से भी लोग आते है। इस लिए सभी की सुरक्षा को देखते हुए हाट नही लगाने फैसला प्रशासन की ओर से लिया गया है। पंचायत के सभी लोग इस मामले पर प्रशासन को सहयोग करेगा। लोगों की जानकारी के लिए बुधवार को लाउड स्पीकर से प्रचार-प्रसार किया जाएगा। हाट में कराया आंशिक लॉकडाउन का पालन : प्रखंड के केरुकोचा साप्ताहिक हाट परिसर में प्रशासनिक पदाधिकारियों ने मंगलवार को आंशिक लॉकडाउन का पालन सुनिश्चित कराया। चाकुलिया बीडीओ देवलाल उरांव, सीओ जयवंती देवगम तथा श्यामसुंदरपुर थाना प्रभारी काजल कुमार दुबे दल बल के साथ साप्ताहिक हाट परिसर पहुंचे। इस दौरान यहां सब्जी, अनाज एवं छूट वाली वस्तुओं को छोड़कर अन्य सभी दुकानों को खाली करा दिया गया। हाट परिसर में मौजूद लोगों से मास्क पहनने एवं शारीरिक दूरी का पालन करने की अपील की गई। अपराहन 4:30 बजे से चाकुलिया के नया बाजार एवं पुराना बाजार में बारी-बारी से प्रशासन ने मास्क जांच अभियान भी चलाया। इस दौरान बगैर मास के पकड़े जाने पर कुछ लोगों को उठक बैठक भी कराया गया।

Edited By Jagran

जमशेदपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner