नावागढ़ में जर्जर अवस्था मे लगे सोलर फाइवर पानी टंकी बुधवार को अचानक फट गई

फुलारीटांड पंचायत के नावागढ़ में जर्जर अवस्था मे लगे सोलर फाइवर पानी टंकी बुधवार को अचानक फट गई जिससे झंडोतोलन के लिए खड़े दर्जनों लोग बाल बाल बच गए जबकि पास के राशन दुकान का शोकेस का शीशा टूट कर बिखर गया ।

Atul SinghPublish: Thu, 27 Jan 2022 05:57 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 05:57 PM (IST)
नावागढ़ में जर्जर अवस्था मे लगे सोलर फाइवर पानी टंकी बुधवार को अचानक फट गई

संवाद सहयोगी, नावागढ़: फुलारीटांड पंचायत के नावागढ़ में जर्जर अवस्था मे लगे सोलर फाइवर पानी टंकी बुधवार को अचानक फट गई जिससे झंडोतोलन के लिए खड़े दर्जनों लोग बाल बाल बच गए जबकि पास के राशन दुकान का शोकेस का शीशा टूट कर बिखर गया और हजारों रुपये का सामान का नुकसान हो गया। बाद में दर्जनों की संख्या में स्थानीय महिला पुरुष मौके पर पहुंचकर स्थानीय प्रधान के बिरुद्ध उग्र हो गए।घटना को लेकर कहा जा रहा है कि गणतंत्र दिवस के मौके पर पानी टंकी के समीप ही तैयारी में लगे हुए थे।

जबकि पास के राशन व चाय दुकान पर भी कई लोग मौजूद थे कि इसी बीच दो हजार लीटर का सोलर पानी टंकी फट गया जिसके तेज फौबारे से राशन दुकान के आगे रखे शोकेस का शीशा टूटकर बिखर गया और पानी दुकान के अंदर घुस गया जिससे दुकान में रखे कीमती सामग्रीयों का भारी नुकसान हो गया।इस दरमियान पास में खड़े कई लोग बाल बाल बच गए।

इस संबंध में स्थानीय महिलाओं ने बताया कि प्रधान के द्वारा सिंगल लेयर की पुरानी और जर्जर हालत टंकी को पेंट करके लगाया गया है।लगाया गया था जिसमें महीनों से पानी लीकेज हो रही थी और उसमे एमसील चिपकाकर काम चलाया जा रहा था।इस संबंध में राशन दुकानदार राजू केसरी व संजय केशरी ने बताया कि उक्त घटना में उसे 20 हजार रुपए की क्षति पहुंची है जिसकी क्षति पूर्ति फुलारीटांड पंचायत प्रधान को करना होगा। ग्रामीणों ने टंकी लगने के समय ही मुखिया दिलीप विष्वकर्मा को पुरानी टंकी लगाने पर आपत्ति जताई थी।

पूरे पंचायत में सोलर टंकी करीब 25 स्थानों व अलग़ अलग वार्ड में लगा हुआ है जहां कभी भी कोई अप्रिय घटना घटित हो सकती है। अगर जांच कर सभी जगह की टंकी नही बदली गई तो जान माल को क्षति पहुँच सकती है।उन्होंने कहा कि पूरी तरह से सरकारी राशि का दुरुपयोग हुआ है जिससे पूरे ग्रामीणों में आक्रोश ब्याप्त है।प्रशासन से मांग करते हुए कहा है कि घटना की जांच कर उचित कार्यवाही कर सरकारी पैसे के बंदरबाट को रोका जाए।

Edited By Atul Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम