Air India Acquisition : टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने एयर इंडिया कर्मचारियों को लिखा भावुक पत्र, आप भी पढ़िए...

Air India Acquisition 69 साल के बाद एक बार फिर एयर इंडिया की घर वापसी हो गई। टाटा समूह ने 27 जनवरी को आधिकारिक तौर पर इसका अधिग्रहण कर लिया। इस मौके पर टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने एटर इंडिया के कर्मचारियों को भावुक पत्र लिखा है...

Jitendra SinghPublish: Sat, 29 Jan 2022 09:10 AM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 09:10 AM (IST)
Air India Acquisition : टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने एयर इंडिया कर्मचारियों को लिखा भावुक पत्र, आप भी पढ़िए...

जमशेदपुर, जासं। एयर इंडिया का आधिकारिक अधिग्रहण करने के बाद टाटा संस के चेयरमैन ने कर्मचारियों को भावपूर्ण पत्र लिखा। एयर इंडिया फैमिली के सदस्यों को संबोधित करते हुए चंद्रशेखरन ने कहा कि एयर इंडिया का स्वर्ण युग आने वाला है। उन्होंने कहा कि टाटा समूह के जेआरडी टाटा ने 1932 में टाटा एयरलाइंस की स्थापना की थी। एक बार फिर हमारी यात्रा शुरू होती है। इस यात्रा में साथ चलने के लिए आप सभी का तहे दिल से स्वागत करता हूं।

अतीत को संजोने से पहले निरंतर परिवर्तन जरूरी

टाटा संस के चेयरमैन ने आगे लिखा कि मैंने यह सीखा है कि अतीत को संजोकर रखना चाहिए, लेकिन इसके लिए निरंतर परिवर्तन की आवश्यकता है। इस गौरवशाली इतिहास को संजोकर रखने के लिए हमें भविष्य को विकसित करने, अपनाने और गले लगाने की जरूरत है।

तभी हम स्वर्णिम इतिहास को सम्मान दे पाएंगे। पूरे देश की निगाहें हम पर हैं, यह देखने के लिए कि क्या हम एक साथ हासिल कर सकते हैं। हमारे देश को जिस एयरलाइन की जरूरत है, उसके निर्माण के लिए हमें भविष्य की ओर देखने की जरूरत है। टाटा संस के चेयरमैन ने इससे पहले दिन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

टाटा के पास अब तीन विमानन कंपनी

टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड ने स्पाइसजेट के प्रमुख अजय सिंह के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम को पछाड़ने के बाद एयर इंडिया को 18,000 करोड़ में खरीदा। निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग के सचिव तुहिन कांता पांडे ने कहा कि अब, नए मालिक (एयरलाइन के) टैलेस हैं। एयर इंडिया टाटा के तरकश में तीसरा एयरलाइन ब्रांड है।

इसकी एयर एशिया इंडिया और सिंगापुर एयरलाइंस लिमिटेड के साथ एक संयुक्त उद्यम विस्तारा में हिस्सेदारी है। टाटा संस के चेयरमैन एमेरिटस रतन टाटा ने पिछले साल अक्टूबर में समूह की बोली जीतने के बाद कहा था। आरडी टाटा के नेतृत्व में एयर इंडिया ने एक समय में दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित एयरलाइन में शामिल था। टाटा के पास उस छवि और प्रतिष्ठा को फिर से हासिल करने का अवसर होगा जिसका उसने आनंद लिया था।

टाटा संस के साथ सौदे में सरकार द्वारा ग्राउंड हैंडलिंग आर्म एयर इंडिया-सैट्स और एयर इंडिया एक्सप्रेस की 50 प्रतिशत की बिक्री भी शामिल है। लेन-देन में भूमि और भवन सहित गैर-प्रमुख संपत्तियां शामिल नहीं हैं, जिनका मूल्य 14,718 करोड़ है, जिन्हें सरकार की होल्डिंग कंपनी एआईएएचएल को हस्तांतरित किया जाना है।

Edited By Jitendra Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम