This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बच्चियों के पोषण को देनी है प्राथमिकता

-समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत डालसा का जागरूकता शिविर संवाद सहयोगी, गढ़वा: सदर प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित प्रशिक्षण भवन के सभागार में शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकार ने समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत जागरुकता शिविर का आयोजन किया। इसमें बड़ी संख्या में आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, स्वास्थ्य सहिया के अलावा प्रखंडकर्मी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे। मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव राजेश श्रीवास्तव उपस्थित ने दीप प्रज्ज्वलित कर शिविर का उद्घाटन किया। मौके पर राजेश श्रीवास्तव ने कहा कि समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत 1

JagranSat, 17 Nov 2018 06:19 PM (IST)
बच्चियों के पोषण को देनी है प्राथमिकता

गढ़वा: सदर प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित प्रशिक्षण भवन के सभागार में शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकार ने समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत जागरुकता शिविर का आयोजन किया। इसमें बड़ी संख्या में आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, स्वास्थ्य सहिया के अलावा प्रखंडकर्मी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे। मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव राजेश श्रीवास्तव उपस्थित ने दीप प्रज्ज्वलित कर शिविर का उद्घाटन किया। मौके पर राजेश श्रीवास्तव ने कहा कि समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत 18 वर्ष से कम उम्र के अनाथ बच्चों के साथ ही गरीब परिवार के बच्चों को पोषण, चिकित्सा व शिक्षा की व्यवस्था किया जाना है। उन्होंने कहा कि इस योजना में अनाथ बच्चों के लिए फोस्टर केयर के तहत उन्हें पुनर्वासित कर शिक्षा, पोषण आदि की व्यवस्था करना है। उन्होंने कहा कि वहीं स्पॉन्सरशीप योजना के तहत गरीब परिवार को चिन्हित कर अधिक से अधिक उनके तीन बच्चों को तीन वर्ष तक प्रति माह दो हजार रुपए दिया जाना है। इस अवधि में उन बच्चों के विद्यालय जाने, स्वास्थ्य आदि पर निगरानी रखी जानी है। उन्होंने कहा कि इस योजना में बच्चियों को प्राथमिकता देनी है। शिविर में जिला बाल संरक्षण इकाई के अशोक नायक ने कहा कि स्पॉन्सरशीप योजना में वैसे परिवार के बच्चे शामिल होंगे, जिनकी वार्षिक आय 75 हजार रुपए से कम हो। उन्होंने कहा कि योजना के तहत नामित होने के बाद बच्चे व उसकी माता के नाम से बैंक में संयुक्त खाता में ही प्रतिमाह पोषण के लिए राशि भेजी जाएगी। सीडब्ल्यूसी के चेयरमैन उपेंद्र नाथ दूबे, एनजीओ सृजन फाउंडेशन के रोबिन मन्ना समेत कई अन्य लोगों ने विचार व्यक्त किए। इससे पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी जागो महतो ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम का संचालन पीएलवी मुरली श्याम तिवारी ने किया। मौके पर सीएचसी गढ़वा के प्रभारी डॉ दिनेश कुमार ¨सह, स्वास्थ्यकर्मी उपेंद्रनाथ चौबे, पीएलवी उमाकांत द्विवेदी, कलामुद्दीन, बीटीटी आशा शर्मा, शिक्षक नेता सुनील कुमार दूबे, देवेंद्र नाथ तिवारी, पंचायत सचिव विनोद गुप्ता समेत कई अन्य लोग उपस्थित थे। - फोस्टर केयर व स्पॉन्सरशीप कमेटी में ये हैं शामिल

समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत फोस्टर केयर कमेटी में अधिवक्ता राकेश शुक्ला, एनजीओ प्रतिनिधि सारिका ¨सह, पीएलवी गुरुदेव विश्वकर्मा, सेवानिवृत शिक्षक ब्रज मोहन मिश्र व इंटरमीडिएट के छात्र अजीत कुमार चौधरी शामिल हैं। वहीं स्पॉन्सरशीप कमेटी में अधिवक्ता दिग्विजय ¨सह, एनजीओ प्रतिनिधि रोबिन मन्ना, पीएलवी कलामुद्दीन, सेवानिवृत शिक्षक उदयचंद तिवारी व छात्र प्रेमकुमार चौधरी शामिल हैं।

गढ़वा में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!