This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Blood Donation Jamshedpur: चित्तो मुखर्जी व वीर शहीदों की स्मृति में 131 लोगों ने किया रक्तदान

Blood Donation Jamshedpur भारतीय रेडक्रास सोसाइटी पूर्वी सिंहभूम की ओर से शहर के समाजसेवी व स्वतंत्रता सेनानी चितरंजन उर्फ चित्तो मुखर्जी व वीर शहीदों की स्मृति में रक्तदान शिविर लगा जिसमें 131 यूनिट रक्तदान किया गया। ये रही पूरी जानकारी।

Rakesh RanjanFri, 09 Apr 2021 05:12 PM (IST)
Blood Donation Jamshedpur: चित्तो मुखर्जी व वीर शहीदों की स्मृति में 131 लोगों ने किया रक्तदान

जमशेदपुर, जासं। भारतीय रेडक्रास सोसाइटी, पूर्वी सिंहभूम की ओर से शहर के समाजसेवी व स्वतंत्रता सेनानी चितरंजन उर्फ चित्तो मुखर्जी व वीर शहीदों की स्मृति में रक्तदान शिविर लगा, जिसमें 131 यूनिट रक्तदान किया गया। साकची स्थित रेडक्रास भवन में लगे शिविर का उद्घाटन 100 फील्ड रेजीमेंट सोनारी के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल मोहित सहाय ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

इस मौके पर उनके साथ सोनारी आर्मी कैंप स्थित इसीएचएस क्लीनिक के आफिसर इंचार्ज ब्रिगेडियर पीके झा, शिविर संयोजक चित्तो मुखर्जी के पुत्र सुदीप्तो मुखर्जी, जिला परिषद के कार्यवाहक उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह, समाजसेवी वी. नटराजन, डा. संजय गिरि, रेडक्रास सोसाइटी व पूर्वी सिंहभूम के मानद सचिव विजय कुमार सिंह शामिल थे।

जमशेदपुर में रक्तदाताओं का जज्बा देखने लायक : कर्नल

इस अवसर पर अपने संबोधन में सोनारी आर्मी कैंप के कमांडिंग आफिसर कर्नल मोहित सहाय ने कहा कि जमशेदपुर में रक्तदाताओं और आयोजनकर्ताओं का जज्बा देखते लायक है। आज की परिस्थिति में जो भी रक्तदान कर रहे हैं, वे सही मायने में सेवा कर रहे हैं। लोगों का जीवन बचा रहे हैं। रेडक्रास सोसाइटी ओर यहां की अन्य संस्थाएं बेहतर कार्य कर रही हैं। राजकुमार सिंह ने कहा कि रेडक्रास ने रक्तदान के प्रति लोगों को काफी जागरूक कर दिया है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में यह जागरुकता कम है। विजय कुमार सिंह के प्रति आभार जताते हुए कहा कि आज इस जागरुकता के पीछे बीते 20-25 सालों की उनकी मेहनत है।

ये कहा सुदीप्तो मुखर्जी ने

सुदीप्तो मुखर्जी ने कहा कि मेरे लिए यह गर्व का विषय है कि आज मेरे पिता को नमन किया जा रहा है और उनकी स्मृति में यह रक्तदान शिविर प्रत्येक वर्ष की तरह आयोजित हो रहा है। देश के प्रति अपने कर्तव्य निर्वहन के साथ उन्होने सामाजिक कार्यों में एक मुकाम बनाया, वे एक नियमित रक्तदाता भी थे। उस समय जब रक्तदान के नाम से लोग डरते थे। रक्तदान एवं अन्य सामाजिक कार्यों से रेडक्रास इस शहर का लाइफलाइन बन गया है। शिविर का संचालन कर रहे विजय कुमार सिंह ने कहा कि कोविड-19 के लिए उपयुक्त प्लाज्मा दान के क्षेत्र में भी यह शहर झारखंड में सबसे अव्वल है। उन्होंने रेडक्रास के प्लाज्मा डोनेशन प्रभारी प्रभुनाथ सिंह का सम्मान पूर्व सैनिक सेवा परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष सुशील कुमार सिंह से कराया। इस अवसर पर समाज विज्ञानी व विचारक रवींद्रनाथ चौबे का सम्मान रेडक्रास कार्यकर्ता श्याम कुमार ने पुष्प गुच्छ एवं शॉल ओढ़ाकर किया।

इनकी रही उपस्थिति

रक्तदान शिविर को सफल बनाने में पूर्व सैनिक सेवा परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष सुशील कुमार सिंह के साथ डा. कमल शुक्ला, राजीव रंजन, ब्रजकिशोर सिंह, दिनेश सिंह, राजदेव सिंह, रमेश सिंह, सतनाम सिंह, अशोक श्रीवास्तव, हंसराज सिंह, बलराम पसारी, जावेद हुसैन, मनोज ठाकुर, मिथिलेश कुमार, अशोक शर्मा के साथ कई पूर्व सैनिक कार्यक्रम की सफलता के लिए जुटे थे। कार्यक्रम के दौरान लायं क्लब ऑफ जमशेदपुर नार्थ से नलिनी मुखर्जी, राजीव रंजन, आइ मीनाक्षी, श्रीनिवास राव, रवि सरावगी, अल्पना भट्टाचार्य, राम मनोहर लोहिया नेत्रालय के अध्यक्ष बालमुकुंद गोयल, रेडक्रास के पैट्रन दीपक भालोटिया, दीपक मित्रा, डा. टीबी दत्ता, डीके घोष, शांता अधिकारी भी उपस्थित थे। जमशेदपुर ब्लड बैंक की टीम ने रक्त संग्रहण का कार्य किया। इस शिविर के समापन के साथ ही रेडक्रास के मानद सचिव विजय कुमार सिंह ने आठ मई को विश्व रेडक्रास दिवस के लिए आवश्यक तैयारियों की घोषणा की।

Edited By: Rakesh Ranjan

जमशेदपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!