चयकला में तनाव, मारपीट में घायल की रांची में मौत

पुलिस ने मुखिया सहित चार को किया गिरफ्तार क्रिकेट को लेकर हुई थी झड़प संवाद सूत्र च

JagranPublish: Thu, 27 Jan 2022 09:14 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 09:14 PM (IST)
चयकला में तनाव, मारपीट में घायल की रांची में मौत

पुलिस ने मुखिया सहित चार को किया गिरफ्तार क्रिकेट को लेकर हुई थी झड़प संवाद सूत्र चौपारण (हजारीबाग): प्रखंड के मुस्लिम बाहुल्य चयकला में तनाव है। दर असल बीते दिनों मारपीट में घायल मजहरउदीन शाह की मौत रांची में इलाज के दौरान हो गई। इसके बाद तेजी से बदले घटनाक्रम में पुलिस ने मुखिया सफाउदीन समेत तीन को हिरासत में लेकर केंद्रीय कारा भेज दिया। क्या था मामला-

कुछ दिन पूर्व क्रिकेट को लेकर आरंभ हुई विवाद झड़प में बदल गई। दो पक्षों के बीच विवाद हो गया और परंपरागत रूप लेकर दोनों गुटों के तरफ से लाठी-डंडे और पथराव होने लगा। इसमें कई लोग घायल हो गये। घायलों का इलाज सामुदायिक अस्पताल चौपारण में किया गया। इसमें गंभीररूप से घायल मजहरुद्दीन शाह पिता शेखावत शाह को बेहतर इलाज के लिए हजारीबाग रेफर कर दिया गया था। वहां से चिकित्सकों ने रांची रेफर कर दिया। मजहरुद्दीन शाह की इलाज के दौरान बुधवार को रांची में मौत हो गया। मौत की खबर आते ही गांव में तनाव हो गया। इस पर बरही डीएसपी नाजिर अख्तर ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी मुखिया सह प्रधान सफालउद्दीन निजामी, मो जफर इकबाल उर्फ बुल्लू , मो समर इकबाल उर्फ गागा एवं मो अदनान उर्फ मैना को गिरफ्तार कर केंद्रीय कारा भेज दिया। इसके पहले लड़ाई होने पर दोनों पक्षों ने थाने में लिखित आवेदन दिया। जिसमें एक पक्ष ने मुखिया सह प्रधान सफालउद्दीन निजामी सहित 30 नामजद आरोपी बनाया। वही दूसरे पक्ष ने 5 नामजद सहित 50 अज्ञात को आरोपी बना कर आवेदन दिए जिस पर मामला दर्ज हुआ।

चैय में पुलिस भी हुई है उग्रता की शिकार- एक माह पूर्व नाली में बच्चे के गिर जाने को लेकर विवाद होने पर दोनों तरफ से पथराव हुआ था। मामला को शांत करने के लिए चौपारण थाने से दो एएसआइ के नेतृत्व में पुलिस बल को भेजा गया। जिसमें कुछ लोगों ने पुलिस को ही निशाना बना कर पथराव कर दिया। इस पथराव के कारण पुलिस वाहन व पुलिस कर्मी घायल हो गए। इसमें एएसआई गणेश हांसदा, अजय कुमार मिश्रा, चौकीदार सह चालक रवि कुमार पासवान, पुलिस जवान नेमत खान, पप्पू कुमार महतो, दिलेश्वर कुमार, जितेंद्र सोरेन, मृत्युंजय महतो, भूदेव मांझी घायल हो गए। पुलिस ने मामले को शांत करने के ध्येय से किसी पर कार्रवाई नहीं की। इन सबसे लोगों का मनोबल बढ़ता जा रहा है। विधायक पहुंचे मृतक के घर:

इधर रांची से मृतक के परिजनों व ग्रामीणों से मिलने विधायक उमाशंकर अकेला पहुंचे। घटना की निदा करते हुए आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept