Bahragora Accident: एनएच 49 पर कार एवं ट्रक की सीधी टक्कर, कार चालक की मौत, दो घायल

Bahragora Accident हादसे में कार के चालक सह सीएसआरएल इंडिया कंपनी लिमिटेड के अधिकारी ने घटनास्थल पर ही दम तोड दिया जबकि पदाधिकारी की पत्नी गंभीर रूप से हुई घायल हो गयी। उसके बेटे काे भी चोट लगी है।

Rakesh RanjanPublish: Sun, 05 Dec 2021 05:40 PM (IST)Updated: Sun, 05 Dec 2021 05:40 PM (IST)
Bahragora Accident: एनएच 49 पर कार एवं ट्रक की सीधी टक्कर, कार चालक की मौत, दो घायल

बहरागोड़ा, जागरण संवाददाता। झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के बहरागोडा प्रखंड के माटिहाना गुरुद्वारा के समक्ष राष्ट्रीय उच्च पथ 49 पर कोलकाता से जमशेदपुर की ओर जा रही कार संख्या डब्ल्यूबी02 एके 8274 को गलत दिशा में बहरागोड़ा से कोलकाता की ओर जा रहे ट्रक ने सीधी टक्कर ट्रक मार दी। कार 200 मीटर घसीट गयी। हादसे में कार के चालक सह सीएसआरएल इंडिया कंपनी लिमिटेड के अधिकारी ने घटनास्थल पर ही दम तोड दिया जबकि पदाधिकारी की पत्नी गंभीर रूप से हुई घायल हो गयी। उसके बेटे काे भी चोट लगी है।

घटना की सूचना स्थानीय लोगों ने तत्काल बहरागोड़ा पुलिस को दी। बहरागोड़ा पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को आधे घंटे की मशक्कत के बाद कार से निकाला।  गंभीर रूप से घायलों को 108 एंबुलेंस के माध्यम से बहरागोड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए दाखिला कराया जहां से गंभीर रूप से घायल महिला को जमशेदपुर टीएमएच रेफर कर दिया गया है। कोलकाता में स्थित सीएसआरएल इंडिया कंपनी लिमिटेड में कार्यरत अधिकारी अर्णव कोनार 38 उम्र अपनी पत्नी जलपाईगुड़ी कॉलेज की प्रोफेसर भारती घोष 29 उम्र एवं उनके पुत्र अंजिष्णु कोनार 4 साल के साथ सीएसआरएल इंडिया कंपनी लिमिटेड की कार से जमशेदपुर अपने एक संबंधी के यहां शादी समारोह में भाग लेने के लिए जा रहे थे । अरनव कोनार खुद ड्राइव कर रहे थे। वे कोलकाता से जमशेदपुर की तरफ अपनी सही दिशा में आ रहे थे। उड़ीसा से कोलकाता की ओर जा रही मिट्टी गाड़ी गलत दिशा में जाने के दौरान कार और ट्रक में सीधी भिड़ंत गुरुद्वारा के सामने राष्ट्रीय उच्च पथ पर हो गई। जिससे ट्रक कार को घसीटते हुए 200 मीटर तक ले गया तथा सड़क पर ही गिरा पड़ा। इसी दौरान दौरान ट्रक के चालक एवं खलासी ट्रक से छलांग मार कर भागने में सफल हो गए।

घायलों को कार से निकालने में लगा आधा घंटा

पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर तत्काल सीएसआरएल इंडिया कंपनी लिमिटेड के अधिकारी अर्णव कोनार के पत्नी जलपाईगुड़ी कॉलेज की प्रोफेसर स्वाति घोष एवं उनके पुत्र को तत्काल बहरागोड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए दाखिला कराया जहां चिकित्सक प्रिंस पिंगुआ ने गंभीर रूप से घायल स्वाति घोष को जमशेदपुर टीएमएच रेफर कर दिया। वहीं अर्णव कोनार को कार के अंदर इस तरह से फंसे हुए थे कि क्रेन के माध्यम से कार को सीधा कर उसके अंदर से अर्णव कोनार को निकाला गया जिसमें आधे घंटे का समय लगा।

उड़ीसा से कोलकाता की ओर गलत दिशा में क्यों जा रहा था ट्रक

राष्ट्रीय उच्च पथ 18 एवं 49 का निर्माण करने वाली दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के अधिकारियों की लापरवाही तथा गलत निर्णय पर ट्रक को गलत दिशा में कोलकाता की ओर जाना पड़ रहा था। आपको यह बता दें कि उड़ीसा से जो भी वाहन कोलकाता जाता है वह ओवर ब्रिज के नीचे बाईपास सड़क पर जाकर बाला एंड सोंग्स के सामने बाईपास से मुख्य सड़क पर गलत दिशा में उठकर ही कोलकाता के मुख्य सड़क को पकड़ते हैं जो कि पूरा पूरी गलत दिशा है। यह ट्रक भी उड़ीसा से आकर दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के द्वारा जहां पर बाईपास से मुख्य सड़क पर कटिंग करके जोड़ने का मुख्य सड़क में उठने का रास्ता बनाया गया है उसी जगह पर इस ट्रक ने उठा था तथा गलत दिशा में वह माटिहाना ओवरब्रिज पार कर रहा था। इसी बीच सही दिशा में आ रही कार को माटिहाना गुरुद्वारा के सामने चपेट में ले लिया तथा घसीटते हुए उसे फेंक दिया। इसकी सारी जवाबदेही एनएचएआई एवं दिलीप बिल्डकॉन कंपनी को जाती है। घटना की सूचना कंपनी के अधिकारियों को दे दी गई है। साथ ही कंपनी के लोग तथा उनके घर के लोग भी अस्पताल में पहुंच रहे हैं।

Edited By Rakesh Ranjan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept