महत्वपूर्ण योजनाओं का करें चयन : मंत्री

लीड------------- डा.रामेश्वर उरांव ने अधिकारियों संग की बैठक विकास पर दिया जोर जागरण संवाद

JagranPublish: Sat, 22 Jan 2022 07:50 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 07:50 PM (IST)
महत्वपूर्ण योजनाओं का करें चयन : मंत्री

लीड-------------

डा.रामेश्वर उरांव ने अधिकारियों संग की बैठक, विकास पर दिया जोर

जागरण संवाददाता, गुमला : मंत्री सह अध्यक्ष जिला योजना समिति डा.रामेश्वर उरांव की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में शनिवार को की गई। बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की गई। मंत्री ने विकास कार्यो में तेजी लाने व प्राथमिकता तय करने को कहा।

बैठक में उप विकास आयुक्त कर्ण सत्यार्थी ने जिला योजना समिति की गत बैठक की कार्यवाही तथा कंडिकावार मामलों का अनुपालन, समिति के समक्ष पढ़कर सुनाया गया। जिसपर परिचर्चा उपरांत मंत्री द्वारा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। कार्यपालक अभियंता पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल को प्राथमिक विद्यालय रेकमा में विद्यालय से 150 फीट की दूरी पर अवस्थित चापाकल से पाइपलाइन के द्वारा पेयजल व्यवस्था सु²ढ़ करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन पेयजल व्यवस्था नहीं हो पाने के कारण पुन: प्राथमिक विद्यालय रेकमा में जलापूर्ति की व्यवस्था बहाल करने हेतु जल जीवन मिशन अंतर्गत रेकमा ग्राम का प्राक्कलन तैयार कर अधीक्षण अभियंता पीएचईडी गुमला से प्रतिहस्ताक्षरित कर मुख्यालय को समर्पित किया गया। उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा द्वारा बताया गया कि जल जीवन मिशन अंतर्गत जिले से लगभग 3000 योजनाओं के प्राक्कलन भेजे गए हैं, जिसमें से लगभग 800-900 योजनाओं की स्वीकृति हो चुकी है, शेष में विभागीय कार्रवाई प्रक्रिया प्रारंभ है। इसपर डॉ.रामेश्वर उरांव ने शेष योजनाओं के स्वीकृति हेतु उनकी जानकारी उपलब्ध कराने पर बल देते हुए विभाग से समन्वय स्थापित कर शेष योजनाओं की स्वीकृति यथाशीघ्र प्रदान किए जाने की बात कही। बैठक में रायडीह प्रखंडांतर्गत स्थित लसड़ा पथ के मरम्मती हेतु कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल द्वारा संवेदक को मौखिक एवं लिखित रूप से कई बार कहा गया, कितु इसके बावजूद कार्य संतोषजनक नहीं पाया गया। बैठक में जिला योजना अनाबद्ध निधि से योजनाओं की स्वीकृति एवं कार्यान्वयन हेतु प्राप्त मार्गनिर्देशिका पर परिचर्चा की गई। जिसपर जिला योजना पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष जिला योजना समिति से अनुमोदन हेतु 24 करोड़ 72 लाख के अनुमानित राशि की कुल 139 प्रस्तावित योजनाओं की सूची प्राप्त की गई है। अवशेष राशि 03 करोड़ 75 लाख की योजनाओं का चयन किया जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept